• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेशन की मान्यता का विस्तार करने के लिए भारत से बात कर रहा ब्रिटेन

कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेशन की मान्यता का विस्तार करने के लिए भारत से बात कर रहा ब्रिटेन

 जिन भारतीय यात्रियों को सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशील्ड वैक्सीन (Covishield Vaccine) लगी है उन्हें ब्रिटेन में अनवैक्सीनेटेड माना जाएगा

जिन भारतीय यात्रियों को सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशील्ड वैक्सीन (Covishield Vaccine) लगी है उन्हें ब्रिटेन में अनवैक्सीनेटेड माना जाएगा

यूनाइटेड किंगडम द्वारा घोषित नए यात्रा नियमों के बाद भारत चिंता बढ़ गई है. नए नियम के तहत जिन भारतीयों ने कोविशील्ड वैक्सीन (Covishield Vaccine) की डोज लगवाई है, उन्हें ‘अनवैक्सीनेटेड’ की कैटेगरी में रखा गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    लंदन. ब्रिटेन (Britain) ने कहा कि वह भारत के साथ यह पता लगाने के लिए उलझा हुआ है कि वह नए ब्रिटिश यात्रा नियमों (British travel rules) की आलोचना के बीच भारतीय अधिकारियों द्वारा जारी किए गए कोरोना वैक्सीन सर्टिफिकेशन (Covid-19 Vaccine Certification) की मान्यता का विस्तार कैसे कर सकता है.

    दरअसल, यूनाइटेड किंगडम द्वारा घोषित नए यात्रा नियमों के बाद भारत चिंता बढ़ गई है. नए नियम के तहत जिन भारतीयों ने कोविशील्ड वैक्सीन (Covishield Vaccine) की डोज लगवाई है, उन्हें ‘अनवैक्सीनेटेड’ की कैटेगरी में रखा गया है.

    ब्रिटेन में शुरू हुआ चाइल्ड वैक्सीनेशन, 12 से 15 साल के बच्चों को लग रहा टीका

    दरअसल, ब्रिटेन (Britain) ने अपने कोरोना यात्रा नियमों (Travel Rules) में बदलाव कर दिया है. इसके तहत जिन भारतीय यात्रियों को सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशील्ड वैक्सीन (Covishield Vaccine) लगी है उन्हें अनवैक्सीनेटेड माना जाएगा और यात्रा के बाद 10 दिनों के लिए सेल्फ क्वारंटाइन होना पड़ेगा.

    चार अक्टूबर से लागू होने वाले नए नियमों पर भारत में चिंताओं के बारे में पूछे जाने पर, ब्रिटिश उच्चायोग के प्रवक्ता ने कहा कि यूके इस मुद्दे पर भारत के साथ जुड़ा हुआ है और “जितनी जल्दी हो सके” अंतरराष्ट्रीय यात्रा को फिर से खोलने के लिए प्रतिबद्ध है.

    ‘अंतरराष्ट्रीय यात्रा को फिर से खोलने के लिए प्रतिबद्ध’
    ब्रिटिश उच्चायोग के प्रवक्ता ने कहा, ‘यूके जितनी जल्दी हो सके अंतरराष्ट्रीय यात्रा को फिर से खोलने के लिए प्रतिबद्ध है. यह घोषणा सार्वजनिक स्वास्थ्य की रक्षा करते हुए लोगों को सुरक्षित और टिकाऊ तरीके से फिर से अधिक स्वतंत्र रूप से यात्रा करने में सक्षम बनाने के लिए एक और कदम है.’ प्रवक्ता ने कहा, ‘हम भारत सरकार के साथ बातचीत कर रहे हैं, ताकि यह पता लगाया जा सके कि हम भारत में एक प्रासंगिक सार्वजनिक स्वास्थ्य निकाय द्वारा टीका लगाए गए लोगों के लिए वैक्सीन सर्टिफिकेशन की यूके मान्यता का विस्तार कैसे कर सकते हैं.’

    रेड लिस्ट के यात्रियों को करना पड़ेगा पाबंदियों का सामना
    चार अक्टूबर से सभी लिस्ट को मिला दिया जाएगा और केवल रेड लिस्ट बाकी रहेगी. रेड लिस्ट में शामिल देशों के यात्रियों को ब्रिटेन की यात्रा पर पाबंदियों का सामना करना पड़ेगा. भारत अब भी एम्बर लिस्ट में है. ऐसे में एम्बर लिस्ट को खत्म करने का मतलब है कि केवल कुछ ही यात्रियों को ही कोरोना वायरस टेस्ट से छूट मिलेगी.

    UK में नया यात्रा नियम, वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके भारतीयों के लिए 10 दिन का क्वारंटाइन जरूरी

    जिन देशों की कोविड-19 वैक्सीन को ब्रिटेन में मंजूरी होगी उसमें भारत शामिल नहीं है. इसका मतलब यह है कि जिन लोगों ने भारतीय सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया की कोविशील्ड वैक्सीन लगवाई है, उन्हें अनिवार्य रूप से कोरोना जांच करानी होगी और तय जगहों पर आइसोलेशन में रहना होगा. (एजेंसी इनपुट)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज