लाइव टीवी

कोरोनावायरस: चीन में फंसे 25 भारतीय छात्र, अब तक 25 लोगों की मौत

News18Hindi
Updated: January 24, 2020, 10:57 AM IST
कोरोनावायरस: चीन में फंसे 25 भारतीय छात्र, अब तक 25 लोगों की मौत
कोरोनावायरस के कहर के बाद चीन में पांच शहरों को पूरी तरह से सील कर दिया गया है.

भारतीय दूतावास के मुताबिक, कोरोनावायरस (Coronavirus) का प्रकोप झेल रहे चीन के वुहान में केरल के 20 छात्र समेत कुल 25 छात्र फंसे हुए हैं. केरल के सीएम पिनराई विजयन ने विदेश मंत्री एस जयशंकर से पत्र लिखकर छात्रों को मदद मुहैया कराने की मांग की है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 24, 2020, 10:57 AM IST
  • Share this:
बीजिंग. चीन (China) इन दिनों कोरोनावायरस (Coronavirus) के बढ़ते खतरे से जूझ रहा है. इस वायरस की चपेट में आने से अब तक वहां पर 25 लोगों की जान जा चुकी है. वहीं, भारतीय दूतावास के मुताबिक, वुहान में केरल के 20 छात्र समेत कुल 25 छात्र फंसे हुए हैं. केरल के सीएम पिनराई विजयन ने विदेश मंत्री एस जयशंकर से पत्र लिखकर छात्रों को मदद मुहैया कराने की मांग की है.

चीन के पांच शहर सील
चीनी अधिकारियों ने गुरुवार शाम हुबेई प्रांत में 5 शहरों हुगांग, एझाओ, झिजियांग, क्विनजिआंग और वुहान में सार्वजनिक परिवहन को रोकने की घोषणा की. इस वायरस के खतरे को कम करने के लिए अब चीन मात्र 6 दिन में एक नए हॉस्पिटल को बनाने की योजना बना रहा है.

केरल की नर्स करोनावायरस से पीड़ित नहीं

इस बीच भारतीय दूतावास की तरफ से कहा गया कि सऊदी अरब में काम करने वाली केरल की एक महिला करोनावायरस से पीड़ित नहीं हैं. पहले यह खबर आई थी कि नर्स इस जानलेवा वायरस से पीड़ित हैं, लेकिन भारतीय दूतावास की तरफ से सऊदी अस्पताल में भेजे गए दो प्रतिनिधियों ने नर्स से मिलने के बाद इससे इनकार किया.

वुहान में बनेगा नया हॉस्पिटल
कोरोनावायरस के मरीजों के इलाज के लिए वुहान शहर (Wuhan City) में स्पेशल अस्पताल बनाया जा रहा है. इस अस्पताल को फिलहाल 6 एकड़ में तैयार किया जाएगा. रिपोर्ट में दावा किया गया है कि चीन की कंस्ट्रक्शन कंपनी को इस बारे में निर्देश दे दिए गए हैं. वह शुक्रवार तक इसका पूरा डिजाइन बनाकर पेश कर देगी. इसके बारे में और ज्यादा जानकारी जल्द ही सामने आ जाएगी.वुहान में स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि इस वायरस के संक्रमण से रोगियों की संख्या बढ़ती जा रही है, इस कारण मौजूदा अस्पताल में बैड की संख्या में कमी हो गई है. इससे पहले चीन में 2003 में कोरोनावायरस का संक्रमण दिखाई दिया था. लेकिन उसके मुकाबले इस बार खतरा 10 गुना ज्यादा है.

सऊदी अरब में काम कर रही एक भारतीय नर्स भी इस वायरस की चपेट में आ गयी है.


कोरोनावायरस का प्रसार रोकने के लिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद
चीन ने कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए अभूतपूर्व कदम उठाते हुए गुरुवार को पांच शहरों को सील कर दिया. अब  हुगांग, एझाओ, झिजियांग, क्विनजिआंग और वुहान में लोगों के बाहर से आने जाने पर रोक लगा दी गई है. चीनी नववर्ष के पहले सड़कों पर भीड़भाड़ बढ़ने के मद्देनजर गाड़ियों, ट्रेनों, विमानों समेत आवागमन के विभिन्न माध्यमों को रोक दिया गया है. इन शहरों में तकरीबन दो करोड़ लोग रहते हैं. देश में सबसे ज्यादा प्रभावित वुहान के रेलवे स्टेशन पर पुलिस, स्वात टीम और अर्द्धसैन्य कर्मियों को तैनात किया गया है. सुबह में अवरोधक लगाकर प्रवेश को बंद कर दिया गया.

वुहान में पसरा सन्नाटा
सड़कों, शॉपिंग मॉल, रेस्तरां और अन्य स्थानों पर आम तौर पर भीड़ रहती है लेकिन 1.1 करोड़ आबादी वाले इस वुहान शहर में बिल्कुल सन्नाटा पसरा है. सारे सार्वजनिक स्थानों को बंद कर दिया गया है. पास के हुगांग और एझाओ में भी यही स्थिति है. मनोरंजन केंद्र, सिनेमाघर, इंटरनेट कैफे और अन्य केंद्रों को भी बंद करने का आदेश दिया गया है. हुबेई प्रांत में वुहान और हुंगांग शहरों को बंद कर दिया गया है. इस प्रांत में कई भारतीय भी रहते हैं. ऐसे में भारतीय दूतावास ने अपने नागरिकों की सहायता के लिए हॉटलाइन स्थापित की है.

 

इनपुट: भाषा

 

यह भी पढ़ें....
कोरोनावायरस से हाहाकार, 11 मिलियन की आबादी वाला वुहान शहर पूरी तरह से बंद

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चीन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 24, 2020, 5:43 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर