Home /News /world /

आतंकवाद पर चीन का बदला रुख, कहा- यह बाघ है, पालने वाले को भी खा जाता है.. क्या सुनेगा पाकिस्तान?

आतंकवाद पर चीन का बदला रुख, कहा- यह बाघ है, पालने वाले को भी खा जाता है.. क्या सुनेगा पाकिस्तान?

आतंकवाद पर अपने बयान पर चीन ने अमेरिका पर भी निशाना साधा. (चीन के विदेश मंत्री वाग यी)

आतंकवाद पर अपने बयान पर चीन ने अमेरिका पर भी निशाना साधा. (चीन के विदेश मंत्री वाग यी)

चीन (China) ने उन कारकों के बारे में भी बताया जिससे आतंकवाद (Terrorism) अपने दायरे को बढ़ा रहा है. उन्होंन कहा कि आतंकी संगठन विज्ञान का प्रयोग तेजी से कर रहे हैं. वे अपने नेटवर्क को मजबूत और बढ़ाने के लिए सोशल नेटवर्क (Social Network), वर्चुअल करेंसी और ऑर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जैसी टेक्नोलॉजी का प्रयोग कर रहे हैं.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली : भारत हमेशा से आतंकवाद (Terrorism) के खिलाफ रहा है और पूरी दुनिया को इससे लड़ने के लिए एकजुट होने के लिए कहता रहा है. चीन (China) को कभी भी भारत की बात नहीं समझ में आई लेकिन अफगानिस्तान (Afghanistan) में तालिबान (Taliban) के काबिज होते ही अब आतंकवाद पर चीन के सुर भी बदलने लगे हैं. ग्लोबल काउंटर टेररिज्म फोरम (Global Counterterrorism Forum) की 11वीं बैठक में चीन का आतंकवाद पर बदला हुआ चेहरा नजर आया.

    फोरम में शामिल चीन के विदेश मंत्री वांग यी (Wang Yi) ने दुनिया से आतंकवाद पर दोहरा मापदंड छोड़ने की अपील की. उन्होंने कहा कि आतंकवाद वाद का सिर्फ एक ही रूप है आतंक. इसे अच्छे और बुरे में बांटा नहीं जा सकता. उन्होंने इसकी तुलना खूंखार जानवर बाघ से कर डाली. वांग यी ने कहा कि आतंकवाद एक बाघ की तरह है जो पालने वाले को भी खा डालता है.

    पाकिस्तान की तरफ इशारा

    फिलहाल वांग यी ने अपनी इस बात में न तो पाकिस्तान का नाम लिया और न ही अफगानिस्तान का नाम लिया. राजनीतिक विश्लेषकों की मानें तो उनका इशारा इन्हीं दोनो देशों की तरफ था. उन्होंने कहा कि आतंकवाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पूरी दुनिया के लिए एक गंभीर चुनौती है. इतना ही नहीं वांग यी ने आंतकवाद के खिलाफ दुनिया के तमाम देशों के प्रयासों की तारीफ भी की.

    चीन के विदेश मंत्री ने बैठक में उन कारकों के बारे में भी बताया जिससे आतंकवाद अपने दायरे को बढ़ा रहा है. उन्होंन कहा कि आतंकी संगठन विज्ञान का प्रयोग तेजी से कर रहे हैं. वे अपने नेटवर्क को मजबूत और बढ़ाने के लिए सोशल नेटवर्क, वर्चुअल करेंसी और ऑर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जैसी टेक्नोलॉजी का प्रयोग कर रहे हैं. उन्होंन यह भी कहा कि दुनिया में कोरोना महामारी के प्रकोप की वजह से आतंकवाद के खिलाफ उठाए जाने वाले प्रयासों में काफी कमजोरी आई है.

    आतंकवाद पर अपने बयान पर चीन ने अमेरिका पर भी निशाना साधा. विदेश मंत्री ने कहा कि अफगानिस्तान से अफगान युद्ध और आज के हालात से यह साफ होता है कि अकेले सैन्य साधन के बल पर आतंकवाद का खात्मा नहीं किया जा सकता.

    Tags: Afghanistan, Taliban, Terrorism

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर