• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • सफारी पार्क पहुंचने वालों की कारों को बैबून ​हथियारों से पहुंचा रहे नुकसान

सफारी पार्क पहुंचने वालों की कारों को बैबून ​हथियारों से पहुंचा रहे नुकसान

ब्रिटेन के एक सफारी पार्क का नजारा है.

ब्रिटेन के एक सफारी पार्क का नजारा है.

ब्रिटेन में मर्सीसाइड के नोज़ली सफारी पार्क में पशुकर्मियों का मानना ​​है पार्क में घूमने आने वाले कुछ लोग बैबून (Baboons) को चाकू (Knifes) , पेचकस और आरी जैसे उपकरण पकड़ा रहे हैं.

  • Share this:
    लंदन. ब्रिटेन की राजधानी लंदर के उत्तर भाग में मर्सीसाइड के नोज़ली सफारी पार्क (Safari Park in Merseyside) में पशुकर्मियों का मानना ​​है पार्क में घूमने आने वाले कुछ लोग बैबून (बंदरों की एक प्रजाति)  को चाकू (Knifes) , पेचकस और आरी जैसे उपकरण पकड़ा रहे हैं. नतीजा यह हो रहा है कि ये के बैबून (Baboons) इन उपकरणों को हथियार (Weapons) बनाकर वहां खड़ी कारों पर कहर बरपा रहे हैं. नोज़ली सफारी पार्क में बबून आगंतुकों की कारों से विंडस्क्रीन वाइपर और विंग मिरर को खींच कर निकाल देने के लिए बदनाम हैं. लेकिन पार्क में काम कर रहे कर्मियों का कहना है कि यहाँ सफारी पार्क में आने वाले कुछ शरारती लोग सिर्फ हँसने के लिए इस नुकसान को और बड़ा करवाना चाहते हैं इसलिए इन बंदरों के हाथ में उन्होंने इस तरह के हथियार दे दिए हैं.

    रजिस्ट्रेशन प्लेट तक उखाड़ कर ले जाते हैं बंदर

    एक मैकेनिक ने बताया कि इस साल उसके पास ऐसे दो ग्राहक आये जो उन बबून के शिकार बन गए थे. उसने बताया कि बच्चे सफारी पार्क पहुँचते ही इस बात के लिए शोर मचाने लगते हैं कि उनकी गाड़ी के आगे पीछे ऊपर नीचे हर जगह बंदर ही बंदर आ गए. उसके बाद बंदर गाड़ी की हालत ऐसी कर देते हैं कि आपको बिना रजिस्ट्रशन प्लेट के गाडी वापस लेकर लौटना पड़ता हैं.

    सफारी पार्क के प्रबंधन ने इसे अफवाह बताया

    एक पार्ककर्मी बंदरों के हाथ में खतरनाक, पैने और नुकीले हथियारों को देखकर बहुत आश्चर्यचकित हो गया. वह इस बात पर हैरान था कि क्या ये हथियार लोगों ने बंदरों को दिए थे या बंदरों ने उनकी गाड़ी से निकाल लिए थे. एक अन्य कर्मी ने भी शक जताया कि यहाँ आने वाले लोगों में से ही कुछ लोग बंदरों को ये सब हथियार या उपकरण दे रहे हैं. इस सबके बावजूद सफारी पार्क के अधिकारियों ने इसे सिर्फ अफवाह बताया और कहा कि बबूनों ने हथियार कहां से हासिल किए थे. पार्क प्रबंधन का मानना ​​है कि उनके जानवरों के हथियार बंद होने के किस्से मिथकों से ज्यादा कुछ नहीं है. कोरोनोवायरस लॉकडाउन के बाद सरकार ने 15 जून से फिर से इस पार्क को आगंतुकों के लिए खोल दिया है.

    ये भी पढ़ें : दक्षिण चीन सागर पर चीन के दावों पर भड़का अमेरिका, कहा-यहा उसका साम्राज्य नहीं

    डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ उबल रहा है अमेरिका, इन शहरों में हुए जोरदार प्रदर्शन

    550 एकड़ के इस सफारी पार्क के अधिकारियों ने यह तर्क दिया है कि क्योंकि इस सफारी में मेहमान अपनी कारों को छोड़ कर बाहर नहीं निकलते इसलिए उनका पार्क भी मैकडॉनल्ड्स ड्राइव थ्रू के समान सुरक्षित है और यहाँ किसी को कोई खतरा नहीं है

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज