Home /News /world /

अरुणाचल से 17 साल के लड़के को किडनैप करने का आरोप, अब चीन ने कही ये बात

अरुणाचल से 17 साल के लड़के को किडनैप करने का आरोप, अब चीन ने कही ये बात

 चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन.

चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन.

चीनी सरकार ने कहा है कि पीलीए सीमा की रक्षा करती है और अवैध प्रवेश या निकास जैसी गतिविधियों पर नकेल कसती है. भारतीय सेना अपहृत बच्चे को लेकर चीनी सेना से संपर्क किया है और इलाके में तलाशी तेज कर दी है.

    बीजिंग. चीन के सैनिकों (Chinese Army) पर भारतीय राज्य अरुणाचल प्रदेश (Arunachal Pradesh) से 17 साल के लड़के के अपहरण(Arunachal Boy Kidnapping) का आरोप लगा है. चीन ने अब इसपर अपनी प्रतिक्रिया दी है. चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा कि उन्हें घटना की कोई जानकारी नहीं है. इससे पहले ऐसी रिपोर्ट्स थीं कि चीन की पीपुल्स लिब्रेशन आर्मी (पीएलए) ने कथित तौर पर अरुणाचल के सिआंग जिले से एक लड़के का अपहरण कर लिया है. चीनी सरकार ने कहा है कि पीलीए सीमा की रक्षा करती है और अवैध प्रवेश या निकास जैसी गतिविधियों पर नकेल कसती है. भारतीय सेना अपहृत बच्चे को लेकर चीनी सेना से संपर्क किया है और इलाके में तलाशी तेज कर दी है.

    अरुणाचल से बीजेपी सांसद तापिर गाओ (Tapir Gao) ने बुधवार को कहा था कि पीएलए ने एक टीनेजर लड़के को भारतीय क्षेत्र के भीतर के सिआंग जिले से अगवा कर लिया है. गाओ ने कहा कि लड़के की पहचान मीराम तारौन के तौर पर हुई है. चीनी सेना ने सेउंगला इलाके के लुंगटा जोर इलाके से लड़के का अपहरण कर लिया है. उन्होंने मीडिया को बताया कि तारौन का दोस्त जॉनी यियिंग पीलीए से बचकर भागने में कामयाब रहा. उसी ने स्थानीय अधिकारियों को इस अपहरण की सूचना दी.

    रूस ने मिसाइल टेस्ट के लिए अंतरिक्ष में उड़ाया अपना पुराना सैटेलाइट, दुनिया में मच गया हंगामा, जानें क्यों?

    पीएलए पर आरोपों का चीन ने दिया जवाब
    पीलीए (चीनी सेना) पर लगे अपहरण के आरोप पर जवाब देते हुए चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता वांग वेनबिन ने कहा, ‘मुझे स्थिति की कोई जानकारी नहीं है.’ चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी कानून के अनुसार सीमाओं को नियंत्रित करती है और अवैध प्रवेश और निकास गतिविधियों पर नकेल कसती है. चीनी विदेश मंत्रालय के बयान से पहले भारतीय सेना ने पीएलए से सहयोग करने और प्रोटोकॉल के अनुसार लड़के को वापस करने को कहा था. रक्षा प्रतिष्ठान के सूत्रों ने गुरुवार को यह जानकारी नई दिल्ली को दी है.

    चीन में लॉकडाउन के कारण जरूरी चीजें हुईं खत्म, दाने-दाने को संघर्ष कर रहे लोग

    भारतीय सेना ने पीएलए से संपर्क किया
    सूत्रों का कहना है कि भारतीय सेना को जैसे ही तारौन के बारे में पता चला, उसने तुरंत पीएलए से संपर्क किया और बताया कि लड़का जड़ीबूटी एकत्रित करने के दौरान अपना रास्ता भटक गया और उसे अब तक ढूंढा नहीं जा सका है. इस बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, ‘गणतंत्र दिवस से कुछ दिन पहले भारत के एक भाग्य विधाता का चीन ने अपहरण किया है. हम मीराम तारौन के परिवार के साथ हैं और उम्मीद नहीं छोड़ेंगे, हार नहीं मानेंगे. पीएम की बुजदिल चुप्पी ही उनका बयान है. उन्हें फर्क नहीं पड़ता!’ (एजेंसी इनपुट)

    Tags: Arunachal pradesh, India-China 1962 War, India-China border issue, India-china face-off, Indian army

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर