• Home
  • »
  • News
  • »
  • world
  • »
  • क्या चीन कर रहा पाकिस्तान से किनारा, आतंकी ब्लास्ट के बाद रोका CPEC प्रोजेक्ट पर काम

क्या चीन कर रहा पाकिस्तान से किनारा, आतंकी ब्लास्ट के बाद रोका CPEC प्रोजेक्ट पर काम

प्रतीकात्मक तस्वीर.

प्रतीकात्मक तस्वीर.

पाकिस्तान (Pakistan) में दासू बांध निमार्ण कर रही चीनी कंपनी सीजीजीसी ने बस विस्फोट (Blast) में कई इंजीनियरों के मारे जाने के बाद शनिवार को बांध निमार्ण कार्य स्थगित करने की घोषणा की.

  • Share this:
    इस्लामाबाद. पाकिस्तान (Pakistan) के उत्तरी प्रांत खैबर पख्तूनख्वा में दासू बांध निमार्ण कर रही चीनी कंपनी सीजीजीसी ने बस विस्फोट में कई इंजीनियरों के मारे जाने के बाद शनिवार को बांध निमार्ण कार्य स्थगित करने की घोषणा की. खैबर पख्तूनख्वा में बुधवार को एक यात्री बस में विस्फोट की घटना में नौ चीनी इंजीनियरों समेत 13 लोगों की मौत (Death) हो गई और कई अन्य घायल हो गए. यह घटना ऊपरी कोहिस्तान जिले में उस समय हुई जब बस दसू शहर जा रही थी. मारे गए लोगों में फ्रंटियर कोर के दो जवान और बस चालक भी शामिल हैं.

    कंपनी ने अपने बयान में कहा, “14 जुलाई को बस में विस्फोट के कारण भारी संख्या में लोग हताहत हुए, सीजीजीसी दासू एचपीपी प्रबंधन को दासू पनबिजली परियोजना के निमार्ण को मजबूरन स्थगित करना पड़ रहा है.” इस परियोजना में 60 अरब डॉलर के चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे के रूप में दासू के पास सिंधु नदी पर एक पनविद्युत संयंत्र के निमार्ण योजना शुरू किया गया है.

    बता दें कि यह घटना खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के अपर कोहिस्तान जिले के दासू इलाके में हई, जिसमें 9 चीनी नागरिक समेत 13 लोगों की मौत हो गई. चीनी इंजीनियर और मजदूर की मदद से बांध का निर्माण हो रहा है. यह बांध 60 अरब डॉलर की लागत वाले चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे (सीपीईसी) का हिस्सा है. इसके बाद चीन-पाकिस्तान के बीच होने वाली महत्वपूर्ण बैठक रद्द होने की जानकारी चाइना-पाकिस्तान इकोनॉमिक कॉरिडोर के प्रमुख मेजर जनरल असीम बाजवा ने दी. बाजवा ने ट्वीट कर कहा,' सीपीईसी की यह बैठक अब ईद के बाद होगी. CPEC पर जेसीसी-10 की बैठक जो 16 जुलाई 2021 को होने वाली थी, उसे ईद के बाद बाद की तारीख के लिए स्थगित कर दिया गया है. जल्द ही एक नई तारीख का एलान किया जाएगा. हालांकि, इस बीच तैयारी जारी है.'

    ये भी पढ़ें: आतंकी हमले पर चीन का फूटा गुस्सा, कहा- पाकिस्तान कार्रवाई नहीं कर सकता, तो हम तैयार

    क्यों है पाक और चीन के लिए सीपीईसी महत्वपूर्ण
    2015 में शुरू हुई, CPEC चीन की बेल्ट एंड रोड इनिशिएटिव (BRI) की प्रमुख परियोजना है. इससे चीन से बड़े पैमाने पर निवेश आने की उम्मीद थी, जिससे पाकिस्तान के लोगों के लिए रोजगार के हजारों अवसर पैदा होंगे. जब नवाज शरीफ प्रधानमंत्री थे, तब कई परियोजनाएं पूरी होने के करीब थीं. हालांकि, इमरान खान के शासन ने राष्ट्रीय जवाबदेही ब्यूरो (एनएबी) के मौजूदा डर के कारण गंभीर आर्थिक स्थिति और नौकरशाही के असहयोग के कारण सीपीईसी परियोजनाओं को रोक दिया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज