लाइव टीवी

कोरोना: ब्रिटेन में पिछले 24 घंटों में मिले 1000 नए केस, 2 से ज्यादा लोगों के इकठ्ठा होने पर पाबंदी

News18Hindi
Updated: March 24, 2020, 2:11 PM IST
कोरोना: ब्रिटेन में पिछले 24 घंटों में मिले 1000 नए केस, 2 से ज्यादा लोगों के इकठ्ठा होने पर पाबंदी
कोरोना वायरस संक्रमण से ब्रिटेन में पिछले 24 घंटों में 54 मौतें.

बोरिस जॉनसन ने कहा, ;आपको दोस्तों से मुलाकात नहीं करनी है. अगर आपके दोस्त आपको मिलने के लिए बुलाते हैं तो आपको न कहना होगा. जो परिवार के सदस्य आपके घर में नहीं रहते हैं उनसे आपको मुलाकात नहीं करनी है.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 24, 2020, 2:11 PM IST
  • Share this:
लंदन. ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) ने देश में कोविड-19 (Coronavirus) के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए लोगों की आवाजाही पर कम से कम तीन हफ्ते के लिए सख्त प्रतिबंध लगा दिए हैं. वायरस के चलते देश में मृतकों की संख्या 335 पर पहुंच गई है. बीते 24 घंटे में कोरोना के 1000 से ज्यादा नए मामले और 54 मौतों के बाद जॉनसन ने सभी को सख्ती से आदेशों का पालन करने के लिए कहा है.

सोमवार शाम को टेलीविजन पर प्रसारित देश के नाम संबोधन में उन्होंने कहा कि कोई भी प्रधानमंत्री अपने लोगों पर इस तरह का दबाव नहीं बनाना चाहता लेकिन हालात इस तरह के हैं कि उन्हें लोगों की आवाजाही को प्रतिबंधित करने और दो से अधिक लोगों के जुटने पर उनके खिलाफ कार्रवाई करने को मजबूर होना पड़ा है. लोगों को अपने घर से केवल बहुत जरूरी सामानों के लिए बाहर निकलने का संदेश देते हुए जॉनसन ने कहा, 'आज शाम से मैं ब्रिटेन के लोगों को बहुत साधारण निर्देश दे रहा हूं - आप घर पर ही रहें.'

सिर्फ ज़रूरी काम के लिए घर से बाहर निकलने की इजाजत
ब्रिटेन में तीन हफ्ते तक लोगों को केवल जरूरी सामान खरीदने, किसी चिकित्सीय जरूरत, किसी जरूरतमंद व्यक्ति की देखभाल या मदद के लिए तथा काम के सिलसिले में आने-जाने की इजाजत होगी लेकिन उसी सूरत में जब काम घर से नहीं हो सकता है. जॉनसन ने कहा, ;आपको दोस्तों से मुलाकात नहीं करनी है. अगर आपके दोस्त आपको मिलने के लिए बुलाते हैं तो आपको न कहना होगा. जो परिवार के सदस्य आपके घर में नहीं रहते हैं उनसे आपको मुलाकात नहीं करनी है.' जॉनसन ने चेताया कि जो भी इन सख्त नियमों का उल्लंघन करेगा उसे पुलिस की कार्रवाई का सामना करना होगा.



फ्रांस और स्पेन में भी सकती से लॉकडाउन लागू
फ्रांस भी इस वायरस से निपटने के लिए लॉकडाउन (बंद) के नियमों को सख्त करने वाला है जिसके तहत वह खुले में एक्ससरसाइज को सीमित करेगा तथा खुले में लगने वाले बाजारों को बंद करेगा. प्रधानमंत्री एडवर्ड फिलिप ने सोमवार को एक साक्षात्कार में कहा कि वह एक किलोमीटर से ज्यादा की जॉगिंग और खुले में लगने वाले बाजारों को बंद करने के लिए मंगलवार को एक आदेश पर हस्ताक्षर करेंगे. हालांकि स्थानीय अधिकारी कुछ मामलों में राहत देने की मांग कर सकते हैं.

वहीं अफ्रीका की सबसे औद्योगिकृत अर्थव्यवस्था और 5.7 करोड़ की आबादी वाले देश दक्षिण अफ्रीका में बृहस्पतिवार से 21 दिन के लिए राष्ट्रव्यापी बंद प्रभावी होगा. देश में कोविड-19 के मामले 402 पर पहुंचने के बाद राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा ने सोमवार को इसकी घोषणा की. रवांडा और ट्यूनीशिया के बाद दक्षिण अफ्रीका तीसरा अफ्रीकी देश है जिसने जरूरी आर्थिक गतिविधियों के अलावा सब काम रोक दिए हैं.

 

ये भी देखें:

कौन है वो पहला मरीज, जिसने पूरी इटली को कोरोना पॉजिटिव बना दिया

कोरोना वायरस से मरने वालों का नहीं हो पा रहा है अंतिम संस्कार, वेटिंग लिस्ट में हैं लाशें

Coronavirus: मोर्चे पर डटे स्‍वास्‍थ्‍यकर्मी संक्रमण से खुद को ऐसे रखें दूर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए ब्रिटेन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 24, 2020, 2:10 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर