अपना शहर चुनें

States

दुल्हन ने बच्चों के साथ आए जोड़े को बैरंग लौटाया, यह है वजह

तस्वीर-:weddingbells/Instagram
तस्वीर-:weddingbells/Instagram

दुल्हन ने रेडिट फोरम पर एक पोस्ट की है है. दुल्हन ने रेडिट फोरम पर जो लिखा है उसे आप यहां पूरा पढ़ सकते हैं-

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 23, 2018, 5:01 PM IST
  • Share this:
अक्सर शादियों में दुल्हा-दुल्हन के अलावा अगर लोगों का किसी पर खास ध्यान होता है तो वह है बच्चे लेकिन एक शादी ऐसी भी थी जिसमें मेहमानों से कहा गया था कि वह बच्चे लेकर न आएं. हालांकि एक जोड़ा अपने बच्चों को लेकर आ गया. इस वाकये पर दुल्हन ने रेडिट फोरम पर एक पोस्ट की है है. दुल्हन ने रेडिट फोरम पर जो लिखा है उसे आप यहां पूरा पढ़ सकते हैं-

मैंने शादी के लिए भेजे सभी निमंत्रणों में साफ कहा था कि शादी में कोई बच्चा नहीं होगा लेकिन एक जोड़ा अपने बच्चे के साथ आ गया. इस जोड़े से मैं बहुत ज्यादा परिचित नहीं थी लेकिन वह पत्नी के फैमिली फ्रेंड थे, ऐसे में मैंने सोचा कि उन्हें आमंत्रित करते हैं. लेकिन वह और उनके पति बच्चे के साथ आए, जिनकी उम्र तीन से चार साल रही होगी.

वेडिंग सेरमनी के मौके पर मुझे लगा कि हो सकता है कि कार्यक्रम शुरू होने के पहले कोई बच्चों को रिसीव करने आ जाएगा. (मेरी भतीजी समेत कुछ अन्य बच्चों को भी शादी के कार्यक्रम के पहले कार्यक्रम स्थल से रवाना कर दिया और शादी खत्म होने के बाद वह वापस आ गए.)



यह भी पढ़ें:  Video : ड्राइवर को आई झपकी, 20 फीट उठी और सुरंग के ऊपरी हिस्से से जा टकराई गाड़ी
खैर, रिसेप्शन के दौरान जोड़ा आया और उनके साथ बच्चा भी था. मेरे कई मेहमान आए थे और मैं खुद इस बारे में बात नहीं करना चाहती थी. ऐसे में मैंने इवेंट प्लानर से कहा कि वह जाकर जोड़े से पूछे कि क्या रिस्पेशन और शादी के पहले उनके बच्चों को कोई रिसीव करने आ रहा है.

मेरा मानना था कि अधिकतर वहां लोग नशे में थे और मैं वहां कोई रोता और दौड़ता हुआ बच्चा नहीं चाहती था. जोड़े का नवजात बच्चे को शादी के दौरान एक बार घबराहट के कारण बाहर ले जाया गया. उनके दूसरा बच्चा भी मुझे चिड़चिड़ा दिख रहा था.

मेरा इवेंट प्लानर , जोड़े के पास गया. वह उससे बहस करने लगे. फिर मैं गई . ऐसे में जोडे़ को लगा कि मैं बीचबचाव करने आ रही हूं. मैंने जोड़े को बताया कि खुद मैंने इवेंट प्लानर को उनसे बात करने के लिए भेजा है. मैंने दोहराया कि इस शादी में बच्चों को नहीं होना था और यह निमंत्रण पर स्पष्ट लिखा है.
पत्नी ने माफी मांगी और कहा कि वह खुद अपने बच्चों का ख्याल रखने में सक्षम है और कोई घटना नहीं होगा. मैंने कहा वास्तव में यह कोई मुद्दा नहीं है. इसके बाद जोड़े और मुझमें तीखी बहस हो गई.

यह भी पढ़ें: सुषमा स्वराज के इस ट्वीट पर चकराए सोशल मीडिया यूजर्स

आखिर में मैंने उन्हें डांट दिया और मैंने कहा कि वह चाहे तो जा सकते हैं. शुक्र है कि वह बिना और कोई बहस किए चले गए. वह पूरा घटनाक्रम काफी शर्मनाक था जिसमें मैं नहीं उलझना चाहती थी. मैं नहीं चाहताीकि मेरी शादी के दिन के बारे में जिक्र हो तो इस घटना का जिक्र है. मेरी मां के अनुसार, हर कोई इसके बारे में बात कर रहा था.

शख्स की ओर रेडिट फोरम पर लिखी पोस्ट के बाद एक ओर तो जहां कुछ लोगों ने उसका समर्थन किया तो कुछ ने कहा कि यह गलत था. एक रेडिट यूजर ने पोस्ट पर कमेंट किया कि कुछ लोगों सभ्यता की भाषा नहीं समझते. वहीं दूसरे ने लिखा कि जब आपने निमंत्रण में इसका जिक्र कर दिया कि बच्चों को नहीं लाना है तो जोड़े ने गलती की.

यह भी पढ़ें: जेट से भी तेज रफ्तार से आती है सुनामी
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज