Home /News /world /

तेल कंपनी ने बनाया ग्रेटा थनबर्ग का यौन शोषण दिखाता स्टीकर, पुलिस ने कहा- पॉर्न जैसा नहीं

तेल कंपनी ने बनाया ग्रेटा थनबर्ग का यौन शोषण दिखाता स्टीकर, पुलिस ने कहा- पॉर्न जैसा नहीं

जलवायु संकट कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग के एक कार्टून ने विवाद पैदा कर दिया है (फाइल फोटो, Reuters)

जलवायु संकट कार्यकर्ता ग्रेटा थनबर्ग के एक कार्टून ने विवाद पैदा कर दिया है (फाइल फोटो, Reuters)

कनाडा (Canada) की तेल कंपनी (Oil Company) के प्रोमो स्टीकर में एक लड़की को नग्न दिखाया गया है, जिसे पीछे से खींचा जा रहा है. लड़की के पीछे 'ग्रेटा' (Greta) लिखा गया है.

    नई दिल्ली. एक भद्दे कार्टून ने कनाडा (Canada) के अल्बर्ट में रहने वाले लोगों को हैरान कर दिया है. इस कार्टून में 17 साल की जलवायु संकट ग्रेटा थनबर्ग (Climate Crisis Activist Greta Thunberg) का यौन शोषण करते दिया गया है. यह कार्टून, जिसे छापा और फैलाया जा रहा है, वह स्टीकर पर है, उसे उस तेल कंपनी (Oil Company) के साथ जोड़ा जा रहा है, जिसने अपना नाम इस कार्टून के नीचे छापा हुआ है.

    इस स्टीकर (Sticker) में एक नग्न लड़की को दिखाया गया है, जिसे पीछे से खींचा जा रहा है. लड़की के पीछे 'ग्रेटा' (Greta) लिखा है. स्टीकर के नीचे लिखा हुआ है- 'X-Site Energy Services'.

    ग्रेटा ने तस्वीर पर कहा- 'यह दिखाता है कि हम जीत रहे हैं'
    हफिंग्टन पोस्ट की एक जांच के मुताबिक इस कार्टून (Cartoon) को कंपनी के कर्मचारियों के बीच, उनके हेलमेट और अन्य काम की वस्तुओं पर स्टीकर के तौर पर चिपकाने के लिए बांटा गया था. जिसके बाद इसके 'चाइल्ड पॉर्नोग्राफी' जैसा होने के चलते कनाडा में इसकी आलोचना होने लगी.

    जब इसके बारे में कंपनी के मैनेजर से पूछा गया तो उसने जवाब दिया कि उसे इस स्टीकर (sticker) के बारे में जानकारी नहीं है. और वैसे भी ग्रेटा 17 साल की है तो वह एक बच्ची नहीं है.

    वैसे ग्रेटा ने खुद भी इस कार्टून पर अपनी बात रखी है. ग्रेटा ने इस स्टीकर के बारे में ट्विटर (Twitter) पर लिखा- वे ज्यादा से ज्यादा हताश हो रहे हैं... यह दिखाता है कि हम जीत रहे हैं.



    पुलिस ने कहा कि पॉर्नोग्राफिक नहीं है कार्टून
    शुक्रवार को क्यूबेट के नए डेमोक्रेटिक पार्टी के सांसद एलेक्जेंड्रे बुलेरिस ने इस स्टीकर का मामला कनाडा की संसद में उठाया था और संसद (Parliament) से इस कार्टून की आलोचना करने को कहा था. उन्होंने खुद भी इसे 'भद्दा' कहा था.

    हालांकि स्थानीय रिपोर्ट्स के मुताबिक अल्बर्टा रॉलय कनाडियन माउंटेड पुलिस ने एक जांच में इस 17 साल की कार्यकर्ता की तस्वीर को पॉर्नोग्राफिक नहीं माना है. जांच में कहा गया है कि तस्वीर न ही चाइल्ड पॉर्नोग्राफी (Child Pornography) है और "न ही किसी ऐसे गैर-अनुमति वाली क्रिया को दिखाती है, जिससे किसी इंसान को सीधा खतरा हो."

    हालांकि फिर भी ट्विटर यूजर्स (Twitter Users) ने तस्वीर पर अपनी कड़ी प्रतिक्रिया दी है.

    यह भी पढ़ें: ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन की गर्लफ्रेंड हुई प्रेग्नेंट, किया शादी का ऐलान

    Tags: Canada, Child sexual abuse, Climate Change, Crude oil, Oil markets, Sexual Abuse, Sexual Harassment

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर