Bycott China: अमेरिका में ड्रैगन के खिलाफ भारतीयों का प्रदर्शन, तिब्बत-ताइवानी नागरिकों का मिला साथ

Bycott China: अमेरिका में ड्रैगन के खिलाफ भारतीयों का प्रदर्शन, तिब्बत-ताइवानी नागरिकों का मिला साथ
फोटो सौ. (ANI)

ऐतिहासिक टाइम्स स्क्वॉयर पर बड़ी संख्या में भारतीय-अमेरिकी (Indo-American) लोगों ने चीन के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए भारत माता की जय और अन्य देशभक्ति नारे लगाए.

  • Share this:
न्यूयॉर्क. भारत-चीन के बीच जारी सीमा विवाद को लेकर भारत में ही नहीं बल्कि अमेरिका (America) में भी जमकर विरोध हो रहा है. न्यूयॉर्क के टाइम्स स्क्वायर पर शनिवार को भारतीय अमेरिकी नागरिक ही नहीं बल्कि चीन की विस्तारवादी नीतियों से तंग आकर तिब्बती और ताइवानी नागरिकों ने भी चीन के खिलाफ जमकर प्रदर्शन (Protest) किया. इस दौरान प्रदर्शन कर रहे लोगों के हाथ में बॉयकाट चाइना और स्टॉप चाइनीज एब्यूज जैसे पोस्टर भी लिए दिखे. इससे दो दिन पहले शिकागो में भी चीन के खिलाफ जबरदस्त प्रदर्शन हुए थे. ऐतिहासिक टाइम्स स्क्वॉयर पर बड़ी संख्या में भारतीय-अमेरिकी लोगों ने चीन के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए भारत माता की जय और अन्य देशभक्ति नारे लगाए. साथ ही, उन्होंने भारत के खिलाफ चीन की आक्रमकता को लेकर उसका आर्थिक बहिष्कार करने और उसे राजनयिक स्तर पर अलग-थलग करने की भी मांग की.

साथ ही, न्यूयॉर्क और न्यूजर्सी में रह रहे भारतीयों और भारतीय संघों के परिसंघ (एफआईए) के अधिकारियों ने बॉयकाट चाइना, भारत माता की जय और चीनी आक्रामकता को रोको जैसे नारे लगाए. प्रदर्शनकारियों ने कोरोना वायरस वैश्विक महामारी के मद्देनजर चेहरे पर मास्क पहनकर प्रदर्शन किया. उनके हाथों में हम शहीद जवानों को सलाम करते हैं के पोस्टर थे. प्रदर्शन में तिब्बती और ताइवानी समुदाय के सदस्य भी शामिल हुए. उन्होंने तिब्बत भारत के साथ खड़ा है, मानवाधिकारों, अल्पसंख्यक समुदायों के धर्मों, हांगकांग के लिए न्याय, चीन मानवता के खिलाफ अपराध रोके और बॉयकाट चाइना के पोस्टर ले रखे थे.

ये भी पढ़ें: जापान देगा ड्रैगन को बड़ा झटका, रद्द कर सकता है शी जिनपिंग का दौरा



'आज का भारत 1962 से बिल्कुल अलग'
समुदाय के नेताओं, प्रेम भंडारी और जगदीश सहवानी ने शुक्रवार को इस प्रदर्शन का आयोजन किया. जयपुर फुट यूएसए के अध्यक्ष भंडारी ने कहा कि आज का भारत 1962 के भारत से अलग है. हम चीनी आक्रामकता और इसकी अंतरराष्ट्रीय धौंस को बर्दाश्त नहीं करेंगे. हम चीन के अहंकार का करारा जवाब देंगे. उन्होंने कहा कि भारतीय समुदाय पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ एक हिसंक झड़प में 20 (भारतीय) जवानों के शहीद होने से बहुत व्यथित हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading