लाइव टीवी
Elec-widget

अफगानिस्तानी राजदूत ने कहा, भारत के साथ हमारे संबंधों की अहम कड़ी बॉलीवुड और क्रिकेट

News18Hindi
Updated: November 22, 2019, 12:25 PM IST
अफगानिस्तानी राजदूत ने कहा, भारत के साथ हमारे संबंधों की अहम कड़ी बॉलीवुड और क्रिकेट
देशों के बीच संबंधों के दो असल सितारे (बॉलीवुड और क्रिकेट) - रहमाने

अफगानिस्तानी राजदूत रोया रहमानी (Roya Rahmani) ने कहा भारत और अफगानिस्तान के बीच संबंधों पर कोई भी चर्चा बॉलीवुड और क्रिकेट (Bollywood and Cricket) का जिक्र किए बिना अधूरी ही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 22, 2019, 12:25 PM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका (America) में अफगानिस्तान की राजदूत (Afghan Ambassador) रोया रहमानी (Roya Rahmani) ने गुरुवार को एक समारोह के दौरान कहा कि भारत और अफगानिस्तान के बीच संबंधों को मजबूती देने में बॉलीवुड और क्रिकेट (Bollywood and Cricket) की अहम भूमिका है. ये दोनों ही आपसी संबंधों की असल कड़ी हैं जिसके कारण देशों की संस्कृतियों के बीच गहरा संबंध है.

रहमानी ने बताया बॉलीवुड और क्रिकेट को असल सितारे
राजदूत रहमानी ने कहा कि यह मानना पड़ेगा कि दोनों देशों के बीच संबंधों के ये दो असल सितारे, हमारे लोगों को निकट लाने में जितने प्रभावशाली रहे हैं, उतनी प्रभावी कोई सरकारी पहल भी नहीं हो सकती. मैं किसी एक नेता की बात नहीं कर रही. सच्चाई यह है कि भारत और अफगानिस्तान के बीच संबंधों पर कोई भी चर्चा बॉलीवुड और क्रिकेट का जिक्र किए बिना अधूरी ही है.

इसलिए करती थीं गुरुवार की रात का इंतजार

रहमानी ने बताया कि मैं जब छोटी थी तो गुरुवार की रात का बेसब्री से इंतजार किया करती थी, क्योंकि उसी दिन काबुल में टीवी चैनल पर कोई भारतीय फिल्म दिखाई जाती थी. मैं जानती हूं कि केवल मैं ही ऐसा नहीं किया करती थी. उन्होंने कहा कि वह जिनते अफगानिस्तानियों को जानती हैं वे सभी इन फिल्मों के कारण थोड़ी-बहुत हिंदी जानते हैं.

'भारत-अफगानिस्तान संबंध: ऐतिहासिक, राजनीतिक, आर्थिक एवं सांस्कृतिक संबंधों की समीक्षा' विषय पर ‘हडसन इंस्टीट्यूट’ थिंक टैंक द्वारा आयोजित एक समारोह में कहा कि तालिबान शासन के काले दिनों में खुशी देने वाली केवल ये फिल्में ही अफगानिस्तानियों के जीवन में रंग भरने वाली चीजें थीं, जिनका लोग इंतजार करते थे. इन फिल्मों ने अलग दुनिया की झलक और उम्मीद दिखाई.

क्रिकेट को बताया समय बिताने का राष्ट्रीय तरीका
Loading...

क्रिकेट की बात करें, तो यह समय बिताने का राष्ट्रीय तरीका है. भारत ने पिछले साल ग्रेटर नोएडा स्टेडियम को अफगानिस्तानी टीम का आधिकारिक प्रशिक्षण केंद्र घोषित किया क्योंकि इस समय अफगानिस्तान में कोई केंद्र नहीं है. भारत सरकार ने भी प्रशिक्षण एवं तकनीकी सुविधाएं मुहैया कराई हैं और साथ ही कंधार में स्टेडियम के लिए आर्थिक मदद भी दी है.

भारत को बताया सबसे बड़ा सहयोगी
भारत अफगानिस्तान को विकास के लिए मदद मुहैया कराने वाला सबसे बड़ा क्षेत्रीय सहयोगी है. अफगानिस्तान और भारत के बीच हुए 'सामरिक साझेदारी समझौते' ने ढांचागत विकास, शिक्षा और व्यापार के क्षेत्र में एक मजबूत साझेदारी के रास्ते खोले हैं. समृद्ध और शांतिपूर्ण अफगानिस्तान को लेकर भारत सरकार और भारतीयों की प्रतिबद्धता हर रोज दिखाई देती है.

मैं जब भी हमारा संसद भवन देखती हूं जिसे भारत ने उदारता दिखाते हुए बनवाया है, मुझे इसी बात का एहसास होता है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2015 में इसके उद्घाटन के समय कहा था कि यह भवन भारत और अफगानिस्तान को एक विशेष संबंध में बांधने वाले स्नेह एवं महत्वकांक्षाओं, भावनाओं एवं मूल्यों पर आधारित संबंधों का स्थायी प्रतीक है. (भाषा इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें : J&K समेत पूरे भारत में आतंकवाद फैला रहे हैं इस्लामी आतंकवादी: अमेरिकी सांसद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 22, 2019, 12:25 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...