लाइव टीवी

पंजाब के बरनाला का सरदार बना 'कनाडा का किंगमेकर'


Updated: October 23, 2019, 9:11 AM IST
पंजाब के बरनाला का सरदार बना 'कनाडा का किंगमेकर'
विचारधारा वाली जगमीत सिंह की न्यू डोमोक्रेटिक पार्टी में उनके अलावा कोई सिख नेता नहीं है. (स्रोत: जगमीत सिंह ट्विटर)

जगमीत सिंह की पार्टी (Jagmeet Singh) को 24 सीटें मिलीं, जबकि जस्टिन ट्रूडो (Justin Trudeau) की पार्टी को 157. कनाडा (Canada Elections) की 338 सीटों वाली संसद में बहुमत के लिए 170 सीटें चाहिए होती हैं. मुख्य विपक्षी दल कंजर्वेटिव्स (Conservative Party of Canada) को 121 सीटों पर जीत हासिल हुई है.

  • Last Updated: October 23, 2019, 9:11 AM IST
  • Share this:
वैंकूवर/बरनाला. कनाडा के प्रधानमंत्री (Prime Minister of Canada) जस्टिन ट्रूडो (Justin Trudeau) की लिबरल पार्टी (Liberal Party of Canada) के बहुमत से पिछड़ जाने के बाद यहां के सिख नेता (Sikh Leader) सरदार जगमीत सिंह (Jagmeet Singh) किंगमेकर बनकर उभरे हैं. मौके की नज़ाकत को भांपते हुए जगमीत सिंह ने ट्रूडो की तरफ समर्थन का हाथ बढ़ा दिया है. जगमीत के पूर्वज पंजाब (Punjab) में बरनाला जिले के थिखरिवाल गांव (Thikriwal Village) के रहने वाले थे. इस गांव के लोग जगमीत सिंह की जीत से खुश तो हैं, लेकिन उन्हें इस बात का भी अफसोस है कि जगमीत कनाडा के प्रधानमंत्री नहीं बन सके.

मंगलवार को आए नतीजों में जगमीत सिंह की पार्टी को 24 सीटें मिलीं, जबकि जस्टिन ट्रूडो की पार्टी को 157. कनाडा की 338 सीटों वाली संसद में बहुमत के लिए 170 सीटें चाहिए होती हैं. मुख्य विपक्षी दल कंजर्वेटिव्स को 121 सीटों पर जीत हासिल हुई है.

गुरमीत ने दिया समर्थन का प्रस्ताव
कनाडा की राजनीति में गुरमीत सिंह लिबरल विचार के अधिक नजदीक माने जाते हैं. ऐसे में गुरमीत सिंह का समर्थन सरकार बनाने के लिए अहम हो जाता है. गुरमीत ने चुनाव नतीजों के बाद कहा कि ट्रूडो को यह समझना चाहिए कि यह एक अल्पमत की सरकार है और हमें मिलकर काम करना होगा.


Loading...


गुरमीत और ट्रूडो की पार्टी पहले भी गठबंधन में काम कर चुके हैं. इस बार ट्रूडो को पिछले चुनाव के मुकाबले 20 सीटें कम मिली हैं. गुरमीत सिंह की सीटें भी इतनी ही कम होकर 24 पर आ गईं. पिछले चुनाव में गुरमीत की पार्टी न्यू डेमोक्रेटिक पार्टी को 44 सीटें मिली थीं.

चुनाव नतीजों के बाद सरदार गुरमीत सिंह ने कहा कि उनकी पार्टी के सांसद कनाडियाई लोगों की भलाई के लिए सबसे जरूरी काम सबसे पहले करने वाले हैं. गुरमीत ने कहा कि सांसद अब ओटावा (Ottawa) पहुंचकर जलवायु परिवर्तन और लोगों की जिन्दगी बेहतर करने की लिए काम करेंगे.

Jagmeet Singh Canada Sikh Leader
जगमीत सिंह की पार्टी को 24 सीटें मिलीं . (स्रोत: जगमीत सिंह ट्विटर)


अपने ट्वीट में जगमीत ने बताया कि कनाडा के लोग एक ऐसी सरकार चाहते हैं जो उनके लिए काम करे न कि केवल अमीरों और रसूखदारों के लिए.

पंजाब में खुशी भी अफसोस भी
इधर पंजाब में कनाडा के चुनाव नतीजों पर दिन भर सरगर्मी बनीं रही. ट्रूडो की सरकार में चार मंत्री सिख थे. जिनमें से तीन हरजीत सिंह सज्जन, नवदीप बैंस और जगदीश छग्गर दोबारा चुनकर आने में सफल रहे. एक सिख मंत्री अमरजीत सिंह सोही चुनाव हार गए हालांकि उनको पटखनी देने वाले उनके प्रतिद्वंदी कन्जर्वेटिव पार्टी के सांसद टिम उप्पल भी सिख हैं.

Jagmeet Singh Canada Sikh Leader
थिखरिवाल, बरनाला के स्वतंत्रता सेनानी सरदार सेवा सिंह थिखरिवाल जगमीत सिंह के पूर्वज थे. (स्रोत: जगमीत सिंह ट्विटर)


वामपंथ विचारधारा वाली जगमीत सिंह की न्यू डोमोक्रेटिक पार्टी में उनके अलावा कोई सिख नेता नहीं है. जगमीत के पुश्तैनी गांव थिखरिवाल में उनकी पार्टी को बहुमत न मिल पाने का अफसोस है लेकिन इस बात की खुशी है कि जगमीत कनाडा में अब किंगमेकर की भूमिका निभाएंगे. बरनाला के स्वतंत्रता सेनानी सरदार सेवा सिंह थिखरिवाल जगमीत सिंह के पूर्वज थे.

ये भी पढ़ें:

प्रधानमंत्री उम्मीदवार जगमीत सिंह के टिक-टॉक वीडियो कनाडा चुनाव प्रचार में हुए वायरल

Top 10 Value Destinations for 2020: मध्यप्रदेश दुनिया का तीसरा सबसे किफायती डेस्टिनेशन

भारतीय मूल के इस शख्स को मिलेगा ब्रिटेन के प्रधानमंत्री से भी ज्यादा शक्तिशाली पद!

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चंडीगढ़ (पंजाब) से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 23, 2019, 9:04 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...