पाकिस्‍तान: इमरान खान को बड़ा झटका, सीनेट चुनाव में गिलानी ने मंत्री हफीज शेख को हराया

इमरान खान को बड़ा झटका, कैबिनेट मंत्री डॉक्टर अब्दुल हफीज शेख को मिली हार.  (फाइल फोटो)

इमरान खान को बड़ा झटका, कैबिनेट मंत्री डॉक्टर अब्दुल हफीज शेख को मिली हार. (फाइल फोटो)

सबसे हॉट सीट इस्लामाबाद (Islamabad) से पीटीआई के उम्मीदवार और इमरान खान (Imran Khan) के कैबिनेट मंत्री डॉक्टर अब्दुल हफीज शेख (Abdul Hafeez Shaikh) को हार का सामना करना पड़ा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 4, 2021, 10:10 AM IST
  • Share this:
इस्‍लामाबाद. पाकिस्‍तान (Pakistan) की इमरान खान सरकार के लिए ऊपरी सदन सीनेट (Senate Election) के नतीजे परेशान करने वाले साबित हुए हैं. बता दें कि पाकिस्‍तान की ऊपरी सदन सीनेट की 37 सीटों के लिए हुए चुनाव के नतीजे आ गए हैं. इस चुनाव में पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) भले ही सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी हो, लेकिन सबसे हॉट सीट इस्लामाबाद (Islamabad) से पीटीआई के उम्मीदवार और इमरान खान के कैबिनेट मंत्री डॉक्टर अब्दुल हफीज शेख (Abdul Hafeez Shaikh) को हार का सामना करना पड़ा है. इस चुनाव में पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) दूसरे नंबर पर रही है.

इमरान के कैबिनेट मंत्री डॉक्‍टर शेख को पीपीपी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे पूर्व प्रधानमंत्री युसूफ रजा गिलानी ने शिकस्‍त दी है. गिलानी को चुनाव में 169 वोट मिले हैं जबकि उनके प्रतिद्वंदी अब्दुल हफीज शेख को 164 वोट हासिल हुए हैं. इस्लामाबाद में सीनेटर चुनने के लिए हुए मतदान में कुल 340 वोट डाले गए थे. बता दें कि सात मत निर्वाचन अधिकारियों ने अवैध घोषित कर दिए थे.

इसे भी पढ़ें :- पूर्व तानाशाह परवेज मुशर्रफ की दयनीय हालत, पाकिस्तानी लोगों ने गिनाए 'पाप'
बता दें कि चुनाव में सबसे बेहतर प्रदर्शन के बाद भी इमरान खान के लिए ये किसी बड़े झटके से कम नहीं है. इमरान खान ने खुद भी डॉक्टर शेख के लिए चुनाव प्रचार किया था. चुनाव नतीजे सामने आने के बाद पीपीपी अध्यक्ष बिलावल भुट्टो जरदारी ने ट्वीट करते हुए कहा, लोकतंत्र सबसे अच्छा बदला है. जेया भुट्टो. वहीं, दूसरी तरफ इमरान सरकार के प्रवक्‍ता शहबाज गिल ने कहा विपक्षी उम्‍मीदवार पांच वोट के अंतर से जीता है. अगर निर्वाचन अधिकारियों ने सात वोट अवैध घोषित न किए होते तो परिणाम कुछ और होता.



इसे भी पढ़ें :- संघर्षविराम पर सहमति के बाद पाकिस्तान के पीएम इमरान खान बोले- अब भारत पर बातचीत जारी रखने की जिम्मेदारी

गिल ने इस मामले में अब निर्वाचन को चुनौती देने का ऐलान किया है. इसके अलावा इमरान सरकार ने विपक्ष की ओर से अविश्वास प्रस्ताव लाए जाने की संभावनाओं को देखकर खुद ही विश्वास प्रस्ताव लाने का ऐलान भी कर दिया है. पीटीआई के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए कहा गया है, कप्तान फिर कप्तान है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज