चीन को एक बड़ा झटका, ताइवान और सोमालीलैंड ने बनाए राजनयिक संबंध

चीन को एक बड़ा झटका, ताइवान और सोमालीलैंड ने बनाए राजनयिक संबंध
फोटो सौ. (सोशल मीडिया)

चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने सोमवार को कहा कि चीन (China) का सोमालिया के साथ संबंध है और ताइवान पर आरोप लगाया कि वह 'सोमाली की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता को कमतर' कर रहा है.

  • Share this:
ताइपे. चीन को एक बड़ा झटका देते हुए ताइवान (Taiwan) ने सोमालीलैंड (Somaliland) के साथ हाथ मिलाकर नए कूटनीतिक संबंध बनाए हैं. चीन के दबाव के कारण लोकतांत्रिक देश ताइवान के सिर्फ 15 देशों के साथ राजनयिक संबंध हैं जिससे यह संयुक्त राष्ट्र का सदस्य नहीं है और अधिकतर अंतरराष्ट्रीय संगठनों से यह बाहर है जहां बीजिंग का प्रभाव है. दरअसल, ताइवान पर चीन अपना दावा करता है और यह भी धमकी देता है कि आवश्यकता पड़ने पर वह सैन्य ताकत का भी इस्तेमाल कर सकता है. चुनावों व जनमत सर्वेक्षण में ताइवान की जनता चीन के साथ राजनीतिक एकीकरण को खारिज कर चुकी है. सोमालिया में 1991 में गृह युद्ध के बाद सोमालीलैंड उससे अलग हो गया.

अंतरराष्ट्रीय मान्यता नहीं होने के बावजूद इस क्षेत्र की अपनी सरकार, मुद्रा और सुरक्षा व्यवस्था है. ताइवान के विदेश मंत्रालय की वेबसाइट पर एक जुलाई को पोस्ट किए गए बयान में मंत्री जोसेफ वु ने कहा कि दोनों सरकारों ने 'मित्रता और स्वतंत्रता, लोकतंत्र, न्याय और कानून के शासन के साझा मूल्यों के आधार पर' संबंध स्थापित करने पर सहमति जताई है. वु ने कहा, 'परस्पर लाभ की भावना से ताइवान और सोमालीलैंड मत्स्य, कृषि, ऊर्जा, खनन, लोक स्वास्थ्य, शिक्षा और प्रौद्योगिकी के क्षेत्रों में सहयोग करेंगे.' वु और सोमालीलैंड के विदेश मंत्री यासिन हागी महमूद ने 26 फरवरी को ताइपे में द्विपक्षीय संबंधों पर हस्ताक्षर किए. ताइवान क्षेत्र के छात्रों को छात्रवृत्ति मुहैया करा रहा है. सोमालीलैंड की आबादी 39 लाख है.





ये भी पढ़ें: चीन से खफा डोनाल्ड ट्रंप ट्विटर पर फिर बरसे, कहा- दुनिया का किया नुकसान
ताइवान पर लगाया आरोप
चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने सोमवार को कहा कि चीन का सोमालिया के साथ संबंध है और ताइवान पर आरोप लगाया कि वह 'सोमाली की संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता को कमतर' कर रहा है. झाओ ने नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा, 'ताइवान और सोमालीलैंड के बीच आधिकारिक एजेंसी स्थापित करने या किसी तरह के आधिकारिक समझौते का चीन विरोध करता है.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading