लाइव टीवी

आस्ट्रेलिया में शार्क के हमले से अंग्रेज पर्यटक गंभीर रुप से हुआ घायल

News18Hindi
Updated: October 29, 2019, 4:11 PM IST
आस्ट्रेलिया में शार्क के हमले से अंग्रेज पर्यटक गंभीर रुप से हुआ घायल
शार्क के हमले से दो लोग हुए गंभीर रुप से घायल

एक शार्क (Shark) ने हमला कर एक अंग्रेज पर्यटक (English Tourist) को गंभीर रूप से घायल कर दिया. हमलें में दो व्यक्तियों को गम्भीर रूप से चोट आई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 29, 2019, 4:11 PM IST
  • Share this:
सिडनी. आस्ट्रेलिया (Australia) के ग्रेट बैरियर रीफ के पास व्हीटसंडे (Whitsundays) द्वीप पर मंगलवार को एक शार्क (Shark) ने हमला कर एक अंग्रेज पर्यटक (English Tourist) को गंभीर रूप से घायल कर दिया. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. मैके बेस अस्पताल से मिली जानकारी के अनुसार, शार्क ने 28 वर्षीय एक व्यक्ति के दाएं पैर पर काट कर उसे जख्मी कर दिया. वहीं 22 वर्षीय व्यक्ति के बाएं पैर को भी शार्क ने काटा और उसे घायल कर दिया.

एक अधिकारी ने एएफपी को बताया कि दोनों घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उनकी हालत गंभीर लेकिन स्थिर है. यह हादसा तब हुआ जब दोनों व्यक्ति नाव से व्हीट्संडे द्वीप पर घूमने गये थे.

गौरतलब है कि जनवरी में शार्क ने एक महिला और बच्चे को हमला कर बुरी तरह घायल कर दिया था. पिछले वर्ष शार्क के हमले में एक व्यक्ति की मौत हो गई और 12 वर्षीय एक लड़की ने ऐसे हमले में अपना एक पैर गंवा दिया था. सिडनी के टारोंगा चिड़ियाघर से मिले आंकड़ों के अनुसार, 2018 में देश में शार्क के हमले के 27 मामले दर्ज किए गए थे.

शार्क समंदर में सबसे तेज शिकारी जीव है. ये अपने तेज धार वाले नुकीले दांतों से नावों तक को काट देती है. आम्तौर पर शार्क समंदर में रहने वाली मछलियों और अन्य जीवों का ही शिकार करती है. लेकिन कइ बार ये इंसान का शिकार भी कर लेती है.

बीसीसी (BCC) के सितम्बर में दिये आंकड़ों के हिसाब से साल 2009 में बिना भड़्काए हुए भी शार्क ने दुनिया भर में करेब 83 इंसानों पर हमला किया. 2013 से 2017 में ये आकंड़ा लगभग ऐसा ही रहा. लेकिन ताज़ा रिसर्च बताती है कि दुनिया के बहुत से हिस्सों में ये आंकड़ा बढ़ा है.

इंसान पर शार्क के हमलों की संख्या के मामलों में पूर्वी अमरीका और दक्षिणी ऑस्ट्रेलिया में बीते 20 वर्षों में दोगुना इज़ाफ़ा हुआ है. हवाई द्वीप के आस-पास भी इस तरह के मामले बढ़े है.

इंटरनेशनल शार्क अटैक फ़ाइल का लेखा-जोखा रखने वाले रिसर्चर गैविन नेलर के मुताबिक़, "अजीब इत्तिफ़ाक़ है कि शार्क ने जिस इलाक़े में इंसानों पर हमला किया है, उस वक़्त समंदर के उस हिस्से में मौजूद इंसानों और शार्क की संख्या बराबर थी." (भाषा इनपुट के साथ)
Loading...

ये भी पढ़ें : 35 साल पहले इस बच्ची को लगाया गया था लंगूर का दिल, फिर हुआ ऐसा हाल 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 29, 2019, 4:11 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...