Home /News /world /

Blast in Afghanistan: अफगानिस्‍तान के नंगरहार की एक मस्जिद में विस्‍फोट, 1 की मौत,15 घायल

Blast in Afghanistan: अफगानिस्‍तान के नंगरहार की एक मस्जिद में विस्‍फोट, 1 की मौत,15 घायल

अफगानिस्तान के नंगरहार प्रांत की एक मस्जिद में विस्फोट से 12 लोग घायल हुए हैं.

अफगानिस्तान के नंगरहार प्रांत की एक मस्जिद में विस्फोट से 12 लोग घायल हुए हैं.

अफगानिस्तान (Afghanistan) के नंगरहार (Nangarhar) प्रांत में शुक्रवार को एक मस्जिद में विस्फोट की सूचना मिली है. इससे कम से कम 1 व्‍यक्ति की मौत और 15 लोगों के घायल होने की खबर है. इस घटना के बारे में अधिक जानकारी की प्रतीक्षा है. अभी किसी ने हमले की जिम्‍मेदारी नहीं ली है. इससे पहले भी 15 अक्‍टूबर को कंधार (Kandahar’s Imam Bargah Mosque) की इमाम बारगाह मस्जिद में बम धमाके हुआ था. अफगान मीडिया टोलो न्यूज के मुताबिक, धमाके में 32 लोगों से अधिक के मारे गए थे.

अधिक पढ़ें ...

    काबुल.  अफगानिस्तान (Afghanistan) के नंगरहार (Nangarhar) प्रांत के स्पिन घर इलाके की एक मस्जिद में शुक्रवार की नमाज के दौरान जोरदार विस्फोट हुआ है. ऐसी सचूना है कि इमाम मुफ्ती नईमन की मौत और अन्‍य 15 लोगों के घायल होने की सूचना मिली है. वहीं मामूली रूप से घायलों को अस्‍पताल से प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई. यह धमाका उस समय हुआ जब लोग शुक्रवार की नमाज के लिए मस्जिद में थे. इस इलाके के निवासी अटल शिनवारी ने कहा कि दोपहर 1.30 पर जोरदार आवाज सुनी गई. यह नमाज शुरू होने के कुछ पल बाद ही मस्जिद के अंदर हुआ. इससे पहले 2 नवंबर को भी अफगानिस्‍तान में बंदूकधारियों ने हमला कर 25 लोगों की हत्‍या कर दी थी. वहीं इसमें 50 से अधिक लोग घायल हुए थे.

    इस घटना के बारे में अधिक जानकारी की प्रतीक्षा है. अभी किसी ने हमले की जिम्‍मेदारी नहीं ली है. इलाके के निवासी अटल शिनवारी ने कहा कि विस्फोट दोपहर करीब 1:30 बजे हुआ. जब विस्फोटक जाहिरा तौर पर मस्जिद के अंदरूनी हिस्से में ही रखा हुआ था उसमें विस्फोट हो गया.  एक अन्य निवासी ने भी ऐसी ही जानकारी दी. इससे पहले 2 नवंबर को, अफगानिस्तान में अज्ञात बंदूकधारियों द्वारा किए गए हमले में कम से कम 25 लोग मारे गए थे और 50 से अधिक घायल हो गए थे. विस्फोट 400 बिस्तरों वाले सरदार मोहम्मद दाउद खान अस्पताल के प्रवेश द्वार पर हुआ था.

    ये भी पढ़ें : COVID-19: हिमाचल में छोटे बच्चे के लिए स्कूल खोलने का विरोध, संक्रमण बढ़ने से अभिभावक चिंतित

    ये भी पढ़ें : RSS, BJP की नफरत भरी विचारधारा ने कांग्रेस की विचारधारा को दबा दिया: राहुल गांधी

    इस पर प्रतिक्रिया देते हुए तालिबान के प्रवक्ता जबीहुल्लाह मुजाहिद ने कहा था कि इस्लामिक स्टेट के बंदूकधारियों के एक समूह द्वारा हमला किया गया था, जिनमें से सभी 15 मिनट के भीतर मारे गए थे. जब से तालिबान ने अफगानिस्‍तान पर अपनी जीत पूरी की है, विस्फोटों ने हमलों और हत्याओं की बढ़ती सूची में इजाफा किया है. अगस्त में पश्चिम समर्थित सरकार ने अफगानिस्तान में सुरक्षा बहाल करने के उनके दावे को कम करके आंका गया था.

    शिया को क्यों बनाया निशाना?
    इस्लामिक स्टेट समूह के आतंकवादियों का अफगानिस्तान के शिया मुस्लिम अल्संख्यकों पर हमला करने का लंबा इतिहास रहा है. जिन लोगों को निशाना बनाया गया, वे हजारा समुदाय से हैं, जो सुन्नी बहुल देश में लंबे समय से भेदभाव का शिकार बनते रहे हैं. यह हमला अमेरिका और नाटो सैनिकों की अगस्त के आखिर में अफगानिस्तान से वापसी और देश पर तालिबान के कब्जे के बाद एक भीषण हमला है.

    Tags: Afghanistan, Blast in Afghanistan, Explosion, Mosque

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर