LIVE NOW

तृणमूल कांग्रेस: एनआरसी के खिलाफ पश्चिम बंगाल में करेगी बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन

असम (Assam) में राष्ट्रीय नागरिकता पंजीकरण (NRC) के विरोध में मुख्य मंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) पश्चिम बंगाल (West Bengal) में (एनआरसी) सूची के खिलाफ बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन करेगी.

Hindi.news18.com | September 2, 2019, 6:13 PM IST
facebook Twitter Linkedin
Last Updated September 2, 2019

हाइलाइट्स

पड़ोसी राज्य असम (Assam) में राष्ट्रीय नागरिकता पंजीकरण (NRC) के विरोध में मुख्य मंत्री और तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी (Mamta Banerjee) पश्चिम बंगाल (West Bengal) में (एनआरसी) सूची के खिलाफ बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन करेगी. असम पश्चिम बंगाल का पड़ोसी राज्य है. यह फैसला सोमवार दोपहर कोलकता के कालीकट मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के आवास पर हुई आपात बैठक में लिया गया.

सूत्रों ने कहा कि एनआरसी और भाजपा की विभाजनकारी राजनीति के खिलाफ 7-8 सितंबर को बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन करने का फैसला लिया गया है.

पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि 12 सितंबर को उत्तरी कोलकाता में चिड़िया मोड़ से श्याम बाजार के बीच रैली निकाली जाएगी. इसमें तृणमूल कांग्रेस की सुप्रीमो ममता बनर्जी के शामिल होने की भी उम्मीद जताई जा रही है. इसके अलावा लोकसभा में तृणमूल कांग्रेस संसदीय दल के नेता सुदीप बंदोपाध्याय को इस मुद्दे पर देश भर के अन्य क्षेत्रीय दलों के नेताओं के साथ संपर्क रखने के को कहा है.

टीएमसी नेता ने कहा कि बैठक के दौरान बनर्जी असम में एनआरसी की अंतिम सूची से बाहर रखे गए 19 लाख से अधिक लोगों के भविष्य को लेकर काफी चिंतित हैं. उन्होंने पार्टी नेताओं से लोगों के बीच जाकर उन्हें भाजपा की भयावह चालबाजियों के बारे में बताने को कहा. उन्होंने लोगों को यह भी बताने को कहा कि अगर भाजपा पश्चिम बंगाल में सत्ता में आई तो वह यहां भी एनआरसी लागू कर सकती है.

असम के मूल निवासियों की पहचान करने से जुड़ी एनआरसी की अंतिम सूची शनिवार को जारी की गई थी, जिसमें 19 लाख लोगों के नाम नहीं थे.

ये भी पढ़ें: बंगाल: भाजपा कार्यकर्ताओं ने सड़क, रेल यातायात को किया बाधित
Loading...