अपना शहर चुनें

States

कश्‍मीर मामले पर ब्रिटिश सांसद का भारत को समर्थन, बोले- पहले PoK खाली करे पाकिस्तान

एक ब्रिटिश एमपी ने पाकिस्तानी सेना को PoK खाली करने की सलाह दी है (फाइल फोटो)
एक ब्रिटिश एमपी ने पाकिस्तानी सेना को PoK खाली करने की सलाह दी है (फाइल फोटो)

ब्रिटिश सांसद ने कश्मीर (Kashmir) के मसले पर भारत का समर्थन किया है और पाकिस्तान (Pakistan) से कहा है कि पाक सेना (Pakistan Army) को यूएन के पहले संकल्प को देखते हुए कश्मीर को दोबारा एक करने के लिए PoK को छोड़ देना चाहिए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 15, 2019, 11:24 PM IST
  • Share this:
कश्मीर (Kashmir) का राग अलापने और हर मोर्चे पर मात खाने वाले पाकिस्‍तान को अब एक और ब्रिटिश सांसद (British Member of Parliament) ने झटका दिया है. उन्होंने न सिर्फ पाकिस्तान से यह कहा है कि जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) भारत का अभिन्न अंग है. बल्कि उन्होंने पाकिस्तान से पीओके (PoK) खाली करने को भी कहा है.

ब्रिटिश सांसद बॉब ब्लैकमैन ने पाकिस्तान के कश्मीर मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र (United Nations) में ले जाने का भी विरोध किया है और कहा है कि पाकिस्तान को पहले PoK को खाली कर देना चाहिए.

'यूएन के पहले रिजॉल्यूशन में पीओके जम्मू-कश्मीर का हिस्सा'
बॉब ब्लैकमैन ने कहा कि पूरा जम्मू-कश्मीर भारत का अभिन्न अंग था और पाकिस्तान को पीओके खाली कर देना चाहिए. उन्होंने कहा कि जो लोग कश्मीर यूएन के रिजॉल्यूशन का पालन करने की बात करते हैं, वे लोग यूएन के पहले रिजॉल्यूशन को नजरअंदाज कर रहे हैं. यूएन के पहले रिजॉल्यूशन में साफ किया गया है कि पीओके जम्मू-कश्मीर का हिस्सा है और पीओके को जम्मू-कश्मीर में मिलाया जाना चाहिए. इसके लिए पहले पाकिस्तानी सेना (Pakistan Army) को पीओके को खाली कर देना चाहिए.
अंतरराष्ट्रीय अदालत में जाने के पाक के दावे की भी हुई है फजीहत


ब्रिटिश सांसद बॉब ब्लैकमैन का यह बयान उस वक्त सामने आया है जब पाकिस्तानी पीएम इमरान खान और विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कश्मीर मसले को अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (International Court of Justice) में ले जाने की बात कही है. हालांकि अभी पाकिस्तान के इन मंसूबों को उन्हीं के अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में वकील ने मटियामेट कर दिया था. अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में पाक के वकील ने कहा था कि हमारे पास कश्मीर में नरसंहार साबित करने के सुबूत नहीं हैं.

चौतरफा शर्मिंदगी से जूझ रहा है पाक
वैसे बता दें कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 (Article 370) हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान ने कई अंतरराष्ट्रीय मंचों पर जम्मू-कश्मीर के मसले को उठाने का प्रयास किया है. लेकिन, हर जगह ही उसे मुंह की खानी पड़ी है. इसके बाद से बौखलाया पाक भारत को युद्ध की धमकी भी दे चुका है और उसके पीएम इमरान खान यह भी स्वीकार चुके हैं कि अगर भारत से पारंपरिक युद्ध होता है तो उसमें पाकिस्तान की ही मात होगी. अपने देश के अंदर परिस्थितियों पर काम न करने वाले और आतंक को रोकने के प्रयास न करने वाले पाक को रोज नई शर्मिंदगियों का सामना करना पड़ रहा है.

यह भी पढ़ें: श्रीनगर में छिपे हैं दो दर्जन आतंकी, दहशत फैलाने के लिए खुलेआम कर रहे ये काम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज