Video: ब्रिटेन को 15 महीने बाद मिली कोरोना नियमों से मुक्ति, नाइट क्लबों का हुआ ऐसा हाल

15 महीने में पहली बार बिना किसी पाबंदी के नाइट क्‍लब के अंदर कार्यक्रम आयोजित करने की अनुमति दी गई है. (AP)

कोरोना प्रतिबंधों Covid-19 Restrictions) में यह ढील ऐसे समय पर दी गई है जब ब्रिटेन सरकार (British Government) ने रविवार को घोषणा की कि उसने देश के सभी वयस्कों को जुलाई के अंत तक कोविड-19 टीका लगाने का लक्ष्य तय समय से पहले हासिल कर लिया.

  • Share this:
    लंदन. ब्रिटेन में कोरोना वायरस (Coronavirus Third Wave) की तीसरी लहर के बीच लॉकडाउन प्रतिबंधों (Covid-19 Restrictions) में ढील दे दी गई है. 19 जुलाई की आधी रात से ज्‍यादातर कोरोना वायरस प्रतिबंधों को हटा लिया जाएगा. इसे देशवासी फ्रीडम डे के तौर पर सेलिब्रेट कर रहे हैं. लॉकडाउन प्रतिबंधों के हटने के पहले हजारों की तादाद में लोग नाइट क्‍लब में उमड़ पड़े. 15 महीने में पहली बार बिना किसी पाबंदी के नाइट क्‍लब के अंदर कार्यक्रम आयोजित करने की अनुमति दी गई है. आलम यह रहा कि रविवार की रात को नाइट क्‍लब और बार के बाहर बड़ी-बड़ी लाइनें देखी गईं.

    कई लोगों को तो बार और क्‍लब के अंदर घुसने के लिए एक घंटे तक इंतजार करना पड़ा. पिछले साल मार्च में लगाए गए प्रतिबंधों के बाद पहली बार लोगों ने बिना किसी प्रतिबंध के पार्टी का मजा लिया. वे पूरी रात डांस करना चाहते थे और एक-दूसरे से बात करना चाहते थे.

    Euro Cup की जीत की खुमारी में कोरोना को भूल गया इटली, अब तीसरी लहर की आहट



    ब्रिटेन में फ्रीडम डे का जश्‍न मनाने के लिए भले ही नाइट क्‍लबों ने अपने दरवाजे खोल दिए हैं, लेकिन 73 फीसदी क्‍लब जाने वाले लोगों का कहना है कि वे वापस नहीं लौटना चाहते हैं. क्‍योंकि देश अभी अभी लॉकडाउन से निकला है. ब्रिटेन में कानूनी रूप से मास्‍क पहना भी जरूरी नहीं है, नाइट क्‍लब में जाने वालों की संख्‍या पर अब कोई प्रतिबंध नहीं है. क्‍लबों का कहना है कि वे और उनके कस्‍टमर इसी मौके का इंतजार कर रहे थे.

    महामारी की तीसरी लहर की चपेट में ब्रिटेन
    इस बीच ब्रिटेन के इस फैसले की दुनियाभर में आलोचना भी हो रही है. ब्रिटेन इस समय कोरोना महामारी की तीसरी लहर की चपेट में है. शुक्रवार को 51 हजार 870 नए केस के साथ 6 महीने पुराना रेकॉर्ड टूट चुका है. जनवरी के बाद पहली बार ब्रिटेन में 50 हजार से ज्यादा केस आए हैं, वह भी तब जब करीब 68 प्रतिशत आबादी पूरी तरह वैक्सीनेट हो चुकी है या फिर टीके की कम से कम एक डोज ले चुकी है.

    'फ्रीडम डे’ से पहले आइसोलेशन में PM जॉनसन, कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आए थे

    अब तक कितने लोगों को लगी वैक्सीन?
    स्वास्थ्य एवं सामाजिक देखभाल विभाग (डीएचएससी) ने कहा कि ब्रिटेन में कोविड टीकों की अब तक कुल 81,959,398 खुराकें दी जा चुकी हैं. इनमें से 46,227,101 (87.8 प्रतिशत) लोगों के पहली जबकि 35,732,297 (67.8) प्रतिशत को दूसरी खुराक दी गई है.

    दुनिया में कोरोना के कितने केस
    पूरे विश्व में कोरोना के मामले बढ़कर 19 करोड़ हो गए है.18 जुलाई को दुनिया में 4,45,267 नए मामले सामने आए. ऐसे में कोरोना के कुल मामलों की संख्या 19.12 करोड़ हो गई है. रविवार को कोरोना से 6,878 लोगों की मौत हुई और 3,37,306 लोगों ने इसे मात दी. दुनिया में कोरोना से अब तक मरने वालों की कुल संख्या 41.05 लाख हो गई है. रिकवर करने वाले कुल लोगों की संख्या 17.41 करोड़ पहुंच गई है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.