लाइव टीवी

तीन महीन के लिए टला Brexit, अब 31 जनवरी हुई नई तारीख

News18Hindi
Updated: October 28, 2019, 4:29 PM IST
तीन महीन के लिए टला Brexit, अब 31 जनवरी हुई नई तारीख
तीन साल पहले ब्रिटेन (Britain) की जनता ने यूरोपीय यूनियन (european union) से अलग होने के पक्ष में जनमत संग्रह कर मुहर लगाई थी.

तीन साल पहले ब्रिटेन (Britain) की जनता ने यूरोपीय यूनियन (european union) से अलग होने के पक्ष में जनमत संग्रह कर मुहर लगाई थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 28, 2019, 4:29 PM IST
  • Share this:
लंदन. यूरोपीय संघ (European Union) के सदस्य देश ब्रेक्जिट (Britain) की समयसीमा तीन महीने तक बढ़ाकर 31 जनवरी तक करने पर सोमवार को सहमत हो गए.

यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष डोनाल्ड टस्क ने ट्वीट किया, 'ईयू 27 राजी हो गया है कि वह ब्रेक्जिट की अवधि में 31 जनवरी 2020 तक विस्तार करने का ब्रिटेन का अनुरोध स्वीकार करेगा.'



बता दें कि ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने इस हफ्ते की शुरुआत में 12 दिसंबर को मध्यावधि आम चुनाव कराने की मांग की थी जिसपर संसद को फैसला लेना था. इसके मद्देनजर ईयू की ओर से इस कदम की उम्मीद की जा रही थी.
Loading...

ईयू मुख्यालय ने दिए थे ये संकेत
यूरोपीय आयोग की प्रवक्ता ने यहां ईयू मुख्यालय में पत्रकारों से कहा था, 'यहां मैं एक बात कह सकती हूं कि ईयू के 27 देश सैद्धांतिक रूप से ब्रेक्जिट को टालने और आने वाले दिनों में काम करने पर सहमत हुए हैं. इसका मकसद लिखित प्रक्रिया के तहत फैसला लेना है.'

इससे पहले ब्रिटिश संसद से कानून पारित कर कहा गया था कि अगर हाउस ऑफ कॉमन 31 अक्टूबर की निर्धारित तारीख से पहले ईयू से अलग होने के समझौते को मंजूरी नहीं देता है तो ब्रिटेन बिना करार के ही अलग हो जाएगा. इसके बाद जॉनसन ने औपचारिक रूप से ब्रेक्जिट को टालने का अनुरोध किया था. हालांकि, वह जोर देते रहे हैं कि ब्रिटेन इस महीने के अंत तक अलग हो जाएगा और उनका कहना था कि इस मामले में पीछे नहीं लौटा जा सकता.

अधिकतर देश इसको टालने के पक्ष में थे
ईयू के अधिकतर सदस्य देश ब्रेक्जिट को जनवरी 2020 तक यानि तीन महीने तक टालने के पक्ष में थे. यह वह समय है जो कथित बेन कानून में उल्लेखित है जिसके तहत जॉनसन ने ब्रेक्जिट की अवधि बढ़ाने का अनुरोध किया था. हालांकि, फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुअल मैक्रों ब्रेग्जिट को केवल नवंबर के मध्य या अंत तक टालने के पक्ष में थे जो रेखांकित करता है कि लगातार इस प्रक्रिया में हो रही देरी से ईयू नाखुश है.

ब्रसेल्स की ओर से ब्रेक्जिट को टालने की घोषणा के बाद जॉनसन ने विपक्षी लेबर पार्टी से 12 दिसंबर के मध्यावधि चुनाव के पक्ष में मतदान करने की अपील की.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 28, 2019, 3:21 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...