Home /News /world /

कोरोना के बाद अब हांगकांग के बाजार से फैली रहस्यमयी बीमारी, अबतक 7 लोगों की मौत

कोरोना के बाद अब हांगकांग के बाजार से फैली रहस्यमयी बीमारी, अबतक 7 लोगों की मौत

मछली से जुड़ा बैक्टीरियल संक्रमण देखा गया है. (AP)

मछली से जुड़ा बैक्टीरियल संक्रमण देखा गया है. (AP)

इस संक्रमण से अब तक 7 लोगों की मौत हो चुकी है. रिपोर्ट के अनुसार, सेंटर फॉर हेल्थ प्रोटेक्शन (सीएचपी) ने गुरुवार को पुष्टि की कि उसने बैक्टीरिया के एक ही ST283 स्ट्रेन से संक्रमित 32 लोगों के समूह की पहचान की है.

    बीजिंग. अभी दुनिया कोरोना से ही निपटने में लगी है कि इस बीच हांगकांग (hong kong) में एक रहस्यमयी बीमारी ने 7 लोगों की जान ले ली है. विशेषज्ञों ने इसे बैक्टीरियल इंफेक्शन (Outbreak of Bacterial Infection) बताया है. लोगों को सीफूड (Seafood) को लेकर चेतावनी दी जा रही है. हांगकांग के वेट मार्केट्स ने कहा है कि उसके यहां फ्रैश वाटर फिश यानी मछली से जुड़ा बैक्टीरियल संक्रमण देखा गया है.

    इस संक्रमण से अब तक 7 लोगों की मौत हो चुकी है. रिपोर्ट के अनुसार, सेंटर फॉर हेल्थ प्रोटेक्शन (सीएचपी) ने गुरुवार को पुष्टि की है कि उसने बैक्टीरिया के एक ही ST283 स्ट्रेन से संक्रमित 32 लोगों के समूह की पहचान की है.

    करीब 79 केस में ग्रुप बी स्ट्रेप्टोकोकस बैक्टीरिया संक्रमण का पता चलने के बाद मेडिकल एक्सपर्ट्स ने लोगों से सीफूड न खाने की सलाह दी है. यह सभी केस सितंबर से 10 अक्टूबर के बीच आए हैं. सीएचपी के मुताबिक, गुरुवार को इसमें 9 केस आने के बाद अब कुल मरीजों की संख्या 88 हो गई है.

    हांगकांग चैम्बर ऑफ सीफूड मर्चेंट के चेयरमैन ली चोइ-वाह ने बताया कि नई रहस्यमयी बीमारी के बाद बिजनेस ठप हो जाएगा. उन्हांेने दुकानदारों और ग्राहकों से फिश खरीदने-बेचने के दौरान सतर्कता बरतने को कहा है. अभी तक की रिपोर्ट के मुताबिक, इस बीमारी का संबंध ग्रास कार्प, बिगहेड कार्प और स्नेकहेड मछली से जुड़ रहा है.

    ग्रुप बी स्ट्रेप्टोकोकस बैक्टीरिया ज्यादातर आंतों, मूत्र और प्रजनन के हिस्सों में देखा जाता है. आमतौर पर परेशानी नहीं करता है और इसका कोई लक्षण भी नहीं दिखता है. लेकिन इससे खून, हड्डी, फेफड़े या ब्रेन और रीढ़ की हड्डी को कवर करने वाली सुरक्षात्मक झिल्लियों में संक्रमण होने का खतरा बढ़ सकता है.

    Tags: Hong kong

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर