अपना शहर चुनें

States

ट्रंप को समय से पहले बेदखल किए जाने की मांग, दो तरीके जिनसे राष्ट्रपति को हटाया जा सकता है

डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)
डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)

US Capitol Hill Violence: डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) को दो तरीकों से दफ्तर से बाहर किया जा सकता है. पहला तरीका है- अमेरिकी संविधान का 25वां संशोधन. दूसरी तरीका है- सीनेट की तरफ से महाभियोग की घोषणा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 7, 2021, 11:40 PM IST
  • Share this:
वॉशिंगटन. अमेरिका में संसद भवन हुए हमले (US Capitol Hill Violence) के बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को निकाले जाने की मांग उठने लगी है. सांसद चाहते हैं कि नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) के कार्यालय संभालने से पहले ही ट्रंप को निकाल दिया जाए. खास बात है कि ट्रंप ने कभी भी अपनी हार स्वीकार नहीं की. जबकि, 3 नवंबर को हुए चुनाव में मीडिया ने बाइडेन को विजेता घोषित कर दिया था.

विवाद की स्थित तब शुरू हुई, जब ट्रंप ने शांतिपूर्ण तरीके से सत्ता बाइडेन को सौंपने से इंकार कर दिया. उन्होंने हजारों समर्थकों को संबोधित भी किया और हर बार यही दावा किया कि यह चुनाव उनसे छीना गया है. हालांकि, अब जब उन्हें हटाए जाने की मांग जोर पकड़ रही है, तो सवाल उठता है कि क्या यह मुमकिन है?

इसका जवाब हां है. ट्रंप को दो तरीकों से दफ्तर से बाहर किया जा सकता है. पहला तरीका है- अमेरिकी संविधान का 25वां संशोधन. दूसरी तरीका है- सीनेट की तरफ से महाभियोग की घोषणा. हालांकि, इन दोनों मामलों में उप राष्ट्रपति माइक पेंस राष्ट्रपति की भूमिका निभाएंगे.



क्या है 25वां संशोधन?
25वां संशोधन साल 1967 में मंजूर हुआ. इसकी धारा 4 बताती है कि एक राष्ट्रपति अपना काम नहीं कर पा रहा है, लेकिन इच्छा से पद से हटने को भी मंजूर नहीं है. हालांकि, एक्सपर्ट्स के मुताबिक, इसे तैयार करने वालों ने साफ किया है कि 25वें संशोधन को तभी लागू किया जा सकेगा जब कोई राष्ट्रपति शारीरिक या मानसिक बीमारी से जूझ रहा हो. वहीं, कुछ स्कॉलर्स का मानना है कि यह तब भी लागू हो सकता है, जब एक राष्ट्रपति कार्यालय संभालने के लायक न हो.



यह भी पढ़ें: Capitol Hill Violence: अमेरिकी संसद में हिंसा की 'सिम्पसन्स' ने पहले ही कर दी थी भविष्यवाणी! दिखाए थे हूबहू हालात

कैसे लागू हो सकता है 25वां संशोधन
पेंस और ट्रंप मंत्रीमंडल को यह साबित करना होगा कि ट्रंप राष्ट्रपति के काम को पूरा करने में सक्षम नहीं हैं और उन्हें हटाया जाए. ऐसे हालात में पेंस ये जिम्मेदारी संभालेंगे. हालांकि, अगर ट्रंप यह घोषणा कर देते हैं कि वे कार्यालय संभाल सकते हैं और पेंस और कैबिनेट ट्रंप के दावे को चुनौती नहीं दे सके, तो ट्रंप फिर सत्ता में आ जाएंगे. अगर उन्होंने ट्रंप की बात को चुनौती दी, तो मुद्दे का फैसला कांग्रेस करेगी. इस दौरान राष्ट्रपति पद की जिम्मेदारी पेंस के पास आएगी.

यूनिवर्सिटी ऑफ कोलाराडो में कॉन्स्टीट्यूशनल लॉ के प्रोफेसर पॉल कैम्पोस का कहना है कि ट्रंप को एकतरफ करने के लिए दोनों मंडलों को दो तिहाई बहुमत की जरूरत होगी. लेकिन डेमोक्रेट्स के नियंत्रण वाला सदन ट्रंप का कार्यकाल खत्म होने तक इस मुद्दे पर वोट करने में देरी कर सकता है. कैम्पोस के अनुसार, ट्रंप को हटाने का सही तरीका 25वां संशोधन है. यह महाभियोग से ज्यादा तेजी से काम करेगा.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज