लाइव टीवी

चीन ने कोरोना वायरस पर उठाया सबसे कड़ा कदम, अब जंगली जानवरों के साथ नहीं करेगा ऐसा

भाषा
Updated: February 24, 2020, 11:47 PM IST
चीन ने कोरोना वायरस पर उठाया सबसे कड़ा कदम, अब जंगली जानवरों के साथ नहीं करेगा ऐसा
चीन ने उठाया बड़ा कदम.

जंगली जानवरों (Wild Animals Trade) के व्‍यापार और उनके उपभोग को कोरोना वायरस (Corona Virus) के फैलने का मुख्‍य कारण माना जा रहा है. चीन (China) में इससे अब तक 2,592 लोगों की मौत हो चुकी है.

  • भाषा
  • Last Updated: February 24, 2020, 11:47 PM IST
  • Share this:
बीजिंग. कोरोना वायरस (Corona Virus) से जूझ रहे चीन (China) ने अब तक का सबसे अहम कदम उठाया है. पहले कोरोना वायरस को सबसे बड़ी हेल्‍थ इमरजेंसी घोषित करने के बाद अब चीन ने देश में जंगली जानवरों के व्‍यापार और उनके उपभोग (सेवन) पर पाबंदी लगा दी है. चीन की ओर से इसकी घोषणा सोमवार को की गई है. बता दें कि चीन में अब तक कोरोना वायरस से 2,592 लोगों की मौत हो चुकी है. कोरोना वायरस संक्रमण को कोविड 19 (Covid-19) नाम दिया गया है.

दरअसल चीन ने ऐसा कदम इसलिए उठाया है क्‍योंकि जंगली जानवरों के व्यापार और उपभोग को जानलेवा कोरोना वायरस के लिए जिम्मेदार माना जा रहा है. देश की शीर्ष विधायी समिति नेशनल पीपुल्स कांग्रेस (एनपीसी) ने 'जंगली जानवरों के अवैध व्यापार, अत्यधिक उपभोग की खराब आदत पर रोक लगाने और लोगों के जीवन तथा स्वास्थ्य के प्रभावी संरक्षण' से संबंधित प्रस्ताव को मंजूरी दे दी.

सार्स के बाद भी उठाया था कड़ा कदम
इससे पहले 2002-2003 में 'सार्स' वायरस फैलने के दौरान जंगली जानवरों के व्यापार और उपभोग पर अस्थायी पाबंदी लगाई गई थी. सार्स के कारण सैंकड़ों लोगों की मौत हो गई थी. चाइना सेन्ट्रल टेलीविजन (सीसीटीवी) ने कहा कि कोरोनो वायरस महामारी ने 'जंगली जानवरों के अत्यधिक उपभोग की बड़ी समस्या और इससे जन स्वास्थ्य तथा सुरक्षा को होने वाले खतरों को उजागर किया है.'



77 हजार से अधिक लोगों में पुष्टि
चीन में घातक कोरोना वायरस से 150 और लोगों की मौत के बाद इससे मरने वालों की संख्या 2,592 हो गई, जबकि पुष्टि किए गए मामलों की संख्या 77,000 से अधिक हो गई है। इस बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के विशेषज्ञों ने इससे सबसे अधिक प्रभावित हुबेई प्रांत की राजधानी वुहान में अस्पतालों का दौरा किया.

18 से अधिक शहर सील
गौरतलब है कि 1.1 करोड़ की आबादी वाला वुहान शहर कोरोना वायरस का केंद्र है और इस शहर को पृथक किया गया है. कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने से रोकने के लिए शहर 23 जनवरी से बंद पड़ा है. यहां आवाजाही भी बंद कर दी गई है. वुहान शहर हुबेई प्रांत की राजधानी है. राज्य के 18 से अधिक शहरों को सील कर दिया गया है. तब से कई सौ विदेशियों, मुख्य रूप से छात्रों सहित किसी भी निवासी को शहर छोड़ने की अनुमति नहीं है.

यह‍ भी पढ़ें: पैदा होने के बाद डॉक्‍टरों ने रुलाने के लिए मारा तो बच्‍ची ने गुस्‍से से घूरा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चीन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 24, 2020, 10:53 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

भारत

  • एक्टिव केस

    5,095

     
  • कुल केस

    5,734

     
  • ठीक हुए

    472

     
  • मृत्यु

    166

     
स्रोत: स्वास्थ्य मंत्रालय, भारत सरकार
अपडेटेड: April 09 (08:00 AM)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर

दुनिया

  • एक्टिव केस

    1,099,679

     
  • कुल केस

    1,518,773

    +813
  • ठीक हुए

    330,589

     
  • मृत्यु

    88,505

    +50
स्रोत: जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी, U.S. (www.jhu.edu)
हॉस्पिटल & टेस्टिंग सेंटर