होम /न्यूज /दुनिया /Covid-19 in China: चीन में कोरोना का कहर, 35 दिन में 60 हजार मौतें, WHO की फटकार के बाद खोली पोल

Covid-19 in China: चीन में कोरोना का कहर, 35 दिन में 60 हजार मौतें, WHO की फटकार के बाद खोली पोल

Covid-19 In China: चीन में कोरोना की बेकाबू रफ्तार और बढ़ने की आशंका है. ( प्रतीकात्‍मक फोटो)

Covid-19 In China: चीन में कोरोना की बेकाबू रफ्तार और बढ़ने की आशंका है. ( प्रतीकात्‍मक फोटो)

Covid-19 Deaths in China: चीन में सख्त शून्य कोविड नीति को अचानक वापस लिए जाने के बाद से ही संक्रमण के मामले बढ़ रहे है ...अधिक पढ़ें

नई दिल्ली. चीन ने शनिवार को सूचना दी कि देश में दिसंबर की शुरुआत से लेकर अब तक 59,938 लोगों की मौत कोविड-19 (Covid-19 Deaths in China) हुई है. महामारी की स्थिति पर आंकड़े जारी करने में सरकार की विफलता को लेकर विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) द्वारा की जा रही आलोचनाओं के बाद यह कदम सामने आया है. आधिकारिक मीडिया में आई खबर के मुताबिक, राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने शनिवार को कहा कि देश के अस्पतालों में आठ दिसंबर से 12 जनवरी तक कोविड-19 के कारण 59,938 लोगों की मौत हुई है.

स्वास्थ्य आयोग के वरिष्ठ अधिकारी जियाओ याहुई ने कहा कि मरने वालों में सांस संबंधी दिक्कत के कारण 5,503 लोगों और कोविड-19 के साथ अन्य बीमारियों के चलते 54,435 लोगों की मौत हुई है. चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने कहा कि ये मौत अस्पतालों में हुईं. इससे यह संभावना भी है कि घरों में भी लोगों की मौत हुई होगी.

चीन सरकार ने महामारी रोधी कदमों को अचानक हटाने के बाद दिसंबर की शुरुआत में कोविड-19 के मामलों और इससे होने वाली मौतों का आंकड़ा देना बंद कर दिया था. विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चीन से इस बारे में अधिक जानकारी देने को कहा था.

चीन ने हटाए कोविड संबंधी सभी नियम
बता दें चीन में सख्त शून्य कोविड नीति को अचानक वापस लिए जाने के बाद से ही संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं. चीन ने पिछले महीने घोषणा की थी कि वह अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए न्यूक्लिक एसिड जांच कराने और पृथक-वास करने संबधी कोविड-19 पाबंदियों को हटा रहा है. देशभर में शून्य कोविड नीति के विरोध में कई प्रदर्शन हुए थे. प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्रपति शी चिनफिंग से इस्तीफा देने की भी मांग की थी.

चीन सरकार ने शनिवार को कोरोना वायरस संबंधित घटनाओं को लेकर हिरासत में लिए गए कई लोगों को रिहा करने का आदेश दिया था.

पृथक-वास संबंधी सभी नियमों को हटाने की घोषणा का देश में स्वागत किया जा रहा है लेकिन इसके समय को लेकर अन्य देशों में चिंता पैदा हो गई है क्योंकि यह कदम ऐसे वक्त में उठाया गया है जब 22 जनवरी को देश में वार्षिक वसंत उत्सव मनाया जाना है जिस दौरान लाखों चीनी नागरिक दुनियाभर में यात्रा करते हैं.

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा कि चीन देश में कोरोना वायरस के प्रकोप को कमतर दिखाने की कोशिश कर रहा है.

Tags: Coronavirus in China, Covid-19 Case, WHO

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें