बांग्लादेश कोर्ट का आदेश, मैरेज सर्टिफिकेट से हटाएं 'वर्जिन' शब्द

News18Hindi
Updated: August 27, 2019, 9:18 AM IST
बांग्लादेश कोर्ट का आदेश, मैरेज सर्टिफिकेट से हटाएं 'वर्जिन' शब्द
बांग्लादेश सरकार को मैरेज सर्टिफिकेट में बदलाव करने के लिए दो महीने का वक्त दिया गया है.

बांग्लादेश सरकार (Bangladesh Government) को मैरेज सर्टिफिकेट(Marriage Certificate) में बदलाव करने के लिए दो महीने का वक्त दिया गया है. अदालत अक्टूबर में डिटेल्ड ऑर्डर पब्लिश करेगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 27, 2019, 9:18 AM IST
  • Share this:
बांग्लादेश के शीर्ष अदालत (Apex Court) ने मुस्लिम समुदाय के निकाहनामे को लेकर बड़ा फैसला दिया है. कोर्ट ने मैरेज सर्टिफिकेट (Marriage Certificate) से 'वर्जिन' (कुमारत्व) शब्द को हटाने का आदेश दिया. कोर्ट का कहना है कि मैरेज सर्टिफिकेट पर बीवी के लिए इस्तेमाल होने वाला ये शब्द अमानवीय और भेदभाव वाला है.

साउथ एशियन देशों में मुस्लिम मैरेज लॉ के तहत पत्नी को मैरेज सर्टिफिकेट में तीन विकल्पों में से एक को चुनना पड़ता है. पहला कुंवारी (वर्जिन), विधवा और तलाकशुदा.

डिप्टी अटॉर्नी जनरल अमित तालुकदार ने AFP को बताया कि बांग्लादेश के सुप्रीम कोर्ट ने रविवार को दिए गए आदेश में कहा कि सरकार को मैरेज सर्टिफिकेट में दिए गए पहले ऑप्शन वर्जिन को हटाना होगा और इसकी जगह अविवाहित शब्द रखना होगा.

बांग्लादेश सरकार को मैरेज सर्टिफिकेट में बदलाव करने के लिए दो महीने का वक्त दिया गया है. अदालत अक्टूबर में डिटेल्ड ऑर्डर पब्लिश करेगा.

बता दें कि बांग्लादेश विश्व का तीसरा मुस्लिम बहुल देश है. इसके कुल 168 मिलियन जनसंख्या का करीब 90 फीसदी मुसलमान हैं.

ये भी पढ़ें:  अपनी कंगाली के लिए भी भारत को दोष दे रहा है पाकिस्तान

ये भी पढ़ें: अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के एक ट्वीट ने बढ़ाया भारतीयों की शादी का खर्च! जानिए कैसे?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 27, 2019, 8:29 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...