ब्रिटेन में 3 महीने के भीतर COVID-19 वैक्सीन आ सकती है: रिपोर्ट

वैज्ञानिकों का कहना है कि ब्रिटेन में तीन महीने के अंदर कोविड-19 वैक्सीन बड़ी मात्रा में लोगों के लिए उपलब्ध हो सकती है (सांकेतिक फोटो, AP)
वैज्ञानिकों का कहना है कि ब्रिटेन में तीन महीने के अंदर कोविड-19 वैक्सीन बड़ी मात्रा में लोगों के लिए उपलब्ध हो सकती है (सांकेतिक फोटो, AP)

कोविड 19 (Covid-19) के खिलाफ लड रही दुनिया के लिए ब्रिटेन (Britain) से एक अहम खबर सामने आई है. इस खबर के मुताबिक ब्रिटेन में 3 महीने के भीतर कोरोना वायरस (Corona Virus) से लडने के लिए वैक्सीन आ सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 3, 2020, 6:18 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. ब्रिटेन (Britain) में कोविड-19 वैक्सीन (COVID​​-19 Vaccine) तीन महीन के अंदर बड़ी संख्या में उपलब्ध कराई जा सकती है. ब्रिटेन के अखबार टाइम्स ने सरकारी वैज्ञानिकों (Government Scientists) का हवाला देते हुए इस रिपोर्ट को प्रकाशित की है. अखबार ने कहा कि ऑक्सफोर्ड वैक्सीन (Oxford Vaccine) पर काम कर रहे वैज्ञानिकों (Scientists) को आशा है कि नियामक (Regulators) इसे 2021 की शुरुआत से पहले ही मंजूरी देंगे.

रिपोर्ट के अनुसार,  कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम (Full COVID-19 immunization programme), से अगर बच्चे बाहर रहेंगे तो इसे उससे भी बहुत तेजी से लागू किया जा सकता है. टाइम्स ने यह भी कहा, स्वास्थ्य अधिकारियों (Health Officers) का अनुमान है कि प्रत्येक वयस्क (adults) को छह महीने के भीतर वैक्सीन की एक खुराक (one dose of vaccine) मिल सकती है. यूरोपियन मेडिसिन एजेंसी (EMA) ने गुरुवार को कहा कि उसने वास्तविक समय में एस्ट्राजेनेका और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के संभावित COVID​-19 वैक्सीन के आंकड़ों की समीक्षा शुरू कर दी है, इस तरह के कदमों का उद्देश्य वैक्सीन के क्षेत्र में किसी भी अनुमति की प्रक्रिया को तेज करना है.

यूरोप में नये कोरोना वायरस बीमारी के इलाज के लिए अनुमति पाने वाली पहली वैक्सीन बनी
इस बर से ब्रिटिश वैक्सीन की संभावना बढ़ जाती है, जिसे COVID-19 के खिलाफ एक सफल वैक्सीन की दौड़ के आगे निकलना माना जा रहा है. यह यूरोप में नये कोरोना वायरस बीमारी के इलाज के लिए अनुमति पाने वाली पहली वैक्सीन बनी है. जो बीमारी दुनिया भर में एक लाख से अधिक लोगों की मौत की वजह बनी है.
यह भी पढ़ें: PM मोदी बोले- 2014 वाली रफ्तार से चलते तो 2040 में पूरा होता अटल टनल



टाइम्स की रिपोर्ट में कहा गया है कि सरकार की ओर से विचाराधीन योजनाओं में वैक्सीन के प्रसार की देखरेख के लिए स्वास्थ्य कर्मचारियों का एक बहुत बड़ा समूह बनाया जायेगा. इसके अलावा ड्राइव-थ्रू टीकाकरण केंद्रों की स्थापना और सशस्त्र बलों की मदद लिए जाने जैसी योजनाएं भी शामिल हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज