होम /न्यूज /दुनिया /

अफगानिस्तान से अपने नागरिकों को निकालने के लिए काबुल पहुंचे ब्रिटिश सैनिक

अफगानिस्तान से अपने नागरिकों को निकालने के लिए काबुल पहुंचे ब्रिटिश सैनिक

ब्रिटेन की सेना रविवार रात को काबुल पहुंची.

ब्रिटेन की सेना रविवार रात को काबुल पहुंची.

बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) ने कहा कि ब्रिटिश नागरिकों और बीते 20 साल में अफगानिस्तान (Afghanistan) में ब्रिटिश सैनिकों की मदद करने वाले अफगानियों को जल्द से जल्द बाहर निकालना प्राथमिकता है.

    लंदन. ब्रिटेन के रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि ब्रिटिश सैनिक देश के लोगों को काबुल (Kabul) से निकालकर स्वदेश लाने के लिये वहां पहुंच गए हैं. प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) ने रविवार को मंत्रिमंडल की आपात समिति की बैठक की. इसके बाद जॉनसन ने कहा कि ब्रिटिश नागरिकों और बीते 20 साल में अफगानिस्तान (Afghanistan) में ब्रिटिश सैनिकों की मदद करने वाले अफगानियों को जल्द से जल्द बाहर निकालना प्राथमिकता है.

    उन्होंने स्काई न्यूज से कहा, ”दिन-रात काम कर रहे राजदूत आवेदन प्रक्रिया में मदद के लिये हवाई अड्डे पर मौजूद हैं.” एक अधिकारी ने बताया कि अफगानिस्तान के हालातों को देखते हुए प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने रविवार रात को भी मीटिंग बुलाई थी. अब बताया जा रहा है कि बुधवार को एक दिन के लिए संसद की बैठक होगी, जहां अफगानिस्तान में पनपे संकट पर सरकार की क्या प्रतिक्रिया है उस पर चर्चा होगी.

    काबुल एयरपोर्ट पर फायरिंग में 5 लोगों की मौत, कई जगहों पर लूटपाट की खबर

    वहीं, कुछ मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो अफगानिस्तान में ब्रिटेन के राजदूत लॉरी बेयरेस्टो को सोमवार की सुबह तक अफगानिस्तान से बाहर निकाल लिया जाएगा. हालांकि इसकी कोई आधिकारिक जानकारी नहीं है.

    अफगानिस्तान को इस्लामी अमीरात बनाएगा तालिबान, मुल्ला अब्दुल गनी बरादर हो सकते हैं नए राष्ट्रपति

    बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन द्वारा 31 अगस्त तक अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी की घोषणा के बाद नाटो के अन्य सहयोगियों की तरह ब्रिटेन ने भी अपने सैनिकों को वापस बुलाना शुरू कर दिया. इसके बाद तालिबान अफगान सरकार पर हावी होता गया. (एजेंसी इनपुट)

    Tags: Afghanistan Crisis, Afghanistan taliban news

    अगली ख़बर