Home /News /world /

ब्रिटेन की खुफिया एजेंसी MI5 का बड़ा खुलासा, चीन ने सांसदों को दी रिश्वत, संसद तक में घुसपैठ

ब्रिटेन की खुफिया एजेंसी MI5 का बड़ा खुलासा, चीन ने सांसदों को दी रिश्वत, संसद तक में घुसपैठ

ब्रिटिश संसद की फाइल फोटो (AFP)

ब्रिटिश संसद की फाइल फोटो (AFP)

UK Spy agency MI5 on China: ब्रिटिश खुफिया एजेंसी एमआई 5 (UK Spy agency MI5) ने चेतावनी जारी करते हुए कहा है चीन की कम्युनिस्ट सरकार (China’s Communist Party) की तरफ से चीन के एक नागरिक ने ब्रिटेन की संसद (UK Parliament) तक में घुसपैठ कर लिया है. इस चीनी नागरिक का मकसद ब्रिटेन की अंदरूनी राजनीति में दखल देना था. खुफिया एजेंसी ने यह भी दावा किया है कि चीनी नागरिक चीनी सरकार के लिए काम कर रही है.

अधिक पढ़ें ...

नई दिल्ली. अपनी तरह के हैरान करने वाले एक मामले में ब्रिटिश खुफिया एजेंसी MI5 (UK Spy agency MI5) ने चेतावनी जारी करते हुए कहा है चीन की कम्युनिस्ट सरकार (China’s Communist Party) की तरफ से चीन के एक नागरिक ने ब्रिटेन की संसद (UK Parliament) तक में घुसपैठ कर ली है. इस चीनी नागरिक का मकसद ब्रिटेन की अंदरूनी राजनीति में दखल देना था. खुफिया एजेंसी ने यह भी दावा किया है कि चीनी नागरिक चीनी सरकार के लिए काम कर रही है. चीन पर यह आरोप उस समय लगा है जब पहले से उस पर जासूसी के कई आरोप है. चीन पर पिछले कुछ समय से दुनिया भर में जानकारी चुराने और राजनीति में हेरफेर करने का आरोप लगाया जा रहा है.

चीनी नागरिक का अता-पता नहीं 
इस संबंध में एक नोट जारी करते हुए संसद की स्पीकर लिंडसे होयली ने कहा है कि क्रिस्टिनी चिंग कुई ली (Christine Ching Kui Lee) चीनी नागरिक है और चीन सरकार की ओर से ब्रिटेन के सांसदों को प्रभावित करने का काम कर रही है. ली लंदन में काफी मशहूर हैं. हालांकि वह फिलहाल कहां है, इसकी जानकारी नहीं है. ली पर आरोप है कि उन्होंने ब्रिटेन के राजनीतिज्ञों को चंदा दिया है. यह फंड चीन और हांगकांग के नागरिकों की तरफ से आया है. चीन ने इन आरोपों का खंडन करते हुए कहा है कि ब्रिटेन चीन को डराने-धमकाने की कोशिश कर रहा है. अब तक यह सामने नहीं आया है कि ली के फंड दिए जाने के पीछे मंशा क्या थी.

क्या है एमआई5 का आरोप
ब्रिटेन की सुरक्षा सेवा एजेंसी एमआई5 ने यह दुर्लभ चेतावनी जारी की है. यह चेतावनी सुरक्षा सेवा हस्तक्षेप चेतावनी (Security Service Interference Alert SSIA) के रूप में जाना जाती है. यानी बहुत मुश्किल परिस्थिति में ही इस चेतावनी को जारी किया जाता है. एमआई 5 के मुताबिक ली चीन की कम्युनिस्ट पार्टी (CCP) के संयुक्त मोर्चा कार्य विभाग (UFWD) के लिए गुप्त योजना पर काम करती है. एमआई5 ने कहा है कि ली सूचनाओं को जुटाने और शीर्ष अधिकारियों को प्रभावित करने के चीनी सरकार के मिशन पर है. नोट में कहा गया है कि ली ने कुछ वर्तमान सांसदों और सांसद बनने योग्य नेताओं को फंड ट्रांसफर किया है. यह फंड क्यों दिया गया है, इसका कारण मौजूद नहीं है. लेकिन इतना तय है कि यह फंड चीन सरकार की तरफ से आया है. संसद के नोट में कहा गया है कि यह कृत्य पूरी तरह से अस्वीकार है और इसे रोकने के लिए हरसंभव कदम उठाए जा रहे हैं.

ब्रिटेन में काफी मशहूर हैं ली
एमआई5 इस तरह की चेतावनी बहुत ही संकटपूर्ण स्थिति में देती है. वर्तमान चेतावनी सांसदों के साथ बातचीत के बाद दी गई है. बीबीसी के मुताबिक चीन के खिलाफ पहली बार इस तरह की चेतावनी दी गई है. इससे पहले इस तरह की चेतावनी सिर्फ एक बार रूस के खिलाफ दी गई थी. ली ब्रिटेन में एक लॉ फर्म चलाती हैं और लंदन में रहकर चीनी दूतावास के साथ काम कर रही हैं. वह चीन और ब्रिटेन के बीच संबंधों को मजबूत करने की दिशा में लंदन में काफी प्रतिष्ठित है. ब्रिटेन की पूर्व प्रधानमंत्री थेरेसा मे भी ली की प्रशंसा कर चुकी हैं. रिकॉर्ड के मुताबिक ली ब्रिटिश नागरिक हैं.

Tags: Britain, China, International news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर