ब्रिटिश महिला 14.5 करोड़ रुपये कैश लेकर भाग रही थी दुबई, अब होगी 14 साल जेल!

ब्रिटिश महिला 2 मिलियन डॉलर कैश के साथ हीथ्रो एयरपोर्ट पर पकड़ी गई. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

एक ब्रिटिश महिला (British Woman) को पांच सूटकेस (FTwo Million Dollar Cash) में लगभग 2 मिलियन डॉलर (14.50 करोड़ रुपये) के साथ दुबई भागने की कोशिश में गिरफ्तार किया गया है.

  • Share this:
    लंदन. एक ब्रिटिश महिला (British Woman) को पांच सूटकेस (Two Million Dollar Cash) में लगभग 2 मिलियन डॉलर (14.50 करोड़ रुपये) के साथ दुबई भागने की कोशिश में गिरफ्तार किया गया है. तारा हैनलॉन नाम की इस इस महिला पर मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप लगाया गया है, जो साल 2020 की जब्त की गई राशि का अभी तक यह सबसे बड़ा मामला माना जा रहा है. 30 साल की तारा हैनलॉन को 3 अक्टूबर को हीथ्रो एयपोर्ट के टर्मिनल 2 पर रोका गया, जहां वह दुबई जाने वाली फ्लाइट में चढ़ने का प्रयास कर रही थी. हीथ्रो एयरपोर्ट पर सीमा बल के अधिकारियों ने रोका और उसके सामान की जांच की. जांच के दौरान उसके सामान में पांच बड़े सूटकेस मिले जिनमें कैश भरे हुए मिले. हैनलॉन को डॉनकास्टर क्षेत्र की 28 साल की एक अन्य महिला के साथ गिरफ्तार किया गया था. इस मामले की जांच को राष्ट्रीय अपराध एजेंसी (एनसीए) में भेजा गया है. मनी लॉन्ड्रिंग के मामले में इसे अभी तक की बरामद की गई सबसे बड़ी रकम मानी जा रही है.

    14 साल तक जेल की हवा खानी पड़ सकती है

    तारा हैनलोन को मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप में अक्सब्रिज (Uxbridge) मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया गया. उसे 5 नवंबर तक हिरासत में रखा जाएगा फिर आईज़लवर्थ क्राउन कोर्ट में पेश किया जाएगा. अगर तारा हैनलोन पर मनी लॉन्ड्रिंग का दोष सिद्ध हो जाता है तो उसे 14 साल तक की जेल का सामना करना पडेगा. इमीग्रेशन के अनुपानल विभाग से जुड़े मंत्री क्रिस फिलिप ने कहा कि 'यह 2020 में सीमा पर की गई सबसे बड़ी व्यक्तिगत नकद जब्ती है और मैं सीमा बल के अधिकारियों के प्रयासों से खुश हूँ.'

    ये भी पढ़ें: स्पेन में मनी सबसे खर्चीली बर्थडे पार्टी, 150 गेस्ट पर खर्च हुए 215 करोड़ रुपये 

     थाईलैंड में ट्रेन और बस की जोरदार टक्कर में 17 लोगों की मौत, 30 घायल

    ब्राजील में कोरोना से मौत का आंकड़ा 1.5 लाख के पार, शीर्ष पर अब भी है अमेरिका  

    उन्होंने यह भी कहा कि "ब्रिटेन से अघोषित नकदी के निर्यात को रोकना संगठित आपराधिक गिरोहों पर शिकंजा कसने का एक महत्वपूर्ण कदम है. इस दृष्टि से भी इस घटना को महत्वपूर्ण माना जा रहा है. डॉनकास्टर की एक 28 वर्षीय महिला को भी उसी समय गिरफ्तार किया गया था पर उसे जांच के बाद छोड़ दिया गया.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.