G-20 समिट में हांगकांग के मुद्दे पर चर्चा करना चाहते हैं ट्रंप, चीन करेगा विरोध

हांगकांग में एक विधेयक को लेकर व्यापक स्तर पर प्रदर्शन हुए हैं. इस विधेयक में आरोपियों पर मुकदमा चलाने के लिए उन्हें चीन प्रत्यर्पित किए जाने का प्रावधान है.

News18Hindi
Updated: June 24, 2019, 6:58 PM IST
G-20 समिट में हांगकांग के मुद्दे पर चर्चा करना चाहते हैं ट्रंप, चीन करेगा विरोध
चीन ने सोमवार को कहा कि वह इस सप्ताह जापान में होने जा रहे जी-20 शिखर सम्मेलन में हांगकांग के मुद्दे पर चर्चा की इजाजत नहीं देगा. (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: June 24, 2019, 6:58 PM IST
चीन ने सोमवार को कहा कि वह इस सप्ताह जापान में होने जा रहे जी-20 शिखर सम्मेलन में हांगकांग के मुद्दे पर चर्चा की इजाजत नहीं देगा जबकि अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ मुलाकात में प्रदर्शन पर चर्चा करने का मन बना रखा है.

हांगकांग में एक विधेयक को लेकर व्यापक स्तर पर प्रदर्शन हुए हैं. इस विधेयक में आरोपियों पर मुकदमा चलाने के लिए उन्हें चीन प्रत्यर्पित किए जाने का प्रावधान है.

विरोध प्रदर्शन में हिंसा के बाद पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए रबड़ की गोलियां चलाईं और आंसू गैस के गोले छोड़े. प्रत्यर्पण विधेयक और प्रदर्शन को लेकर पुलिस की कार्रवाई के बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मानवाधिकार कार्यकर्ताओं ने आलोचना की.

चीन कर रहा है विरोध करने की तैयारी

चीन ने कहा है कि अमेरिका या किसी अन्य देश द्वारा 27-28 जून को जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान हांगकांग का मुद्दा उठाए जाने का वह विरोध करेगा. ऐसी संभावना है कि शिखर सम्मेलन के दौरान शी के साथ अपनी मुलाकात के दौरान ट्रंप और दूसरे देश यह मुद्दा उठा सकते हैं. चीन के उप विदेश मंत्री झांग जून ने कहा कि चीन बैठक में मुद्दा उठाने की अनुमति नहीं देगा. जी-20 वैश्विक आर्थिक मुद्दों पर आधारित समूह है.

झांग ने कहा, "मैं आपको निश्चित तौर पर बता सकता हूं कि जी-20 में हांगकांग मुद्दे पर बातचीत नहीं की जाएगी और जी-20 को हांगकांग मुद्दे पर चर्चा की अनुमति नहीं देंगे."

उन्होंने कहा कि हांगकांग चीन का विशेष क्षेत्र है और किसी भी विदेशी मुल्क को दखल देने का हक नहीं है. ट्रंप द्वारा मुद्दा उठाए जाने संबंधी सवाल पर उन्होंने कहा, "हांगकांग मामला पूरी तरह से चीन का आंतरिक मामला है और किसी भी विदेशी मुल्क को दखल देने का हक नहीं है."
ये भी पढ़ें: हांगकांग में फिर क्यों फूट रहा है चीन के खिलाफ गुस्सा? सड़कों पर क्यों उतरे लाखों लोग?
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...