चीन ने गुपचुप तरीक से लॉन्च किया दोबारा इस्तेमाल होने वाला स्पेसक्राफ्ट

चीन ने गुपचुप तरीक से लॉन्च किया दोबारा इस्तेमाल होने वाला स्पेसक्राफ्ट
प्रतीकात्मक तस्वीर

चीन (China) ने शुक्रवार को दोबारा इस्तेमाल (Re Usable Technique) की जाने वाली अंतरिक्ष यान (Spacecraft) तकनीकी के इस्तेमाल में पहली सफलता हासिल कर ली. चीन ने यह बात नहीं बताई कि यह किस अभियान का हिस्सा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 5, 2020, 9:31 AM IST
  • Share this:
बीजिंग. चीन (China) ने शुक्रवार को दोबारा इस्तेमाल (Re Usable Technique) की जाने वाली अंतरिक्ष यान (Spacecraft) तकनीकी के इस्तेमाल में पहली सफलता हासिल कर ली. चीन ने यह बात नहीं बताई कि यह किस अभियान का हिस्सा है. यह अंतरिक्ष यान चीन के उत्तर पश्चिमी में स्थित जियूक्वुआन सेटेलाइट लॉन्च सेंटर से लॉन्च की गई. इस अंतरिक्ष यान को लॉन्ग मार्च-2एफ रॉकेट से अंतरिक्ष में भेजा गया है. यह जानकारी सरकारी समाचार एजेंसी शिंहुआ ने दी.

कक्षा की परिक्रमा कर चीन की धरती पर लैंड करेगा यह स्पेसक्राफ्ट

रिपोर्ट के अनुसार यह यान अपनी कक्षा में अभियान को पूरा कर चीन की धरती पर वापस लैंडिंग करेगा. इस यान के जरिये चीन अंतरिक्ष उड़ान की टेक्निक को दोबारा इस्तेमाल करने की क्षमताओं का परीक्षण कर रहा है. रिपोर्ट में यह कहा गया है कि चीन इस तकनीक का इस्तेमाल शां​ति से अंतरिक्ष में करेगा. जाहिर है कि इस तकनीक के साथ चीन अंतरिक्ष के क्षेत्र में बड़ी छलांग लगाने की तैयारी कर रहा है.



ये भी पढ़ें: भारत-चीना सीमा विवाद पर डोनाल्ड ट्रंप बोले, हालत बहुत गंभीर, हम मदद को तैयार
डोनाल्ड ट्रंप ने कहा-भारत के पास मोदी जैसा शानदार नेता है, भारतीय-अमेरिकी मुझे ही वोट करेंगे 

शादीशुदा शिक्षिका ने 15 वर्षीय छात्र से किया सेक्स, कहा- मैं गर्भवती हो गई

अमेरिकी यूनिवर्सिटी ने चीनी स्कॉलर्स को किया टर्मिनेट, कहा- जल्द लौट जाएं अपने वतन 

PHOTOS: दुनिया के इन देशों की जनता सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतर आई है

हांगकांग के साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट ने सोशल मीडिया पर जारी अपनी रिपोर्ट में दावा किया कि इस मिशन को पूरी तरह गुप्त रखा गया है. प्रक्षेपण के दौरान मौजूद वैज्ञानिकों और अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए गए थे कि वह न तो प्रक्षेपण का वीडियो बनाएंगे और न ही कोई तस्वीर लेंगे. इस बारे में कहीं भी किसी तरह की चर्चा से भी उन्हें रोका गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज