अपना शहर चुनें

States

बाइडन ने सार्वजनिक रूप से ली कोरोना वैक्सीन, ट्रंप अभी भी गायब

जो बाइडन ने सार्वजनिक कार्यक्रम में ली कोरोना वैक्सीन (फोटो- AP)
जो बाइडन ने सार्वजनिक कार्यक्रम में ली कोरोना वैक्सीन (फोटो- AP)

Joe Biden received coronavirus vaccine: प्रेजिडेंट इलेक्ट जो बाइडन ने वादा निभाते हुए सोमवार को सार्वजनिक तौर पर कोरोना वायरस वैक्सीन ली. उन्हें भी फाइजर की वैक्सीन दी गयी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 22, 2020, 11:35 AM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका के प्रेजिडेंट इलेक्ट जो बाइडन (President-elect Joe Biden) ने लोगों से वैक्सीन के साइड इफेक्ट का डर दूर करने के लिए सोमवार को सार्वजनिक रूप से कोरोना वैक्सीन ली. बाइडन को भी फाइजर (Pfizer-BioNTech Covid-19 vaccine) की कोरोना वैक्सीन दी गयी है जिसे FDA ने बीते दिनों इस्तेमाल की मंजूरी दी थी. उधर बाइडन से पहले वैक्सीन लेने की घोषणा करने के बावजूद अभी तक राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) ने स्पष्ट नहीं किया है कि वे कब वैक्सीन लेने वाले हैं. बाइडन के आलावा पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा, बिल क्लिंटन और जॉर्ज बुश भी सार्वजनिक रूप से कोरोना वैक्सीन लेने वाले हैं.

वैक्सीन लेने के बाद बाइडन ने कहा- मैं ये वैक्सीन सार्वजनिक रूप से इसलिए ले रहा हूं जिससे लोग भी तैयार रहें और जब भी उनके लिए ये उपलब्ध हो ये इसे लेने से न पीछे हटें. उन्होंने कहा कि वैक्सीन से घबराने की ज़रुरत नहीं है अमेरिकी सरकार हर पक्ष पर निगाह बनाए हुए है. बाइडन ने वैक्सीन अपने गृह क्षेत्र डेलवेयर के क्रिश्चियन केयर अस्पताल में आयोजित एक कार्यक्रम में ली. बाइडन ने कहा कि हमें अब एक-दूसरे की बुराइयों में नहीं उलझना है, वैक्सीन इतनी जल्दी से लोगों तक पहुंच पा रही है इसमें ट्रंप प्रशासन का भी अहम योगदान रहा है. हालांकि देरी हुई और इस पर और बेहतर काम किया जा सकता था. वैज्ञानिकों ने वैक्सीन बना दी है ये एक बात है लेकिन जब तक आप उसे लगवाएंगे नहीं तो पूरी समस्या ज्यों की त्यों बनी रहेगी.





अमेरिका में जारी है ऑपरेशन वार्प स्पीड
अमेरिका में लोगों तक कोरोना वैक्सें पहुंचाने के कार्यक्रम को ‘ऑपरेशन वार्प स्पीड’ का नाम दिया गया है. इसके प्रमुख सलाहकार मुंसिफ सलाउई ने ‘सीएनएन’ के ‘स्टेट ऑफ द यूनियन’ कार्यक्रम में रविवार को कहा, 'टीका उन लोगों के लिए सुरक्षित है, जो संक्रमित हो चुके हैं. यह उनकी प्रतिरक्षा को और मजबूत बनाएगा.' उन्होंने कहा, 'हमें पता है कि वायरस से प्रतिरक्षा क्षमता बेहतर नहीं होती, बल्कि समय के साथ बदतर ही होती है. इसलिए मेरा मनना है कि एहतियाती तौर पर टीकाकरण सही रहेगा क्योंकि यह सुरक्षित है. मुझे लगता है कि इन लोगों को टीका लगवाना चाहिए.'

अमेरिका में पिछले सप्ताह कोविड-19 से बचाव के लिए टीकाकरण की प्रक्रिया शुरू की गई थी लेकिन ट्रंप समेत कई वरिष्ठ नेताओं और अधिकारियों ने अब तक टीके की खुराक नहीं ली है. उपराष्ट्रपति माइक पेंस, प्रतिनिधि सभा की स्पीकर नैंसी पेलोसी और सीनेटर मिच मैककोने को शुक्रवार को टीके लगाए गए थे. अमेरिका की एक विशेषज्ञ समिति का कहना है कि कोविड-19 के टीकाकरण की प्रक्रिया के दूसरे चरण में 75 या उससे अधिक आयु के लोगों और दमकल विभाग, शिक्षकों और किराने की दुकानों पर काम करने वाले कर्मचारियों समेत आवश्यक सेवाओं में लगे लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी. टीकों की दूसरी खेप रविवार से अस्पतालों को भेजी जाएगी. रोग नियंत्रण एवं निवारण केंद्र के अनुसार देश में अब तक 5,56,000 लोगों को टीका लग चुका है.

कैलिफोर्निया में बिगड़ रहे हालात
इस बीच, कैलिफोर्निया में कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर अस्पतालों में बिस्तरों की कमी हो रही है। यहां रविवार को 16,840 से अधिक लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया. जुलाई की तुलना में दोगुना अधिक मरीज भर्ती हैं. आईसीयू में 3,610 से अधिक लोग भर्ती हैं. दक्षिण कैलिफोर्निया और उत्तर में सन जौक्विन वैली में कोई आईसीयू खाली नहीं है.

वहीं, कोविड-19 के बढ़ते मामलों के मद्देनजर टेनेसी के गवर्नर बिल ली ने सामाजिक समारोह संबंधी नए प्रतिबंध लागू किए हैं, हालांकि स्वास्थ्य देखभाल कर्मियों के अनुरोध के बाद भी मास्क पहनना अभी तक अनिवार्य नहीं किया है. रिपब्लिकन सदस्यों ने मास्क पहनना अनिवार्य करने के बजाय सार्वजनिक कायक्रमों में 10 लोगों तक के शामिल होने की अनुमति देने वाले एक कार्यकारी आदेश पर रविवार को हस्ताक्षर किए. धार्मिक स्थल, विवाह और अंतिम संस्कार से जुड़े कार्यक्रमों को इन नए आदेशों से छूट दी गई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज