Home /News /world /

कोरोना वायरस महामारी के बीच अब ब्रिटेन में इस जानलेवा वायरस ने दी दस्तक

कोरोना वायरस महामारी के बीच अब ब्रिटेन में इस जानलेवा वायरस ने दी दस्तक

संक्रमित पक्षी वारविकशायर (Warwickshire) में अलसेस्टर (Alcester) के पास एक पोल्ट्री फॉर्म में मौजूद हैं.

संक्रमित पक्षी वारविकशायर (Warwickshire) में अलसेस्टर (Alcester) के पास एक पोल्ट्री फॉर्म में मौजूद हैं.

बर्ड फ्लू (H5 bird flu)का ये प्रकोप ऐसे समय पर सामने आया है, जब ब्रिटेन (Britain) ने राष्ट्रव्यापी एवियन इंफ्लुएंजा प्रीवेंशन जोन (Avian Influenza Prevention Zone) घोषित किया है. इसके तहत फॉर्म और पक्षियों की देखरेख करने वाले लोगों को बायोसिक्योरिटी प्रतिबंधों को कड़ा करने को कहा गया है. इससे पहले, H5N1 स्ट्रेन की पुष्टि उत्तरी वेल्स (Wales) एक व्यक्ति के घर में रखीं मुर्गियों में हुई थी.

अधिक पढ़ें ...

    लंदन. दुनिया अभी कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Pandemic) से जूझ रही है. इस बीच ब्रिटेन (Britain) में एक नई मुसीबत आ खड़ी हुई है. मध्य इंग्लैंड (England) में एक पोल्ट्री यूनिट में अत्यधिक खतरनाक एच5 बर्ड फ्लू (H5 bird flu) के केस मिले हैं. देश के कृषि मंत्रालय ने सोमवार को इसकी पुष्टि की. समाचार एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक, सभी ये सभी संक्रमित पक्षी वारविकशायर (Warwickshire) में अलसेस्टर (Alcester) के पास एक पोल्ट्री फॉर्म में मौजूद हैं. संक्रमण को रोकने के लिए इन सभी पक्षियों को मार दिया जाएगा.

    बर्ड फ्लू का ये प्रकोप ऐसे समय पर सामने आया है, जब ब्रिटेन (Britain) ने राष्ट्रव्यापी एवियन इंफ्लुएंजा प्रीवेंशन जोन (Avian Influenza Prevention Zone) घोषित किया है. इसके तहत फॉर्म और पक्षियों की देखरेख करने वाले लोगों को बायोसिक्योरिटी प्रतिबंधों को कड़ा करने को कहा गया है. इससे पहले, H5N1 स्ट्रेन की पुष्टि उत्तरी वेल्स (Wales) एक व्यक्ति के घर में रखीं मुर्गियों में हुई थी. वहीं, पूर्वी स्कॉटलैंड (Scotland) में बाड़े में रखी गईं मुर्गियों और मध्य इंग्लैंड (central England) के एक पक्षी बचाव केंद्र में भी H5N1 स्ट्रेन की पुष्टि की गई थी.

    COVID-19 Treatment: अब कोरोना का इलाज करेगी गोली, जानें ब्रिटेन में मंजूरी पाने वाली पहली दवा के बारे सबकुछ

    बर्ड फ्लू (Bird Flu) का वायरस पिछले कुछ हफ्तों से यूरोप (Europe) भर में फैल रहा है. फ्रांस, जर्मनी, इटली, नीदरलैंड और डेनमार्क में भी बर्ड फ्लू के मामले सामने आए हैं. फ्रांस के अधिकारियों ने बर्ड फ्लू के ताजा प्रकोप के बीच सभी बाहरी पोल्ट्री फार्मों को जानवरों को घर के अंदर आश्रय देने का आदेश दिया है. संक्रमित और प्रवासी पक्षियों के संपर्क से बचने के लिए किसानों को इस सर्दी में जाल लगाने और अपने पोल्ट्री को सीमित रखने के लिए कहा गया है. देश के कृषि मंत्रालय ने बताया कि अगस्त की शुरुआत के बाद से अब तक एवियन इंफ्लूएंजा के 130 मामले सामने आ चुके हैं.

    पक्षियों को वैक्सीन लगाने का आदेश
    फ्रांस के मंत्रालय ने कहा कि इटली में 19 अक्टूबर से अब तक इटली में बर्ड फ्लू के छह मामले सामने आ चुके हैं. इसलिए पोल्ट्री फार्मों की सुरक्षा के लिए सख्त रोकथाम उपायों को लागू किया जाएगा. नए प्रतिबंधों के तहत, पोल्ट्री में भीड़ और रेसिंग कबूतर प्रतियोगिताओं पर मार्च तक प्रतिबंध लगा दिया गया है. जबकि चिड़ियाघरों में पक्षियों को कैद में करने या वैक्सीन लगाए जाने का आदेश दिया गया है. अर्देंनेस क्षेत्र (Ardennes region) में वायरस के एक स्ट्रेन का पता चलने के बाद फ्रांस ने पहले सितंबर में बर्ड फ्लू के अलर्ट स्तर को ‘मध्यम’ तक बढ़ा दिया था.

    चकत्तों से भरा है महिला का शरीर, देखकर डर जाते हैं लोग! अजीबोगरीब बीमारी का नहीं है कोई इलाज

    वेल्स में एन5एन1 एवियन इन्फ्लूएंजा के एक मामले की पुष्टि
    इस बीच सोमवार को अपडेट किए गए एक आधिकारिक बयान से पता चला है कि वेल्स के मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी ने वेल्स में एन5एन1 एवियन इन्फ्लूएंजा के एक मामले की पुष्टि की है. सिन्हुआ समाचार एजेंसी ने बताया कि पूरे यूके की साइटों से जंगली पक्षियों में एचपीएआई एच5एन1 के कई निष्कर्ष सामने आए हैं. यूके स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी (यूकेएचएसए) ने कहा है कि एवियन इन्फ्लूएंजा मुख्य रूप से पक्षियों की बीमारी है और आम जनता के स्वास्थ्य के लिए जोखिम बहुत कम है. (एजेंसी इनपुट के साथ)

    Tags: Bird Flu, England, Poultry Farm

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर