होम /न्यूज /दुनिया /चीन में लॉकडाउन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन तेज, राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मांगा इस्तीफा, कोविड के मामले फिर बढ़े

चीन में लॉकडाउन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन तेज, राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मांगा इस्तीफा, कोविड के मामले फिर बढ़े

बीजिंग में लॉकडाउन का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों ने मांगा राष्ट्रपति का इस्तीफा. (AFP Photo)

बीजिंग में लॉकडाउन का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारियों ने मांगा राष्ट्रपति का इस्तीफा. (AFP Photo)

World News: शंघाई में शनिवार और रविवार को प्रदर्शनकारियों ने सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना (सीपीसी) तथा देश के र ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

चीन में लगातार बढ़ रहे कोविड के मामले, बीजिंग में लगातार पांचवें दिन 4000 केस आए सामने
कोविड प्रतिबंधों को लेकर बीजिंग में विरोध प्रदर्शन, बीजिंग और नानजिंग में छात्रों ने प्रदर्शन किया.
शंघाई में प्रदर्शनकारियों ने कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना तथा राष्ट्रपति से इस्तीफा देने की मांग की.

बीजिंग: चीन में कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए लागू किए गए कड़े प्रतिबंधों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन का दायरा राजधानी बीजिंग तक फैल गया है. इस बीच, चीन में संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं और रविवार को करीब 40,000 नए मामले सामने आए. लगातार पांचवें दिन बीजिंग में कोरोना वायरस के करीब 4,000 मामले सामने आए हैं. चीन के राष्ट्रीय स्वास्थ्य आयोग ने कहा कि सोमवार को संक्रमण के 39,452 नए मामले आए, जिनमें 36,304 स्थानीय मामलों में मरीजों में बीमारी के लक्षण नहीं देखे गए.

बीजिंग में हुआ विरोध प्रदर्शन
इस बीच, सप्ताहांत के दौरान पूर्वी महानगर शंघाई में शुरू हुए प्रदर्शन बीजिंग तक फैल गए जहां मध्य शहर में लियांगमाहे नदी के समीप रविवार शाम को सैकड़ों लोग एकत्रित हो गए. शंघाई के उरुमकी में बृहस्पतिवार को लॉकडाउन के दौरान एक अपार्टमेंट में आग लग जाने की घटना में मारे गए लोगों की याद में मोमबत्तियां लिए हुए लोगों ने सरकार द्वारा मनमाने लॉकडाउन के खिलाफ और शंघाई में प्रदर्शनों के प्रति एकजुटता जताते हुए नारे लगाए. कई राजनयिकों और विदेशियों ने प्रदर्शन देखा क्योंकि ये प्रदर्शन बीजिंग में राजनयिक आवासीय परिसर के समीप हुए. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि प्रदर्शन कई घंटे तक हुए और पुलिस ने कई लोगों को हिरासत में लिया.

राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मांगा इस्तीफा
शंघाई में शनिवार और रविवार को प्रदर्शनकारियों ने सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना (सीपीसी) तथा देश के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से इस्तीफा देने की मांग की. बीजिंग में प्रतिष्ठित सिंघुआ विश्वविद्यालय और नानजिंग में कम्यूनिकेशन यूनिवर्सिटी में भी छात्रों ने प्रदर्शन किया. ऑनलाइन अपलोड की गयी तस्वीरों और वीडियो में छात्र उरुमकी हादसे के पीड़ितों के लिए मार्च करते हुए और विश्वविद्यालयों में प्रदर्शन करते हुए दिखायी दिए. सिंघुआ विश्वविद्यालय ने एक नए नोटिस में छात्रों से कहा कि अगर वे जनवरी की छुट्टियों के मद्देनजर घर जाना चाहते हैं तो जा सकते हैं.

Tags: China, COVID 19, Lockdown

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें