जिस कोरोना वायरस से इलाज के लिए युवा डॉक्‍टर ने टाली थी शादी, उसी से हुई मौत

जिस कोरोना वायरस से इलाज के लिए युवा डॉक्‍टर ने टाली थी शादी, उसी से हुई मौत
चीन में वुहान के डॉक्टर कोरोना वायरस के दीर्घकालिक प्रभावों का अध्ययन कर रहे हैं.

अब चीन में 29 साल के एक ऐसे युवा डॉक्‍टर की मौत इसके कारण हुई, जिसने कोरोना वायरस (Corona Virus) के मरीजों के इलाज के लिए अपनी शादी को टाल दिया था. चीन में अब तक करीब 9 ऐसे लोगों की मौत हो चुकी है, जो कोरोना वायरस के मरीजों की देखभाल कर रहे थे.

  • Share this:
बीजिंग. चीन (China) में कोरोना वायरस (Corona Virus) अब भी सबसे बड़ा खतरा बना हुआ है. इस बीमारी के कारण 2 हजार से ज्‍यादा लोगों की मौत हो चुकी है. अब चीन में 29 साल के एक ऐसे युवा डॉक्‍टर की मौत इसके कारण हुई, जिसने कोरोना वायरस (Corona Virus) के मरीजों के इलाज के लिए अपनी शादी को टाल दिया था. चीन में अब तक करीब 9 ऐसे लोगों की मौत हो चुकी है, जो कोरोना वायरस के मरीजों की देखभाल कर रहे थे.

चीन के हैल्‍थ ब्‍यूरो के अनुसार, 29 वर्षीय डॉक्‍टर पेंग यिन्‍हुआ वुहान हॉस्‍पिटल में कोरोना वायरस से प्रभावित मरीजों का इलाज कर रहे थे. इसी दौरान वह भी कोरोना की चपेट में आ गए. पेंग रेसपाइरेटरी एक्‍यूट केयर चिकित्सक थे. उन्हें 25 जनवरी को अस्पताल में भर्ती कराया गया था. 30 जनवरी को उन्हें वुहान के दूसरे अस्पताल में रैफर किया गया था. गुरुवार रात उनकी मौत हो गई.

चीन के अखबार ग्लोबल टाइम्स के अनुसार, पेंग ने अपनी शादी सिर्फ इसलिए आगे बढ़ा दी थी क्योंकि वह कोरोना वायरस के बढ़ते मरीजों का इलाज करना चाहते थे. डॉक्टरों का कहना है कि हमनें उन्हें बचाने की काफी कोशिश की, लेकिन हम कामयाब नहीं हुए.



चीनी स्वास्थ्य अधिकारियों ने पेंग की मौत के बाद अब स्वास्थ्य एजेंसियों को मरने वाले चिकित्सा कर्मचारियों के लिए शहीद सम्मान के लिए आवेदन करने के लिए कहा है. इसका उद्देश्य मृतक के परिवारों को सांत्वना देना और उनकी कठिनाइयों को हल करने में मदद करना है. साथ ही उन लोगों की कहानियों को लोगों को प्रचारित करना जिन्होंने महामारी के दौरान अपने जीवन का बलिदान दिया. इससे पहले भी कोरोना वायरस के मरीजों का इलाज करते हुए चीन में कुछ लोगों ने अपनी जान गंवाई थी.



ली वेनलियांग चीन में पहले डॉक्टर थे, जिन्होंने कोरोना वायरस के बारे में सरकार को चेतावनी दी थी, लेकिन उनकी बात को गंभीरता से नहीं लिया गया. उनकी मौत 7 फरवरी को हुई थी. ली ने सबसे पहले 30 दिसंबर को इसके बारे में बताया था. उन्होंने वुहान के 7 मरीजों में कोरोना वायरस के होने की आशंका जाहिर की थी.

यह भी पढ़ें....सिर्फ मेलानिया ही नहीं, भारत दौरे पर बेटी-दामाद को भी साथ ला सकते हैं ट्रंप

भारत के पास रखे सोने से 5 गुना ज्यादा है सोनभद्र में मिला Gold, जानें कीमत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading