2036 तक पुतिन बने रहें रूस के राष्ट्रपति, इसलिए लोगों को दिए जा रहे लुभावने उपहार

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (फाइल फोटो)

क्रेमलिन (Kremlin) में भाषण लिखने से लेकर राजनीतिक विश्लेषक तक का सफर तय कर चुके अब्बास गल्यामोव ने कहा कि क्रेमलिन जो परिणाम चाहता है, उसे प्राप्त करने से कोई नहीं रोक सकेगा.

  • Share this:
    मास्को. रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) को 2036 तक पद पर बने रहने का अवसर देने संबंधी संविधान संशोधनों के पक्ष में लोगों को मतदान करने के लिए प्रोत्साहित करने के वास्ते अधिकारी कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं. इसके लिए उपहार के तौर पर कारें और फ्लैट दिए जाने की योजनाएं लाई गई हैं, विख्यात लोगों के माध्यम से पक्ष में मतदान करने की अपील की जा रही है, सरकारी अस्पतालों (Government Hospitals) और स्कूलों के कर्मचारियों पर भी मतदान का दबाव बनाया जा रहा है. हालांकि देश का विपक्ष बंटा हुआ है और वह चुनाव अभियान के दौरान प्रभावी रूप से विरोध दर्ज कराने में असफल रहा है. रूस में सप्ताह भर चलने वाली चुनाव प्रक्रिया बृहस्पतिवार को शुरू हो रही है.

    क्रेमलिन में भाषण लिखने से लेकर राजनीतिक विश्लेषक तक का सफर तय कर चुके अब्बास गल्यामोव ने कहा, 'क्रेमलिन जो परिणाम चाहता है, उसे प्राप्त करने से कोई नहीं रोक सकेगा.'

    साल 2024 में समाप्त होगा पुतिन का कार्यकाल
    दो दशक से रूस पर शासन कर रहे 67 वर्षीय पुतिन का कार्यकाल 2024 में समाप्त होगा. संविधान संशोधन के जरिये अगले दो कार्यकाल के लिए उन्हें पुनः सत्ता मिलने का रास्ता साफ हो जाएगा. रूस में राष्ट्रपति का कार्यकाल छह साल का होता है. अन्य संशोधनों में सामाजिक लाभ में सुधार, समलैंगिक विवाह पर पाबंदी और आय में कमी इत्यादि मुद्दों पर निर्णय होना है. संशोधनों को संसद के दोनों सदनों से पारित किया जा चुका है और पुतिन का हस्ताक्षर होने के बाद कानून भी बन चुका है. विवादित संशोधनों पर मतदान करा कर इसे लोकतांत्रिक मान्यता देने का प्रयास किया जा रहा है.

    रूसी जनता इस परिवर्तन को बहुमत से अपनाएगी
    पुतिन का कहना है कि उन्हें विश्वास है कि रूसी जनता इस परिवर्तन को बहुमत से अपनाएगी. संशोधन के पक्ष में मतदान कराने के लिए अधिकारी लोगों को तरह-तरह से प्रोत्साहित कर रहे हैं. साइबेरिया क्रास्नोयार्स्क क्षेत्र में संवैधानिक प्रश्नोत्तरी का आयोजन किया गया जिसमें जीतने वाले को पुरस्कार के रूप में कार या अपार्टमेंट दिया गया. मास्को के अधिकारियों ने मतदान करने वालों को उपहार देने के लिए दस अरब रूबल (साढ़े चौदह करोड़ डॉलर) आवंटित किए हैं.

    ये भी पढ़ें: भारी वजनी महिला ने बिकनी मॉडल को किया कॉपी, लोग बोले- कितनी फनी हो तुम

    ये भी पढ़ें: ब्रिटेन की इस महिला ने गैस और हवा से दिया बच्चे को जन्म, नहीं पड़ी टांके की भी जरूरत

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.