Home /News /world /

चीन की नई चाल, बढ़ाएगा सैनिकों की संख्या, राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने दिए निर्देश

चीन की नई चाल, बढ़ाएगा सैनिकों की संख्या, राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने दिए निर्देश

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (फाइल फोटो-AP)

चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग (फाइल फोटो-AP)

Xi Jinping says need to recruit new talent to support the armed forces: चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने पीपुल्स लिबरेशन आर्मी को नए युवाओं को सेना में भर्ती किए जाने के आदेश दिए हैं ताकि सेना के आधुनिकीकरण में मदद मिल सके और भविष्य में होने वाले युद्धों की तैयारी की जा सके. सेना से जुड़े एक कार्यक्रम में बोलते हुए शी जिनपिंग ने कहा कि अपनी सैन्य शक्तियों में इजाफा करके युद्ध जीतना ही सेना का मुख्य उद्देश्य होना चाहिए. चीन के राष्ट्रपति के अनुसार मिलिट्री कॉम्पिटीशन और भविष्य में होने वाले युद्धों को जीतने के लिए देश की सेना और उन्नत करने की जरूरत है

अधिक पढ़ें ...

    बीजिंग: पड़ोसी देश चीन (China) अपनी सेना के आधुनिकीकरण पर लगातार काम कर रहा है. इसी कड़ी में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने एक बड़ी बात कही है. उन्होंने पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (People’s Liberation Army ) से फौज के आधुनिकीकरण और भविष्य में संभावित युद्धों की तैयारी को लेकर नए युवाओं की भर्ती करने को कहा है. एक मिलिट्री कॉन्फ्रेंस में प्रेसिडेंट शी जिनपिंग ने यह बयान दिया है. चीन के राष्ट्रपति के अनुसार मिलिट्री कॉम्पिटीशन और भविष्य में होने वाले युद्धों को जीतने के लिए देश की सेना को और उन्नत करने की जरुरत है.

    सेना से जुड़े एक कार्यक्रम में बोलते हुए शी जिनपिंग ने कहा कि अपनी सैन्य शक्तियों में इजाफा करके युद्ध जीतना ही सेना का मुख्य उद्देश्य होना चाहिए. यह कार्यक्रम चीनी सेना के आधुनिकीकरण से जुड़े प्रयासों पर आधारित था. जिसमें इस बात पर जोर दिया गया कि साइंस और नई टेक्नोलॉजी की मदद से कैसे सेना को मजबूत बनाया जाए ताकि भविष्य में होने वाले युद्धों को जीता जा सके.

    यह भी पढ़ें: फिर चीन को ताइवान ने दी खुली चेतावनी…हम हमलों से डरने वाले नहीं, पूरा जवाब मिलेगा

    “तेजी से हो मिलिट्री स्कूल, ट्रेनिंग सेंटर्स का निर्माण”
    चीन की न्यूज एजेंसी के अनुसार, इस मौके पर राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने फर्स्ट क्लास मिलिट्री और फर्स्ट क्लास मिलिट्री ट्रेनिंग सेंटर के निर्माण में तेजी लाने की बात कही. वहीं हॉन्ग कॉन्ग स्थित साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट में सोमवार को यह खबर छपी कि चीन की सेना ने 30,0000 नए सैनिकों की भर्ती को लेकर युवाओं को प्रोत्साहित करने के लिए संसाधन आवंटित किए हैं. चीन अपनी सैन्य गतिविधियों में लगातार बढ़ोतरी कर रहा है और चीन के राष्ट्रपति का यह बयान उस वक्त आया है जब भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख में LAC पर सैन्य गतिरोध जारी है.

    इस चीनी अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, चीन की सेना एयरफोर्स, रॉकेट मिसाइल फोर्स, स्ट्रेटेजिक स्पोर्टिंग फोर्स में बढ़ोतरी हुई है. चीनी सेना के सूत्रों के अनुसार, पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के एयरबोर्न ट्रूप्स
    यूनिट को डिवीजनल लेवल से ब्रिगेड लेवल तक अपग्रेड किया गया है. जबकि पायलटों की संख्या को भी बढ़ाया गया जिससे न्यू जनरेशन फाइटर जेट J-20s, J-16s, J-10Cs को उड़ाने में मदद मिल सके.

    चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग का लक्ष्य है कि पीपुल्स लिबरेशन आर्मी को 2027 तक आधुनिक लड़ाकू बल के तौर पर तैयार किया जाए और 2050 तक अमेरिकी सेना के बराबर सैन्य ताकत हासिल की जाए.

    Tags: China, Xi jinping

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर