Home /News /world /

चीन खुद की mRNA वैक्सीन बना रहा, कोरोना से जंग में होगी ज्यादा कारगर

चीन खुद की mRNA वैक्सीन बना रहा, कोरोना से जंग में होगी ज्यादा कारगर

एमआरएनए टीके एक अलग तरीके से काम करते हैं. वे शरीर में कोरोना वायरस के आनुवंशिक कोड का एक टुकड़ा रखते हैं.

एमआरएनए टीके एक अलग तरीके से काम करते हैं. वे शरीर में कोरोना वायरस के आनुवंशिक कोड का एक टुकड़ा रखते हैं.

China mRNA Covid Vaccine: एमआरएनए टीके एक अलग तरीके से काम करते हैं. वे शरीर में कोरोनावायरस के आनुवंशिक कोड का एक टुकड़ा रखते हैं, जिसे लिपिड ड्रॉपलेट के अंदर रखा जाता है. एक बार जब यह कोशिकाओं के अंदर पहुंच जाता है, तो कोड पढ़ा जाता है और कोशिकाएं कोरोनावायरस के एक महत्वपूर्ण हिस्से, इसके स्पाइक प्रोटीन की प्रतियां तैयार करती हैं.

अधिक पढ़ें ...

    बीजिंग. चीन (China) में पहली बार कोरोना वायरस (Coronavirus) का पता लगा था. हालांकि, चीन ने अब तक फाइजर और मॉडर्ना (Pfizer and Moderna) की विकसित असाधारण रूप से प्रभावी एमआरएनए कोविड वैक्सीन (mRNA Corona Vaccine) में से किसी का आयात नहीं किया है. इसकी बजाय चीन सिनोवैक और सिनोफार्म के टीकों पर निर्भर है. लेकिन अब ये देश अपना खुद का एमआरएनए (mRNA vaccine) वैक्सीन विकसित कर रहा है.
    सिनोवैक और सिनोफार्मा दोनों टीके एक पारंपरिक डिजाइन का उपयोग करते हैं, जिसमें कोरोना वायरस के तमाम स्वरूप होते हैं, जो निष्क्रिय हो गए हैं. टीके बनाने का एक आजमाया हुआ तरीका जो काम करता है. हालांकि, ये टीके शुरू में लोगों को लक्षण वाला कोविड होने से रोकने में काफी अच्छे थे, यह सुरक्षा समय के साथ काफी कम हो गई. ये टीके ओमिक्रोन के संक्रमण से भी पर्याप्त सुरक्षा प्रदान नहीं करते हैं. इसने चीन पर अधिक प्रभावी टीके विकसित करने का दबाव डाला है, क्योंकि वह वायरस के खिलाफ सख्त नियंत्रण नीति अपना रहा है.

    बेफिक्र रहिए! वैक्सीनेटेड हैं तो कोरोना से नहीं होगी मौत, पढ़ें ये रिसर्च

    एमआरएनए टीके एक अलग तरीके से काम करते हैं. वे शरीर में कोरोनावायरस के आनुवंशिक कोड का एक टुकड़ा रखते हैं, जिसे लिपिड ड्रॉपलेट के अंदर रखा जाता है. एक बार जब यह कोशिकाओं के अंदर पहुंच जाता है, तो कोड पढ़ा जाता है और कोशिकाएं कोरोनावायरस के एक महत्वपूर्ण हिस्से, इसके स्पाइक प्रोटीन की प्रतियां तैयार करती हैं. प्रतिरक्षा प्रणाली तब इन स्पाइक प्रोटीनों को देखती है और उनके प्रति प्रतिक्रिया बढ़ाती है, जिससे आने वाले पूर्ण वायरस के खिलाफ प्रतिरक्षा उत्पन्न होती है.

    एमआरएनए के टीकों ने शुरू में कोविड के खिलाफ उच्च स्तर की सुरक्षा उत्पन्न की. चूंकि दो खुराकों द्वारा दी जाने वाली सुरक्षा समय के साथ कम हो जाती है और ओमिक्रोन के साथ संक्रमण के खिलाफ बहुत कम सुरक्षा प्रदान करती है, एमआरएनए टीके बूस्टर के रूप में उपयोग किए जाने पर ओमिक्रोन संक्रमण के खिलाफ सर्वोत्तम सुरक्षा प्रदान करते हैं. वे गंभीर बीमारी के खिलाफ बहुत प्रभावशाली सुरक्षा प्रदान करते हैं.

    शुरुआती नतीजे बताते हैं कि सिनोवैक की तीसरी खुराक, तुलनात्मक रूप से, नए संस्करण के साथ संक्रमण को रोकने में असमर्थ है (हालांकि ये परिणाम अभी भी प्रीप्रिंट में हैं, जिसका अर्थ है कि वे अन्य वैज्ञानिकों द्वारा समीक्षा की प्रतीक्षा कर रहे हैं).

    रिसर्च में दावा- कोरोना से रिकवरी के बाद भी रहता है हार्ट अटैक का खतरा

    चीन बना रहा है एआरसीओवी
    ऐसा लगता है कि एमआरएनए वैक्सीन तकनीक भविष्य में कोविड के खिलाफ सबसे अच्छी सुरक्षा प्रदान करेगी इसलिए चीन इस तरह के टीके का विकास कर रहा है. हालांकि उसने इस संबंध में किसी को ज्यादा भनक नहीं लगने दी है. एमआरएनए की जगह चीन की अपनी वैक्सीन एआरसीओवी का विकास, मार्च 2020 में शुरू हुआ. इस्तेमाल की जाने वाली तकनीक फाइजर और मॉडर्न वैक्सीन के समान है, जो वायरस के संशोधित मैसेंजर आरएनए का उपयोग करती है, जिसे लिपिड ड्रॉपलेट में रखा जाता है, ताकि प्रतिरक्षा को बढ़ाया जा सके.

    हालांकि, फाइजर और मॉडर्न टीकों की तरह वायरस के पूर्ण स्पाइक प्रोटीन से निपटने के लिए प्रतिरक्षा प्रणाली तैयार करने के बजाय, एआरसीओवी रिसेप्टर बाइंडिंग डोमेन (आरबीडी) की प्रतियां बनाती है, जो वायरस के स्पाइक प्रोटीन का एक प्रमुख उप-भाग है, जिसे यह कोशिकाओं से जुड़ने और प्रवेश करने के लिए उपयोग करता है. वायरस का यह हिस्सा प्रतिरक्षा प्रणाली द्वारा विशेष रूप से पहचाना जाता है, जो बताता है कि इसे लक्षित करने से बेहतर सुरक्षा मिल सकती है. (एजेंसी इनपुट)

    Tags: 10 common symptoms of Coronavirus, Coronavirus 2nd Wave, Moderna, Moderna mRNA HIV Vaccine, Pfizer, Pfizer-BioNTech

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर