कनाडा की गवर्नर जनरल जूली पयेटे ने आखिर क्यों दिया इस्तीफा ? विस्तार से जानें यहां...

जूली पयेटे (फाइल फोटो)

जूली पयेटे (फाइल फोटो)

कनाडा (Canada) की गवर्नर जनरल जूली पयेटे (Julie Payette) ने शोषण के आरोप लगने के बाद शुक्रवार को इस्तीफा दे दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 24, 2021, 1:52 PM IST
  • Share this:
ओटावा. कनाडा की गवर्नर जनरल और महारानी एलिजाबेथ द्वितीय की प्रतिनिधि जूली पयेटे (Julie Payette) ने शुक्रवार को अपने पद से इस्तीफा (Resign) दे दिया है. ऐसा उन्होंने अपने कार्यालय पर लगाए गए कथित कार्यस्थल उत्पीड़न के दावों को लेकर गुरुवार को प्रकाशित हुई रिपोर्ट के बाद किया. सरकार ने पिछले साल जुलाई में आरोपों की स्वतंत्र समीक्षा की थी. तब गवर्नर जनरल के आधिकारिक निवास- रिड्यू हॉल में खराब वातावरण के आरोप लगे थे.

कनाडाई मीडिया ने सूत्रों के हवाले से कहा है कि समीक्षा के निष्कर्ष बेहद खराब थे. पयेटे ने एक बयान में कहा, 'मेरे कार्यालय की अखंडता के लिए और हमारे देश और लोकतांत्रिक संस्थानों की भलाई के लिए, मैं इस नतीजे पर पहुंची हूं कि नए गवर्नर जनरल की नियुक्ति की जानी चाहिए. मैंने पद से इस्तीफा दे दिया है और कनाडा के प्रधानमंत्री को अपने फैसले के बारे में बता दिया है.'

क्या बोले प्रधानमंत्री ट्रूडो

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने पयेटे के इस्तीफे पर कहा, 'उनका इस्तीफा समीक्षा के दौरान कर्मचारियों द्वारा कार्यस्थल को लेकर जताई गई चिंताओं को दूर करने के लिए रिड्यू हॉल में नए नेतृत्व के लिए एक अवसर प्रदान करता है. पयेटे की जगह रानी एलिजाबेथ द्वितीय द्वारा नियत समय में कोई व्यक्ति घोषित किया जाएगा.'
धमकाने और अपमान करने का आरोप

गवर्नर जनरल के कार्यालय में काम करने वाले वर्तमान और पूर्व कर्मचारियों ने आरोप लगाया था कि पयेटे उन्हें धमकाती, सार्वजनिक रूप से अपमानित करती और कर्मचारियों को बुली (भयभीत) करती हैं. इस कारण कुछ ने आंखों में आंसू लिए कार्यालय को छोड़ दिया. पयेटे ने उस समय आरोपों पर जवाब देते हुए कहा था कि उन्होंने इसे काफी गंभीरता से लिया है. कनाडा के इतिहास में विशेष रूप से ऐसी परिस्थितियों में एक गवर्नर जनरल का इस्तीफा अभूतपूर्व है.

ये भी पढ़ें: दक्षिण अफ्रीका: Corona का फायदा उठा रहे हिंदू पुजारी, अंत्येष्टि के लिए वसूल रहे ज्यादा पैसे



आलोचनाओं का करना पड़ा सामना

उत्पीड़न के दावों के अलावा, पयेटे को रिड्यू हॉल में महंगे नवीकरण पर जोर देने के लिए सार्वजनिक आलोचनाओं का सामना करना पड़ा था. अक्सर रॉयल कैनेडियन माउंटेड पुलिस की कड़ी सुरक्षा को लेकर उनके मतभेद रहे हैं. इसमें जॉगिंग पर जाने के बारे में पुलिस को सूचना न देना शामिल है. उनके लंबे समय से दोस्त रहे असुनता डी लोरेंजो, जिन्हें पयेटे ने गवर्नर जनरल के सचिव के रूप में नियुक्त किया था ने उनपर कर्मचारियों के साथ दुर्व्यवहार करने का आरोप लगाया गया था.

लोगों ने छोड़ी नौकरी

लोरेंजो ने भी पयेटे के इस व्यवहार के कारण नौकरी छोड़ दी थी. अपने इस्तीफे की घोषणा करते हुए पयेटे ने पिछले कुछ महीनों में रिड्यू हॉल में 'तनाव' को लेकर माफी मांगी. उन्होंने कहा, 'हर किसी को हर समय और सभी परिस्थितियों में एक स्वस्थ और सुरक्षित कार्य वातावरण का अधिकार है. ऐसा प्रतीत होता है कि हमेशा ऐसा नहीं रहा और इसके लिए मुझे खेद है.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज