Home /News /world /

कोविड-19 वैक्सीनेशन के बाद भी संक्रमित होने पर और बेहतर होगी इम्युनिटी, नई स्टडी में दावा

कोविड-19 वैक्सीनेशन के बाद भी संक्रमित होने पर और बेहतर होगी इम्युनिटी, नई स्टडी में दावा

दुनिया में बढ़ रहे हैं कोरोना वायरस संक्रमण के मामले. (pic- AP)

दुनिया में बढ़ रहे हैं कोरोना वायरस संक्रमण के मामले. (pic- AP)

Coivd-19 vaccination and Breakthrough Infections: कोविड-19 टीकाकरण के बावजूद लोग कोरोना से संक्रमित हो जाते हैं लेकिन यह संक्रमण उनके इम्युन सिस्टम को और मजबूत बनाता है. दरअसल अमेरिका में सामने आई एक स्टडी में यह दावा किया गया है. ऑरेगोन हेल्थ एंड साइंस यूनिवर्सिटी की ओर से प्रकाशित इस स्टडी में यह बताया गया है कि कोविड-19 से दोबारा संक्रमित होने के बाद मनुष्य का इम्युन सिस्टम कोविड-19 के अन्य वेरिएंट्स के खिलाफ बेहतर तरीके से रिस्पॉन्स करता है.

अधिक पढ़ें ...

    न्यूयॉर्क: कोरोना महामारी (Corona Pandemic) से बचाव के लिए कोविड-19 वैक्सीनेशन (Covid-19 Vaccination) बहुत अहम है, लेकिन वैक्सीनेशन के बाद दोबारा से संक्रमित होने पर व्यक्ति का इम्युन सिस्टम और भी बेहतर हो सकता है. एक स्टडी में यह दावा किया गया है और इसीलिए कोरोना टीकाकरण बहुत जरूरी है. ऑरेगोन हेल्थ एंड साइंस यूनिवर्सिटी की ओर से प्रकाशित इस स्टडी में यह बताया गया है कि कोविड-19 से दोबारा संक्रमित होने के बाद मनुष्य का इम्युन सिस्टम कोविड-19 के अन्य वेरिएंट्स के खिलाफ बेहतर तरीके से रिस्पॉन्स करता है. यानी अगर कोई व्यक्ति कोरोना की वैक्सीन ले चुका है और फिर भी वह ब्रेकथ्रू इंफेक्शन (Breakthrough Infections) का शिकार हो जाता है तो उसके अंदर कोविड-19 से लड़ने के लिए मजबूत प्रतिरक्षा तंत्र विकसित हो जाता है.

    इस लेबोरेट्री के स्टडी के परिणाम प्रकाशित करने से पहले जरनल ऑफ अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन पर ऑनलाइन उपलब्ध है. इसमें यह बताया गया है कि दोबारा से संक्रमित होने पर डेल्टा वेरिएंट के खिलाफ प्रभावी इम्युन सिस्टम विकसित होता है. इन शोधकर्ताओं का कहना है कि इस अध्ययन में यह पाया गया कि सार्स कोव-2 से संबंधित सभी वेरिएंट्स के खिलाफ लड़ने में प्रतिरोधक क्षमता अत्यंत प्रभावी होने की संभावना है. इस स्टडी में पहली बार सार्स कोव-2 (SARS-CoV-2 ) वेरिएंट्स को ब्रेकथ्रू इंफेक्शन से मिले ब्लड सीरम के क्रॉस न्यूट्रीलाइजेशन के लिए इस्तेमाल किया गया.

    यह भी पढ़ें: कितना संक्रामक और गंभीर है ओमिक्रॉन वेरिएंट? भारत सरकार के संगठन ने दी बड़ी जानकारी

    Breakthrough Infections से मजबूत होगा इम्युन सिस्टम

    इस अध्ययन से जुड़े सीनियर ऑथर फिकाडू ताफेसी ने कहा कि आपको इससे बेहतर इम्युन रिस्पॉन्स नहीं मिल सकता है. उन्होंने कहा, “सभी वैक्सीन गंभीर बीमारियों से बचाव के लिए बेहद प्रभावी हैं. हमारी स्टडी में यह बताया गया है कि वे व्यक्ति जिन्होंने कोविड-19 वैक्सीन ले ली है और फिर भी वे दोबारा से संक्रमित हुए हैं तो उनमें और बेहतर इम्युन सिस्टम विकसित हो जाता है.” इस स्टडी से जुड़े एक अन्य महामारी विशेषज्ञ मर्सेल कुर्लीन ने कहा कि हमारे इस अध्ययन से विश्वव्यापी महामारी के दीर्घकालिक परिणामों की गंभीरता को कम करने में मदद मिलेगी.

    वहीं फिकाडू ताफेसी ने कहा कि इस स्टडी में हमने विशेष रूप से ओमिक्रॉन वेरिएंट की जांच नहीं की, लेकिन परिणामों के आधार पर हम यह अनुमान लगाते हैं कि ओमिक्रॉन वेरिएंट से होने वाले ब्रेकथ्रू इंफेक्शन से पीड़ित होने पर भी इम्युन सिस्टम ज्यादा प्रभावी तरीके से काम करेगा.

    Tags: Corona, Corona vaccine, Omicron, Omicron Infection

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर