दो महाशक्तियों के बीच व्यापारिक युद्ध, चीन अब अमेरिका का सबसे बड़ा 'ट्रेडिंग पार्टनर' नहीं

'ट्रेड वॉर' की वजह से चीन अब अमेरिका का सबसे बड़ा 'ट्रेडिंग पार्टनर' नहीं रहा, जानिए किस देश ने चीन को किया है रिप्लेस?

News18Hindi
Updated: August 3, 2019, 2:33 PM IST
दो महाशक्तियों के बीच व्यापारिक युद्ध, चीन अब अमेरिका का सबसे बड़ा 'ट्रेडिंग पार्टनर' नहीं
अमेरिका-चीन के बीच जारी है व्यापार युद्ध
News18Hindi
Updated: August 3, 2019, 2:33 PM IST
वर्तमान में चल रहे व्यापारिक युद्ध के परिणामस्वरूप, चीन अब संयुक्त राज्य अमेरिका का शीर्ष व्यापारिक भागीदार नहीं है. एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका के पड़ोसी देश मैक्सिको और कनाडा अब चीन की जगह अमेरिका के शीर्ष व्यापारिक भागीदार बन चुके हैं.

द वाल स्ट्रीट जर्नल के मुताबिक, वर्ष की पहली छमाही में आधिकारिक तौर पर मैक्सिको अमेरिका का सबसे बड़ा व्यापारिक भागीदार बन के उभरा है. मैक्सिको के बाद इस रेस में कनाडा का नाम है.

डेली के रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिका और चीन के बीच चल रहे ट्रेड के परिणामस्वरूप, चीन से अमेरिका के लिए आयात में 12 प्रतिशत की गिरावट आई है. वहीं चीन के लिए अमेरिका का निर्यात 19 प्रतिशत तक का गिर गया.

सत्ता में आने के बाद, ट्रम्प ने 250 बिलियन अमरीकी डालर के चीनी उत्पादों पर 25 प्रतिशत आयात शुल्क लगाया हुआ है. 300 बिलियन अमरीकी डालर के उत्पादों पर एक और 10 प्रतिशत का टैरिफ एक सितंबर से लागू होगा. ट्रम्प ने अब तक यह माना है कि चीन अमेरिका के साथ अन्याय करता रहा है. इसके बदले में चीन ने भी कई जवाबी कदम उठाए हैं.

द वॉल स्ट्रीट जर्नल ने लिखा है कि वाणिज्य विभाग की रिपोर्ट के मताबिक, चीन के साथ बदले गए द्विपक्षीय सामानों का कुल मूल्य वर्ष की पहली छमाही में 14 प्रतिशत गिरकर 271.04 बिलियन अमरीकी डॉलर हो गया है.

द वॉल स्ट्रीट जर्नल के मुताबिक, "2015 से 2018 तक अमेरिकी व्यापारिक भागीदारों के बीच शीर्ष स्थान पर रहने के बाद, चीन अब नंबर 3 पर पहुंच गया है और 2005 के बाद पहली बार एक छोटा देश मैक्सिको इस स्थान पर कबिज है"

ये भी पढ़ें:
Loading...

आखिर क्यों की दुबई प्रिंस की छठी बेगम ने बगावत और भागी लंदन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 3, 2019, 2:18 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...