होम /न्यूज /दुनिया /ब्रिटेन में कोरोना का कहर, अबतक 150,000 से अधिक लोगों की मौत

ब्रिटेन में कोरोना का कहर, अबतक 150,000 से अधिक लोगों की मौत

ब्रिटेन यूरोप के उन देशों में शामिल है, जो वायरस से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं.

ब्रिटेन यूरोप के उन देशों में शामिल है, जो वायरस से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं.

UK Coronavirus Cases: ब्रिटेन में रोजाना दर्ज होने वाले मामलों की संख्या रिकॉर्ड स्तर पर पिछले सप्ताह 200,000 से अधिक ...अधिक पढ़ें

    लंदन. दुनिया के बाकी देशों की तरह ब्रिटेन (UK Coronavirus Cases)भी इस समय कोरोना वायरस के रिकॉर्ड मामलों का सामना कर रहा है. सरकार ने शनिवार को बताया कि देश में कोरोना वायरस से अब तक 150,000 से अधिक लोगों की मौत हो गई है. ब्रिटेन यूरोप के उन देशों में शामिल है, जो वायरस से बुरी तरह प्रभावित हुए हैं. प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (Boris Johnson) ने ट्विटर पर एक मैसेज पोस्ट करते हुए कहा, ‘कोरोना वायरस के कारण हमारे देश में मौत के भयानक आंकड़े सामने आए हैं. आज तक दर्ज की गई कुल मौतों की संख्या 150,000 तक पहुंच गई हैं.’

    सरकार ने बताया कोरोना वायरस से पॉजिटिव पाए जाने के 28 दिनों के भीतर जान गंवाने वाले लोगों की संख्या महामारी की शुरुआत के बाद से 150,057 तक पहुंच गई है. वहीं, रूस अकेला ऐसा यूरोपीय देश है, जहां मरने वालों की संख्या लगभग 315,000 हो गई है. एक काले रंग के बैकग्राउंड वाले मैसेज को शेयर करते हुए जॉनसन ने कहा, ‘जिन्होंने भी कोरोना वायरस के कारण अपनी जान गंवाई है, उनमें से हर एक ही मौत उनके परिवारों, दोस्तों और समुदायों के लिए एक गहरा नुकसान है और मेरी संवेदना उनके साथ है.’

    दुनिया में 24 घंटे में मिले 21.89 लाख कोरोना केस, जानिए देशों का हाल?

    2 लाख से अधिक केस भी मिले
    ब्रिटेन में रोजाना दर्ज होने वाले मामलों की संख्या रिकॉर्ड स्तर पर पिछले सप्ताह 200,000 से अधिक पहुंच गई थी, लेकिन हाल के दिनों में पिछले 24 घंटों में दर्ज किए गए मामलों की संख्या कम होकर 146,390 हुई है. देश में अनिवार्य रूप से फेस मास्क पहनने सहित सख्त नियम लागू किए गए हैं. हालांकि, जॉनसन खुद उस वक्त निशाने पर आ गए थे, जब उन्होंने त्योहारों के दौरान इंग्लैंड में सामाजिक समारोहों पर नकेल कसने का विरोध किया था. इससे देश का हेल्थ सिस्टम भी बुरी तरह प्रभावित हो रहा है. पॉजिटिव टेस्ट वाले और आइसोलेशन में रहने वाले लोगों की संख्या बढ़ रही है. जिससे सरकार का खर्च और भार दोनों बढ़ गए हैं.

    बूढ़े लोगों को ओमिक्रॉन वेरिएंट से बचा सकती है एक ही चीज, यूके की रिसर्च में खुलासा

    अस्पतालों में सेना भेजी जाएगी
    ब्रिटेन में कोविड-19 से बिगड़े हालातों का अंदाजा आप रक्षा मंत्रालय (Defense Ministry) की शुक्रवार को की गई उस घोषणा से लगा सकते हैं, जिसमें उसने कहा कि वह अस्पतालों में कर्मचारियों की सहायता के लिए सेना भेजेगा. इस बार अस्पताल में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या और मौत का आंकड़ा महामारी की पहली लहर की तुलना में बहुत कम है, क्योंकि उस समय लोगों का टीकाकरण (Vaccination in UK) नहीं हुआ था. सरकार ने लोगों से बूस्टर डोज लगवाने की अपील की है. जो देश में 12 साल से अधिक उम्र के करीब 61 फीसदी लोगों को लग गई है. अब सरकार उन लोगों से वैक्सीन लगवाने को कह रही है, जिन्होंने अभी तक अपना टीकाकरण नहीं करवाया है.

    Tags: Coronavirus, Delta, Omicron

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें