अपना शहर चुनें

States

सीडीसी ने बताया कि चीन से पहले अमेरिका पहुंच चुका था को​रोना का वायरस

अमेरिका में चीन से पहले पहुंच गया कोरोनावायरस: शोध
अमेरिका में चीन से पहले पहुंच गया कोरोनावायरस: शोध

Coronavirus in America: अमेरिका में कोरोना वायरस चीन से पहले ही पहुंच गया था. सोमवार को प्रकाशित एक अध्ययन में यह सबूत सामने आए हैं. अमेरिकन रेड क्रॉस (American Red Cross) द्वारा 13 जनवरी से 17 जनवरी के बीच 9 अमेरिकी राज्यों से इकट्ठे किए गए 7,389 ब्लड सैम्पल्स में से 106 में संक्रमणों की पहचान की गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 2, 2020, 5:08 PM IST
  • Share this:
वाशिंगटन. अमेरिका में कोरोना वायरस (Coronavirus in america) चीन से पहले ही पहुंच गया था. सोमवार को प्रकाशित एक अध्ययन में यह सबूत सामने आए हैं. अमेरिकन रेड क्रॉस (American Red Cross) द्वारा 13 जनवरी से 17 जनवरी के बीच 9 अमेरिकी राज्यों से इकट्ठे किए गए 7,389 ब्लड सैम्पल्स में से 106 में संक्रमणों की पहचान की गई.  इन नमूनों को डिजीज कण्ट्रोल एंड प्रिवेंशन (Centers for Disease Control and Prevention) के अमेरिकी सेंटरों में यह पता करने के लिए टेस्टिंग के लिए भेजा गया कि क्या उनमें कोरोना वायरस के खिलाफ एंटी बॉडी थीं. टेस्टिंग से पता चला है कि अमेरिका में दिसंबर 2019 में कोविद -19 संक्रमण मौजूद था. इस अध्ययन ने इस बात के सबूत दिए हैं कि चीन में कोरोना के आरम्भिक मामलों की सूचना मिलने के कुछ हफ़्ते पहले ही पूरे विश्व में कोरोनोवायरस का फैल चुका था.

चीन में दिसंबर 2019 के अंत में आया था पहला मामला

चीन के वुहान में इस रहस्य्मय वायरस के फैलने से जुडी रिपोर्टें पहली बार दिसंबर 2019 के अंत में सामने आई. इसके बाद ही पूरी दुनिया में इसके फैलने की खबरें आने लगी थीं. अमेरिका में कोरोना का पहला मामला 19 जनवरी को सामने आया था.



फ्रांस के मरीज को दिसंबर में दाखिल कराया गया था
सीडीसी के शोधकर्ताओं द्वारा शोध में हुए इस खुलासे से कि कोरोनोवायरस पहले से दुनिया भर में फ़ैल रहा था, इसके बाद कोरोना महामारी की उत्पत्ति से जुड़ी बहस फिर से गर्म हो सकती है. यह पहला सबूत नहीं है जिससे यह पता चले कि कोरोना वायरस 2020 से पहले चीन से बाहर मौजूद था और लोगों को संक्रमित कर रहा था. फ्रांस के एक मरीज को दिसंबर के अंत में फ्लू जैसे लक्षणों के साथ अस्पताल में भर्ती किया गया जिसमें बाद में कोरोना वायरस पाया गया था. इस मामले से उन आधिकारिक आंकड़ों का खड़ंन होता है जिनके अनुसार कोविड-19 जनवरी के अंत में वहां से फ़्रांस वापस लौट रहे लोगों से देश में पहुंचा था.



ये भी पढ़ें: हंगरी के सांसद ने सेक्स पार्टी में शामिल होने की बात स्वीकार की, इस्तीफा दिया

अमेरिका में भारतीय को मिली 20 साल की सजा, कॉल सेंटर के जरिये दे रहा था धोखा

सीडीसी अध्ययन ने इस बात के संकेत दिए हैं कि दिसंबर के मध्य में अमेरिका के पश्चिमी भाग में संक्रमण के कई मामले मिले थे. इससे पहले कि इन राज्यों में वायरस की पुष्टि होती जनवरी की शुरुआत में ही एन्टीबॉडीज होने की पुष्टि भी हुई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज