हत्या के बाद 100 दिन तक फ्रीजर में रखा था पत्नी का शव, कोर्ट ने बरकरार रखी मौत की सजा

शंघाई नंबर 2 इंटरमीडिएट पीपुल्स कोर्ट ने झू शियाओडोंग को मौत की सजा सुनाई थी. जिसके बाद पिछले साल अगस्त में उसने शंघाई हायर पीपुल्स कोर्ट में सजा के खिलाफ अपील की थी. पीपुल्स कोर्ट ने शुक्रवार को सुनवाई करते हुए मौत की सजा बरकरार रखी.

News18Hindi
Updated: July 5, 2019, 6:03 PM IST
हत्या के बाद 100 दिन तक फ्रीजर में रखा था पत्नी का शव, कोर्ट ने बरकरार रखी मौत की सजा
आरोपी ने 100 दिनों तक शव को फ्रीजर में छिपा कर रखा था. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
News18Hindi
Updated: July 5, 2019, 6:03 PM IST
चीन के शंघाई में कोर्ट ने पत्नी की हत्या कर उसके शव को 100 दिनों तक फ्रीजर में छुपाए रखने वाले शख्स की मौत की सजा को बरकरार रखा है. सरकारी अखबार चाइना डेली में छपी खबर के अनुसार, 30 वर्षीय आरोपी झू शियाओडोंग ने हत्या के बारे में भूलने का भी प्रयास किया था और इसके लिए वह किसी अन्य महिला के साथ घूमता रहा, लेकिन ज्यादा दिन छुपा नहीं सका.

इस दौरान शियाओडोंग ने मृतक पत्नी यांग लिपिंग के क्रेडिट कार्ड से लगभग 150,000 युआन (21,800 अमेरिकी डॉलर) खर्च किए. शियाओडोंग को शंघाई नंबर 2 इंटरमीडिएट पीपुल्स कोर्ट ने मौत की सजा सुनाई थी. जिसके बाद पिछले साल अगस्त में उसने शंघाई हायर पीपुल्स कोर्ट में मौत की सजा के खिलाफ अपील की थी. पीपुल्स कोर्ट ने शुक्रवार को सुनवाई करते हुए मौत की सजा बरकरार रखी.

100 दिनों तक शव को छिपाकर रखा
कोर्ट ने कहा कि झू शियाओडोंग के इस घिनौने अपराध के लिए सजा में नरमी नहीं बरती जा सकती. मृतक यांग अपने माता-पिता के इकलौती संतान थी. कपड़े की दुकान में काम करने वाले झू ने पहले उसकी हत्या की और उसके बाद उसके शव को 100 दिनों तक फ्रीजर में छिपा कर रखा. इस दौरान आरोपी ने पत्नी के सोशल मीडिया अकाउंट से लॉग इन कर दोस्तों और रिश्तेदारों को मैसेज भी भेजे.

ऑनलाइन मंगाया था फ्रीजर
यांग और झू की शादी वारदात से 10 महीने पहले ही हुई थी. 17 अक्टूबर 2016 को यांग से किसी बात को लेकर झू की बहस हो गई थी. इसी दौरान उसने इस घटना को अंजाम दिया और जुर्म छुपाने के लिए ऑनलाइन फ्रीजर खरीदकर उसमें शव छिपा दिया था.

ये भी पढ़ें- अब सार्वजनिक जगहों पर शर्ट उतारी तो लगेगा जुर्माना, लोग बोले- 6 पैक एब्स कैसे दिखाएं
Loading...

पाकिस्तान का नया दोस्त बना तुर्की, ऐसे कर रहा है मदद
First published: July 5, 2019, 5:02 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...