लाइव टीवी

प्रधानमंत्री उम्मीदवार जगमीत सिंह के टिक-टॉक वीडियो कनाडा चुनाव प्रचार में हुए वायरल


Updated: October 22, 2019, 9:47 AM IST
प्रधानमंत्री उम्मीदवार जगमीत सिंह के टिक-टॉक वीडियो कनाडा चुनाव प्रचार में हुए वायरल
जगमीत सिंह कनाडा की संसद में तीसरी सबसे बड़ी पार्टी के नेता हैं.

कनाडा (Canada) के 43वें आम चुनाव में 338 सीटों के लिए वोट डाले गए. इस चुनाव के नतीजे जल्दी ही घोषित होने वाले हैं. चुनाव पूर्व सर्वे इस बात की ओर इशारा कर रहे हैं कि युवाओं के बीच जगमीत सिंह (Jagmeet Singh) कहीं पहली तो कहीं दूसरी पसंद बने रहे.

  • Last Updated: October 22, 2019, 9:47 AM IST
  • Share this:
वैंकूवर. कनाडा चुनाव (Canada Election) में प्रधानमंत्री पद (Prime Minister Candidate) की दौड़ में शामिल भारतीय मूल के सिख उम्मीदवार जगमीत सिंह (Jagmeet Singh) ने सोशल मीडिया पर जमकर प्रचार किया है. खासकर टिक-टॉक वीडियो (Tik Tok Video) और इंस्टाग्राम (Instagram) का. सोशल मीडिया में उनका यह चुनाव प्रचार कनाडा (canada elections 2019) में ही नहीं पूरी दुनिया में चर्चा का विषय बना हुआ है. भारत में 2014 के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janata Party) के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नेरंद्र मोदी (Narendra Modi) ने भी युवा वोटरों को लुभाने के लिए सोशल मीडिया का सफल उपयोग किया था. कनाडा में भी युवा वोटर चुनाव परिणाम को खासा प्रभावित करते हैं.

बीजेपी ने हरियाणा विधानसभा चुनाव (Haryana Election 2019) में टिक-टॉक स्टार सोनाली फोगाट (Tik Tok Star Sonali Phogat) को आदमपुर विधानसभा सीट  (Adampur Haryana) से अपना उम्मीदवार बनाया है.  हालांकि यह बता पाना मुश्किल है कि कनाडा वाले जगमीत सिंह ने बीजेपी से प्रेरणा ली है या फिर जगमीत सिंह के चुनाव प्रचार से कुछ सीख लेकर ही बीजेपी ने टिक-टॉक स्टार सोनाली फोगाट को चुनाव मैदान में उतारा.

युवाओं की अहम भूमिका
चार साल पहले हुए कनाडा के पिछले चुनावों में 2011 के मुकाबले 12 फीसदी अधिक युवा वोटरों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया था. इनमें से अधिकतर युवाओं का रुझान लिबरल नेता जस्टिन ट्रूडो के पक्ष में था. तब ट्रुडो को चुनाव में सफलता मिली थी. लेकिन इस बार ट्रूडो की राह आसान नहीं है. ट्रूडो नस्लभेद के आरोपों से घिरे हैं. खुद ट्रूडो अपनी जीत को लेकर आश्वस्त नहीं है.

इस चुनाव में नतीजे चाहे जो हों लेकिन नेशनल डेमोक्रेटक पार्टी (NPD) के उम्मीदवार जगमीत सिंह सोशल मीडिया पर छाए हुए हैं. जगमीत ने टिक-टॉक वीडियो के जरिए युवा वोटरों तक अपनी पहुंच बनाई है. कनाडा मीडिया की रिपोर्ट्स के मुताबिक जगमीत ने 15 टिक-टॉक वीडियो जारी किए जिनमें से दो वीडियो वायरल हो गए. इन वीडियो की पहुंच 30 लाख से ज्यादा लोगों तक रही.



युवाओं तक जगमीत की पहुंच
Loading...

जगमीत ने अपने चुनाव प्रचार को लेकर बताया कि युवा मतदाताओं ने उनसे हमेशा अपनी अनदेखी किए जाने की शिकायत की है. इसलिए उन्होंने युवाओं तक अपनी बात पहुंचाने के लिए यह तरीका निकाला. जगमीत का मानना है कि जो दर्शक जहां उपलब्ध हैं उनसे वहीं मुखातिब होना चाहिए. 40 वर्षीय जगमीत ने कहा कि अगर ऐसा करने से वो युवाओं की जिन्दगी में बेहतर बदलाव का संदेश दे सकते हैं तो इसका भरपूर उपयोग करने में कोई हर्ज नहीं. जगमीत ने अपने टिक-टॉक वीडियोज में रैप म्युजिक का जमकर इस्तेमाल किया.

इससे उन्हें अपना संदेश युवाओं तक आसानी से पहुंचाने में मदद मिली. चुनाव पूर्व सर्वे भी इसी बात की ओर इशारा कर रहे हैं कि युवाओं के बीच जगमीत कहीं पहली तो कहीं दूसरी पसंद बने रहे.



भारतीय मूल के इस कनेडियाई नागरिक ने सोशल मीडिया को कितनी तवज्जो दी इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि उन्होंने केवल तीन चुनावी आयोजन किए. यह आयोजन भी केवल वैंकूवर इलाके में ही किए गए, जबकि उनके प्रतिद्वंदियों लिबरल पार्टी के जस्टिन ट्रूडो और कंजर्वेटिव उम्मीदवार एंड्रयू शीर ने एक ही दिन में कई कार्यक्रमों में हिस्सेदारी की.

कनाडा के 43वें आम चुनाव में 338 सीटों के लिए वोट डाले गए. 2015 में 184 सीटों के साथ जस्टिन ट्रूडो ने बहुमत हासिल किया था. इस चुनाव के नतीजे जल्दी ही घोषित होने वाले हैं. अन्तरराष्ट्रीय मीडिया में उम्मीद जताई जा रही है कि ट्रूडो अपनी दोबार बहुमत हासिल करने में सफल होंगे. ट्रूडो को सत्ता वापसी के लिए कम से कम 170 सीटों पर जीत दर्ज करनी होगी.

यह भी पढ़ें: भारतीय मूल के इस शख्स को मिलेगा ब्रिटेन के प्रधानमंत्री से भी ज्यादा शक्तिशाली पद!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 22, 2019, 8:56 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...