Home /News /world /

बूढ़े लोगों को ओमिक्रॉन वेरिएंट से बचा सकती है एक ही चीज, यूके की रिसर्च में खुलासा

बूढ़े लोगों को ओमिक्रॉन वेरिएंट से बचा सकती है एक ही चीज, यूके की रिसर्च में खुलासा

ब्रिटेन में हुए ताजा अध्‍ययन में बड़ा खुलासा हुआ है.  (प्रतीकात्‍मक फोटो)

ब्रिटेन में हुए ताजा अध्‍ययन में बड़ा खुलासा हुआ है. (प्रतीकात्‍मक फोटो)

ब्रिटेन में हुए ताजा अध्‍ययन में कहा गया है कि COVID-19 वैक्सीन की तीसरी टॉप-अप बूस्टर खुराक बुजुर्गों को ओमिक्रॉन वेरिएंट से होने वाली गंभीर बीमारी के खतरे से उच्‍च स्‍तर की सुरक्षा प्रदान करती है. यह जानकारी यूके स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी (यूकेएचएसए) के विश्लेषण से पता चली है.

अधिक पढ़ें ...

    लंदन.  ब्रिटेन में हुए ताजा अध्‍ययन में कहा गया है कि COVID-19 वैक्सीन की तीसरी टॉप-अप बूस्टर खुराक बुजुर्गों को ओमिक्रॉन वेरिएंट से होने वाली गंभीर बीमारी के खतरे से उच्‍च स्‍तर की सुरक्षा प्रदान करती है. यह जानकारी यूके स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी (यूकेएचएसए) के विश्लेषण से पता चली है. यूके स्वास्थ्य सुरक्षा एजेंसी द्वारा इकट्ठा आंकड़ों के अनुसार, 65 साल से अधिक उम्र के लोगों के लिए तीसरी डोज के तीन महीने बाद अस्पताल में भर्ती होने से सुरक्षा लगभग 90 फीसदी रहती है.

    अध्‍ययन के मुताबिक बूस्‍टर डोज लेने के बाद गंभीर बीमारी से सुरक्षा की अवधि उच्‍च बनी रहती है. हालांकि हल्‍के और  लक्षण वाले संक्रमण के विरुद्ध सुरक्षा कम हो जाती है. यह तीन महीनों के बाद 30 फीसदी तक कम हो सकती है. यूकेएचएसए अध्ययन में  उन 65 वर्ष से अधिक आयु वालों को शामिल किया गया था जिन्‍हें शुरुआती चरण में ही बूस्‍टर डोज दिया गया था. यह सितंबर 2021 के मध्य में यूके के बूस्टर टीकाकरण रोलआउट शुरू होने पर बूस्‍टर शॉट्स दिए गए थे.

    अध्‍ययन में कहा गया है कि ओमिक्रॉन से होने वाले गंभीर संक्रमण के खिलाफ टीके की शुरुआती दो डोज से मिलने वाली सुरक्षा कुछ महीनों में कमजोर हो जाती है. केवल दो डोज लगाने के तीन महीने बाद यह गंभीर संक्रमण के विरुद्ध 70 प्रतिशत और छह महीने बाद और भी 50 प्रतिशत तक कम हो जाती है.

    Tags: Covid-19 vaccine, Omicron variant

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर