लाइव टीवी

इंटरपोल के पूर्व प्रमुख पर रिश्वतखोरी और अन्य अपराधों के आरोप: चीन

भाषा
Updated: October 8, 2018, 3:48 PM IST
इंटरपोल के पूर्व प्रमुख पर रिश्वतखोरी और अन्य अपराधों के आरोप: चीन
इंटरपोल चीफ की (फाइल फोटो)

भ्रष्टाचार एवं राजनीतिक विश्वासघात की जांच करने वाली सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी की एक एजेंसी ने रविवार रात एक संक्षिप्त घोषणा कर बताया कि मेंग पर कानून के उल्लंघनों का संदेह है.

  • Share this:
चीन के अधिकारियों ने सोमवार को कहा कि वे इंटरपोल के पूर्व प्रमुख मेंग होंगवेई पर रिश्वत लेने एवं अन्य अपराधों के आरोपों की जांच कर रहे हैं. साथ ही उन्होंने संकेत दिया कि राजनीतिक गड़बड़ियों के चलते भी चीनी अधिकारी मुसीबत में फंसा है. सरकारी वेबसाइट पर पोस्ट किए गए एक बयान में अधिकारियों ने कहा कि चीनी जनसुरक्षा उपमंत्री मेंग होंगवेई की जांच उनकी अपनी 'मनमानी और खुद पर मुसीबत' बुलाने के चलते की जा रही है.

भ्रष्टाचार एवं राजनीतिक विश्वासघात की जांच करने वाली सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी की एक एजेंसी ने रविवार रात एक संक्षिप्त घोषणा कर बताया कि मेंग पर कानून के उल्लंघनों का संदेह है. बयान में कहा गया कि मामले को लेकर अधिकारियों की गंभीरता इससे पता चलती है कि जन सुरक्षा मंत्री झाओ लेझी ने इसपर चर्चा करने के लिए मंत्रालय की पार्टी समिति के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ सोमवार तड़के बैठक की.

ये भी पढ़ें: Jewel Thief: विंको और दुनिया के बदनाम पिंक पैंथर गिरोह का कच्चा चिट्ठा



फ्रांस के न्यायिक अधिकारियों ने शुक्रवार को कहा था कि 64 वर्षीय मेंग होंगवेई लापता हैं. पिछले महीने चीन लौटते वक्त होंगवेई के अचानक गायब हो जाने के बाद फ्रांस की सरकार एवं इंटरपोल को अपनी चिंताओं को सार्वजनिक करना पड़ा था. इंटरपोल ने रविवार को घोषणा की कि होंगवेई ने अंतरराष्ट्रीय पुलिस एजेंसी के अध्यक्ष पद से तत्काल प्रभाव से इस्तीफा दे दिया है. इससे कुछ समय पहले ही चीन ने घोषणा की थी कि उनके खिलाफ जांच की जा रही है.



ये भी पढ़ें: ठगी कर पैसा भेजते थे पाकिस्तान, सरगना को पकड़ने लेंगे इंटरपोल की मदद

जन सुरक्षा मंत्रालय की वेबसाइट पर सोमवार को पोस्ट किए गए बयान में होंगवेई द्वारा कथित तौर पर ली गई घूस या अन्य अपराधों के बारे में कोई ब्यौरा नहीं दिया गया है. इसमें बताया गया है कि राजनीतिक गड़बड़ियों की वजह से भी उनके खिलाफ जांच की जा रही है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चीन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 8, 2018, 3:48 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading