अफगानिस्तान में बढ़ती हिंसा, चीन ने नागरिकों को दिया तत्काल युद्धग्रस्त देश छोड़ने का आदेश

अमेरिका और तालिबान के बीच 29 फरवरी 2020 को दोहा में हुए समझौते के अनुरूप अंतरराष्ट्रीय सैनिकों को सितंबर तक अफगानिस्तान से वापसी करनी है. (AP)

साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की खबर के अनुसार, अफगानिस्तान(Afghanistan) स्थित चीनी दूतावास ने चीनी नागरिकों से कहा है कि अमेरिका (America) और नाटो (NATO) के सैनिकों की वापसी से पहले तालिबान के नए क्षेत्रों पर कब्जा कर लेने के मद्देनजर वे तत्काल युद्धग्रस्त देश को छोड़ दें.

  • Share this:
    पेइचिंग. अमेरिकी सैनिकों की वापसी से पहले अफगानिस्तान (Afghanistan) में बढ़ती हिंसा के बीच चीन (China) ने अपने नागरिकों से तत्काल युद्धग्रस्त देश छोड़ने को कहा है. चीन ने अपने नागरिकों को ये निर्देश ऐसे समय दिया है जब हाल में अफगान सुरक्षाबलों और तालिबान (Taliwan) के बीच हिंसा और अधिक भड़क गई है. आतंकवादियों ने देश के कई नए जिलों पर कब्जा कर लिया है.

    साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की खबर के अनुसार, अफगानिस्तान स्थित चीनी दूतावास ने चीनी नागरिकों से कहा है कि अमेरिका और नाटो के सैनिकों की वापसी से पहले तालिबान के नए क्षेत्रों पर कब्जा कर लेने के मद्देनजर वे तत्काल युद्धग्रस्त देश को छोड़ दें.

    PM इमरान खान बोले- भारत के साथ कश्मीर मुद्दा सुलझ जाए, तो परमाणु बम की जरूरत नहीं होगी



    दूतावास ने चीनी नागरिकों और संगठनों से कहा है कि क्योंकि स्थिति बिगड़ रही है, इसलिए वे अतिरिक्त सतर्कता बरतें और आपातकालीन तैयारी मजबूत करें.

    उल्लेखनीय है कि अमेरिका और तालिबान के बीच 29 फरवरी 2020 को दोहा में हुए समझौते के अनुरूप अंतरराष्ट्रीय सैनिकों को सितंबर तक अफगानिस्तान से वापसी करनी है.

    अमेरिकी नौसेना ने युद्धपोत पर किया मेगा ब्लास्ट का ट्रायल, Video देखें फिर क्या हुआ

    यह समझौता अमेरिका के तत्कालीन विदेश मंत्री माइक पोम्पिओ की देख रेख में हुआ. अगर तालिबान समझौते का पालन करता है तो अमेरिका और उसके सहयोगी देश अफगानिस्तान से 14 माह के भीतर अपने बलों को वापस बुला लेंगे. अफगानिस्तान में अभी अमेरिका के करीब 13,000 सैनिक हैं. (समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ)

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.