लाइव टीवी

3 अरब डॉलर घट गया भारत और चीन के बीच व्यापार, ये है बड़ा कारण

भाषा
Updated: January 14, 2020, 11:51 PM IST
3 अरब डॉलर घट गया भारत और चीन के बीच व्यापार, ये है बड़ा कारण
2019 में इसके 100 अरब डॉलर पहुंचने की उम्मीद थी यह 3 अरब डॉलर कम होकर 92.68 अरब डॉलर रहा.

2019 में चीन (China) से भारत (India) को निर्यात 74.72 अरब डॉलर रहा. 2018 में चीन ने भारत (India China Trade) को 76.87 अरब डॉलर का निर्यात किया था. इसी दौरान भारत का चीन को निर्यात घट कर 17.95 अरब डॉलर के बराबर रहा.

  • Share this:
बीजिंग. भारत-चीन (India china) के बीच व्यापार एक साल पहले की तुलना में करीब 3 अरब डॉलर कम रहा. दोनों देशों में आर्थिक नरमी से व्यापार प्रभावित हुआ है. व्यापार में गिरावट के बावजूद वर्ष 2019 में चीन के साथ भारत का व्यापार घाटा (चीन को निर्यात की तुलना में वहां से आयात का आधिक्य) 56.77 अरब डॉलर के साथ ऊंचा बना रहा. चीन के सीमा शुल्क सामान्य विभाग (जीएसीसी) के मंगलवार को जारी आंकड़े के अनुसार भारत के साथ व्यापार में चीनी मुद्रा-आरएमबी-युआन के हिसाब से 1.6 प्रतिशत की हल्की वृद्धि हुई है जबकि डॉलर के हिसाब से व्यापार 3 अरब डॉलर घटा है.

जीएसीसी के उप-मंत्री जोऊ झिवु ने कहा कि चीन-भारत का द्विपक्षीय व्यापार पिछले साल 639.52 अरब युआन (करीब 92.68 अरब डॉलर) रहा. यह सालाना आधार पर 1.6 प्रतिशत अधिक है. चीन का भारत को निर्यात पिछले साल 2.1 प्रतिशत बढ़कर 515.63 अरब युआन रहा जबकि भारत का चीन को निर्यात 0.2 प्रतिशत घटकर 123.89 अरब युआन रहा. भारत का व्यापार घाटा 2019 में 391.74 अरब युआन रहा.

हालांकि डॉलर के संदर्भ में दोनों देशों के बीच व्यापार कम हुआ है. 2018 में द्विपक्षीय व्यापार 95.7 अरब डॉलर था. 2019 में इसके 100 अरब डॉलर तक पहुंचने की उम्मीद थी यह 3 अरब डॉलर कम होकर 92.68 अरब डॉलर रहा. वर्ष-2019 में चीन से भारत को निर्यात 74.72 अरब डॉलर रहा. 2018 में चीन ने भारत को 76.87 अरब डॉलर का निर्यात किया था. इसी दौरान भारत का चीन को निर्यात घट कर 17.95 अरब डॉलर के बराबर रहा. यह इससे पिछले वर्ष 18.83 अरब डॉलर था. वर्ष 2019 में चीन के साथ भारत का व्यापार घाटा 56.77 अरब डॉलर रहा. यह 2018 में 58.04 अरब डॉलर था.

यह भी पढ़ें...

जनवरी में और सताएगी महंगाई, 8 फीसदी के पार जाने की आशंका: SBI रिपोर्ट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चीन से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 14, 2020, 11:25 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर