अमेजन आग: ब्राजील के राष्ट्रपति बोल्सोनारो की हो रही दुनिया भर में आलोचना

भाषा
Updated: August 26, 2019, 1:08 PM IST
अमेजन आग: ब्राजील के राष्ट्रपति बोल्सोनारो की हो रही दुनिया भर में आलोचना
ब्राजील में अमेजन जंगल में लगी आग की वजह से वैश्विक स्तर पर बोल्सोनारो की आलोचना हो रही है.

ब्राजील (Brazil) के राष्ट्रपति (President) जाइर बोल्सोनारो (Jair Bolsonaro) शुरुआत में तो अमेजन (Amazon) के जंगल में लगी आग की घटनाओं को ही खारिज करते रहे और उन्होंने मानवाधिकार कार्यकर्ताओं पर ही सरकार की छवि खराब करने के लिए आग लगाने का आरोप मढ़ दिया.

  • Share this:
ब्राजील (Brazil) के राष्ट्रपति (President) जाइर बोल्सोनारो (Jair Bolsonaro) अमेजन (Amazon) के जंगल में लगी आग को लेकर विश्व भर में आलोचना का सामना कर रहे हैं. इससे पहले भी उन्होंने विपक्षियों और सहयोगियों का मजाक उड़ाने से लेकर महिलाओं, अश्वेत और समलैंगिकों के खिलाफ लगातार अपमानजनक टिपप्णी की थी और यहां तक कि वह 1964-1985 के बीच देश में तानाशाही सत्ता की तारीफ भी कर चुके हैं, लेकिन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कभी उनके इन बयानों की वजह से इतने बड़े स्तर पर उनकी आलोचना नहीं हुई थी.

आग की घटनाओं को ही खारिज कर रहे थे बोल्सोनारो

धुर दक्षिणपंथी नेता शुरुआत में तो सैंकड़ों आग की घटनाओं को ही खारिज करते रहे और उन्होंने मानवाधिकार कार्यकर्ता समूहों के ऊपर ही आरोप लगा दिया कि सरकार की विश्वसनीयता को धूमिल करने के लिए इन्ही समूहों ने आग लगाई है. बोल्सोनारो पर आरोप लग रहे हैं कि उन्होंने विकास कार्यों के लिए पर्यावरण नियमों में ढील दी. अमेजन जंगल में लगी भयानक आग के बाद प्रतिक्रिया करते हुए यूरोपीय नेताओं ने चेतावनी दी थी कि वह ब्राजील और दक्षिण अमेरिकी देशों के साथ व्यापार समझौता खत्म कर लेंगे. ब्राजील में और दुनिया भर में ब्राजील के दूतावासों के बाहर हजारों लोगों ने विरोध प्रदर्शन किया.

अमेजन के जंगल में लगी भयानक आग की तस्वीर.


'प्रे फॉर अमेजोनिया' 

दुनिया भर में 'प्रे फॉर अमेजोनिया' (अमेजन के लिए प्रार्थना) सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहा था. पोप फ्रांसिस ने भी ब्राजील में लगी आग को लेकर चिंता जाहिर की और लोगों से प्रार्थना करने की अपील की ताकि "उस पर जल्दी से जल्दी काबू पा लिया जाए." जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने कहा कि आग पर काबू पाए जाने के बाद उनका देश और अन्य देश अमेजन में फिर से वन लगाए जाने पर ब्राजील से बात करेंगे. उन्होंने कहा, "बिल्कुल ये ब्राजील का क्षेत्र है लेकिन हमारे सामने वर्षा वनों पर एक सवाल खड़ा है जो वास्तव में एक वैश्विक प्रश्न है."

बाकी दोशों के नेताओं ने बोल्सोनारो से नाराजगी जताई
Loading...

शुष्क मौसम में ब्राजील में आग लगने की घटनाएं सामान्य है लेकिन इस साल यह संकटपूर्ण स्थिति में पहुंच गया. ताजा आंकड़ों के अनुसार इस साल अभी तक ब्राजील के जंगलों में आग लगने की 76,720 घटनाएं हुई हैं. इनमें से आधी से अधिक अमेजन में हुई. फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों के कार्यालय ने शुक्रवार को शिकायत की थी कि ब्राजील के नेता ने उनसे पर्यावरण संबंधी प्रतिबद्धताओं को लेकर झूठ बोला. इस बारे में जब बोल्सोनारो से पूछा गया तो उन्होंने कहा, "अगर वह मुझे फोन करेंगे तो मैं जवाब दूंगा. उन्होंने मुझे झूठा बोला फिर भी मैं उनके साथ अच्छे से व्यवहार करूंगा."

इसे भी पढ़ें :- G-7 में PM मोदी की क्रिकेट डिप्लोमेसी, एशेज में जीत की ब्रिटिश पीएम को दी बधाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 26, 2019, 1:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...